"गतिप्रेरक" के अवतरणों में अंतर

Jump to navigation Jump to search
136 बैट्स् जोड़े गए ,  10 माह पहले
Rescuing 1 sources and tagging 0 as dead.) #IABot (v2.0.1
छो (बॉट: पुनर्प्रेषण ठीक कर रहा है)
(Rescuing 1 sources and tagging 0 as dead.) #IABot (v2.0.1)
 
[[चित्र:Pacemaker GuidantMeridianSR.jpg|thumb|right|एक पेसमेकर, स्केल के संग आकार का अनुमान लगाने हेतु]]
[[चित्र:St Jude Medical pacemaker with ruler.jpg|right|thumb|एक कृत्रिम पेसमेकर अन्तर्शिरा भेदन हेतु।]]
'''गतिप्रेरक''' ([[अंग्रेज़ी भाषा|अंग्रेज़ी]]:''पेसमेकर'') एक ऐसा छोटा उपकरण है, जो [[होमो सेपियन्स|मानव]] [[हृदय]] के साथ ऑपरेशन कर लगाया जाता है और मुख्यतः ह्रदय गति को नियंत्रित करने में मदद करता है। इसके द्वारा किये गये प्रमुख कार्यों में ह्रदय गति को उस समय बढ़ाना, जब यह बहुत धीमी हो एवं उस समय धीमा करना, जब यह बहुत तेज़ हो आते हैं। इनके अलावा हृदय गति के अनियमित होने की दशा में ह्रदय को नियन्त्रित रूप से धड़कने में मदद भी करता है। पेसमेकर को सर्जरी के द्वारा छाती में रखा जाता है। लीड नामक तारों को ह्रदय की मांसपेशी में डाला जाता है। बैटरी वाला यह उपकरण कंधे के नीचे त्वचा के भीतर रखा जाता है।<ref name="ऑनलाइन">[http://www.heartonline.in/pacemakerimplantation.html पेसमेकर (गतिप्रेरक)] {{Webarchive|url=https://web.archive.org/web/20100627043551/http://heartonline.in/pacemakerimplantation.html |date=27 जून 2010 }}। हार्ट ऑनलाइन</ref> इसे लगाने के ऑपरेशन उपरांत रोगी को घर ले जाने के लिये परिवार का कोई वयस्क सदस्य या मित्र उसके साथ आना चाहिए। रोगी के लिये उस समय वाहन चलाना या अकेले वापस जाना सुरक्षित नहीं है। रोगी को अपनी शल्य-क्रिया के बाद पहले दिन किसी वयस्क को घर मे अपने साथ ठहराना चाहिये। इसकी सर्जरी में १-२ घंटे लगते हैं। एक ऐसा ही पेसमेकर उन लोगों के मस्तिष्क के लिए भी बनाया गया है, जिनके हाथ पैर ठीक से काम नहीं करते हैं।<ref>[http://www.dw-world.de/dw/article/0, 5329102,00.html दिमाग़ के लिए भी पेसमेकर]। डी.डब्लु-वर्ल्ड। ७ मार्च २०१०। राम यादव</ref>
 
== स्थापन ==
1,08,017

सम्पादन

दिक्चालन सूची