"पर्यायवाची" के अवतरणों में अंतर

नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
2,41,165 बैट्स् जोड़े गए ,  2 वर्ष पहले
सम्पादन सारांश रहित
छो ("पर्यायवाची" सुरक्षित किया गया।: अत्यधिक चुहुलबाज़ी वाले बदलाव ([संपादन=केवल स्वतः स्थापित सदस्यों को अनुमति दें] (हमेशा) [स्थानांतरण=केवल स्वतः स्थापित सदस्यों को अनुमति दें] (हमेशा)))
No edit summary
 
[[सूर्य]] के पर्यायवाची शब्द - दिनकर, दिवाकर, भानु, भास्कर, आक, आदित्य, दिनेश, मित्र, मार्तण्ड, मन्दार, पतंग, विहंगम, रवि, प्रभाकर, अरुण, अंशुमाली और सूरज भगत।
 
==महत्वपूर्ण पर्यायवाची शब्द==
 
• अतिथि- मेहमान, अभ्यागत, आगन्तुक, पाहूना।
• अलंकार- आभूषण, भूषण, विभूषण, गहना, जेवर।
• अहंकार- दंभ, गर्व, अभिमान, दर्प, मद, घमंड, मान।
• अहंकारी- गर्वित, अकडू, मगरूर, अकड़बाज, गर्वीला, आत्माभिमानी, ठस्सेबाज, घमंडी।
• अनुपम- अपूर्व, अतुल, अनोखा, अनूठा, अद्वितीय, अदभुत, अनन्य।
• अर्थ- हय, तुरङ, वाजि, घोडा, घोटक।
• अमृत- सुरभोग सुधा, सोम, पीयूष, अमिय, जीवनोदक ।
• अग्नि- आग, ज्वाला, दहन, धनंजय, वैश्वानर, रोहिताश्व, वायुसखा, विभावसु, हुताशन, धूमकेतु, अनल, पावक, वहनि, कृशानु, वह्नि, शिखी।
• असुर-यातुधान, निशिचर, रजनीचर, दनुज, दैत्य, तमचर, राक्षस, निशाचर, दानव, रात्रिचर।
• अश्व- हय, तुरंग, घोड़ा, घोटक, हरि, तुरग, वाजि, सैन्धव।
• अंधकार- तम, तिमिर, तमिस्र, अँधेरा, तमस, अंधियारा।
• अतिथि- मेहमान, अभ्यागत, आगन्तुक, पाहूना।
• अर्थ- धन्, द्रव्य, मुद्रा, दौलत, वित्त, पैसा।
• अरण्य- जंगल, वन, कानन, अटवी, कान्तार, विपिन।
• अनी- कटक, दल, सेना, फौज, चमू, अनीकिनी।
• अनादर- अपमान, अवज्ञा, अवहेलना, अवमानना, परिभव, तिरस्कार।
• अंग- अंश, अवयव, हिस्सा, संघटक, घटक, उपादान, खंड, भाग, टुकड़ा, शरीर, तन, देह, गात, गात्र।
• अभिमान- अस्मिता, अहं, अहंकार, अहंभाव, अहम्मन्यता, आत्मश्लाघा, गर्व, घमंड, दर्प, दंभ, मद, मान, मिथ्याभिमान।
• अंजाम- नतीजा, परिणाम, फल।
• अंत- समाप्ति, अवसान, इति, इतिश्री, समापन।
• अंतर- भिन्नता, असमानता, भेद, फर्क।
• अंकुश- नियंत्रण, पाबंदी, रोक, अंकुसी, दबाव, गजांकुश, हाथी को नियंत्रित करने की कील, नियंत्रित करने या रोकने का तरीका।
• अंदर- भीतर, आंतरिक, अंदरूनी, अभ्यंतर।
• अंदाज- अंदाजा, अटकल, कयास, अनुमान।
• अंधा- सूरदास, आँधरा, नेत्रहीन, दृष्टिहीन।
• अंतरिक्ष- खगोल, नभमंडल, गगनमंडल, आकाशमंडल।
• अंतर्धान- गायब, लुप्त, ओझल, अदृश्य।
• अंबुज- कमल, पंकज, नीरज, वारिज, जलज, सरोज, पदम।
• अंबुद- मेघ, बादल, घन, घनश्याम, अंबुधर, घटा।
• अंबर- आकाश, आसमान, गगन, फलक, नभ।
• अंबु- जल, पानी, नीर, क्षीर, सलिल, वारि।
• अंशुमान- सूरज, सूर्य, रवि, दिनकर, दिवाकर, प्रभाकर, भास्कर।
• अकड़बाज- ऐंठू, गर्वीला, घमंडी, अकड़ूखाँ, अहंकारी।
• अकिंचन- गरीब, निर्धन, दीनहीन, दरिद्र।
• अंबुनिधि- समुंदर, सागर, सिंधु, जलधि, उदधि, जलेश।
