"कर्कोटा वंश": अवतरणों में अंतर

नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
6 बाइट्स जोड़े गए ,  1 वर्ष पहले
सम्पादन सारांश नहीं है
छो (Arpit kayasth Saxena (Talk) के संपादनों को हटाकर Aswani1976 के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया)
टैग: वापस लिया
No edit summary
टैग: Reverted मोबाइल संपादन मोबाइल वेब संपादन
{{विकिफ़ाइ|date=जून 2017}}
{{स्रोतहीन|date=जून 2017}}
===कार्कोट (598 ई - 855 ई)=== :-
 
कार्कोट कायस्थ क्षत्रिय राजवंश की स्थापना दुर्र्लभवर्धन (598 CE) ने की थी। दुर्र्लभवर्धन गोन्दडिया वंश के अंतिम राजा बालादित्य के राज्य में अधिकारी थे। बलादित्य ने अपनी बेटी अनांगलेखा का विवाह कायस्थ जाति के एक सुन्दर लेकिन गैर-शाही व्यक्ति दुर्र्लभवर्धन के साथ किया था।
गुमनाम सदस्य

नेविगेशन मेन्यू