"मानव कौल" के अवतरणों में अंतर

Jump to navigation Jump to search
1,115 बैट्स् जोड़े गए ,  1 वर्ष पहले
छो
छो (बॉट: पुनर्प्रेषण ठीक कर रहा है)
}}
 
'''मानव कौल''' ([[अंग्रेज़ी भाषा|अंग्रेजी]] :'''Manav Kaul''') (जन्म १९७६) एक [[भारतीय]] [[फ़िल्म]] <ref>{{cite news|author=Anupama Raju |url=http://www.thehindu.com/features/friday-review/theatre/moments-of-spontaneity/article541909.ece |title=Moments of spontaneity |work=The Hindu |accessdate=१९ मार्च २०१६}}</ref> [[अभिनेता]] ,[[नाटककार]], लेखक तथा मंच निर्देशक है। इन्होंने १९९३ में सिनेमा जगत में कदम रखा था। २०१६ में '''मानव कौल''' को [[जय गंगाजल]] तथा [[वज़ीर (फ़िल्म)|वज़ीर]] जैसी फ़िल्मों में कार्य करने का मौका मिला। <ref>{{cite news|author=Aishwarya Gupta |url=http://www.tehelka.com/hindi-theatre-is-not-dying-and-an-art-form-does-not-need-your-pity/ |title=Hindi theatre is not dying |work=Tehelka |date=१९ मार्च २०१६}}</ref> इनके अलावा ये [[काय पो छे!]] फ़िल्म में भी कार्य कर चुके है। <ref>{{cite news|author=Vikram Phukan |url=http://www.filmimpressions.com/stage/2012/11/essay-the-nature-of-applause.html |title=The nature of applause |publisher=Stage Impressions}}</ref><ref>{{cite news|author=Deepa Gahlot |url=http://www.filmimpressions.com/stage/2010/09/interview-manav-kaul.html |title=Accidental playwright |publisher=Stage Impressions}}</ref><ref>{{cite news|author=Deepa Punjani |url=http://www.mumbaitheatreguide.com/dramas/reviews/skpd.asp |title=Reviews |publisher=Mumbai Theatre Guide}}</ref><ref name="Yellow">{{cite news|url=http://www.dnaindia.com/entertainment/report-whizzing-past-on-the-yellow-scooter-1209361 |title=Whizzing past on the yellow scooter |work=Daily News and Analysis |date=25 November 2008}}</ref><ref>{{cite news|url=http://www.deccanherald.com/content/226845/grains-reality.html |title=Grains of reality |work=Deccan Herald |date=14 February 2012}}</ref><ref>{{cite news|url=http://pratilipi.in/2009/10/five-grains-of-sugar-manav-kaul/ |title=Five Grains of Sugar: Manav Kaul |publisher=Pratilipi |date=१९ मार्च २०१६}}</ref>
 
इसके साथ में इनकी 5 किताबें भी प्रकाशित हो चुकी हैं जिसमे 2 कहानी संग्रह हैं, 1 ना कहानी ना कविता है, एक यात्रा व्रतांत है और एक अंग्रेजी रूपांतरण है इन्हीं की किताब ठीक तुम्हारे पीछे का।
 
=== प्रकाशित किताबें ===
 
# ठीक तुम्हारे पीछे - 2017 (कहानी संग्रह)
# प्रेम कबूतर - 2018 (कहानी संग्रह)
# तुम्हारे बारे में - 2018 (ना कहानी ना कविता)
# A night in the hills - 2019 (कहानी संग्रह, ठीक तुम्हारे पीछे का अंग्रेजी रूपांतरण)
# बहुत दूर कितना दूर होता है (यात्रा व्रतांत)
 
 
==सन्दर्भ==
2

सम्पादन

दिक्चालन सूची