"सूर्यसिद्धान्त": अवतरणों में अंतर

नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
No edit summary
 
====ग्रहों की चाल ====
;भगण
 
- 12 राशियो का एक भगण होता है ।
- एक महायुग मे बुध कि भगण संख्या – 17937060,
 
- एक महायुग मे गुरु किकी भगण संख्या – 364220
 
- एक महायुग मे शुक्र किकी भगण संख्या – 7022376
 
- एक महायुग मे शनि किकी भगण संख्या – 146568
 
- चंद्र किकी भगण संख्या – 488203
 
- राहु-केतु किकी विपरीत गति से भगणोभगणों कि – 232236 संख्या होती है ।
 
- एक महायुग मे नक्षत्रो की भगण संख्या – 1582237828 होती है ।
 
- नाक्षत्र भगण मे से ग्रहो के अपने अपने भगण घटाने पर शेष्‍शेष ग्रहों के सावन दिन होते है
- एक महायुग मे नक्षत्रो कि भगण संख्या – 1582237828
 
- एक महायुग मे सुर्य और चंद्रमा के भगणों के अंतर के समान चांद्रमास होते है ।
होती है ।
 
- युग चांद्रमास से युग सुर्य मास घटाने पर अधीमासअधिमास मिलता है ।
- नाक्षत्र भगण मे से ग्रहो के अपने अपने भगण घटाने पर शेष्‍ ग्रहों के सावन दिन होते है
 
- एक महायुग मे सुर्य और चंद्रमा के भगणों के अंतर के
 
समान चांद्रमास होते है ।
 
- युग चांद्रमास से युग सुर्य मास घटाने पर अधीमास मिलता है ।
 
- एक महायुग में 1577917828 सावन दिन होते है ।

नेविगेशन मेन्यू