• अंशु- रश्मि, किरन, किरण, मयूख, मरीचि।
• अखिलेश्वर- ईश्वर, परमात्मा, परमेश्वर, भगवान, खुदा।
• अगम- दुष्कर, कठिन, दुःसाध्य, अगम्य।
• अच्छा- बढ़िया, बेहतर, भला, चोखा, उत्तम।
• अकृतज्ञ- अहसान- फ़रामोश, बेवफा, नमकहराम।
• अक्ल- प्रज्ञा, मेधा, मति, बुद्धि, विवेक।
• अड़ंगा- बाधा, रुकावट, विघ्न, व्यवधान।
• अतीत- भूतकाल, विगत, गत, भूत।
• अजनबी- अनजान, अपरिचित, नावाकिफ।
• अजीब- अदभुत, अनोखा, विचित्र, विलक्षण।
• अटल- अविचल, अडिग, स्थिर, अचल।
• अधीन- मातहत, आश्रित, पराश्रित, परवश, परतंत्र।
• अधीर- आतुर, धैर्यहीन, व्यग्र, बेकरार, उतावला।
• अध्ययन- पठन-पाठन, पढ़ना, पढ़ाई, पठन।
• अत्याचारी- जालिम, आततायी, नृशंस, बर्बर।
• अदालत- कचहरी, न्यायालय, दंडालय।
• अनाज- अन्न, गल्ला, नाज, खाद्यान्न।
• अनाड़ी- अकुशल, अनभिज्ञ, अपटु।
• अनाथ- तीम, लावारिस, बेसहारा, अनाश्रित।
• अनपढ़- निरक्षर, अशिक्षित, अपढ़।
• अनमोल- अमूल्य, बहुमूल्य, बेशकीमती।
• अनुभवी- तजुर्बेकार, जानकार, अनुभवप्राप्त।
• अनुमति- इजाजत, सहमति, स्वीकृति, अनुमोदन।
• अनुरोध- विनय, विनती, आग्रह, प्रार्थना।
• अनिवार्य- अत्यावश्यक, अपरिहार्य, अवश्यंभावी, परमावश्यक।
• अनुज- छोटा भाई, अनुभ्राता, अवरज, कनिष्ठ।
• अपवित्र- अशुद्ध, नापाक, अस्वच्छ, दूषित।
• अफवाह- गप्प, किंवदंती, जनश्रुति, जनप्रवाद।
• अनूठा- अदभुत, अनोखा, विलक्षण, अपूर्व।
• अन्न- अनाज, गल्ला, नाज, दाना।
• अपराधी- गुनहगार, कसूरवार, मुलजिम।
• अमन- शांति, सुकून, सुख-चैन, अमन-चैन।
• अमर- चिरंजीवी, अनश्वर, अजर-अमर।
• अमीर- धनी, मालदार, रईस, दौलतमंद, धनवान।
• अभद्र- असभ्य, अविनीत, अकुलीन, अशिष्ट।
• अभिनंदन- स्वागत, सत्कार, आवभगत, अभिवादन।
• असत्य- झूठ, मिथ्या, मृषा, अवास्तविक, काल्पनिक, बनावटी, जाली, कृत्रिम, कृतक खोटा, असत।
• असभ्य- गँवार, असंस्कृत, अशिष्ट, अभद्र, अविनीत, दुःशील, कुशील, अकुलीन, हीनाचार, असौम्य, अननुग्रही, उजड्ड।
• अर्चना- आराधना, पूजा, पूजन, अर्चन।
• अलि- भौंरा, मधुकर, भ्रमर, भृंग, मिलिंद, मधुप, अलिंद।
• अंकन- अनुरेखन, प्रत्यंकन, अनुरेखण, रेखानुरेखण, अक्स बनाना, खाका बनाना, लेखन।
• अँकाई- मूल्यांकन, अंदाजा, आँकने की क्रिया।
• अँकुर- अँखुआ, आँख, कोंपल, कलिका, नोक, प्ररोह, कनखा, भराव, उपरोपिका, किसलय, नवपल्लव।
• अंगज- बेटा, लड़का, सुत, सुवन, आत्मज, तनुज, तनय, नन्दन, लाल, पुत्र, रोम, केश, बाल।
• अहि- साँप, नाग, फणी, फणधर, सर्प।
• अंक- संख्या, नंबर, आँकड़ा, निशान, चिन्ह, छाप, गोद, अंकवार, आँक, दाग, धब्बा।
• अंगद- बाजूबंद, भुजबंध, बालिपुत्र, बालिकुमार, तारेय, बालितनय।
• अँगना- कामिनी, वामा, सुंदरी, सुमुखी।
• अंग-भंग करना- अपंग करना, विकलांग करना, अंगहीन करना, हाथ-पैर काट देना, मोहित करने के निमित, स्त्री की कटाक्ष क्रिया।
• अंगजा- बेटी लड़की, सुता, आत्मजा, तनुजा, तनया, नंदिनी, दुहिता, पुत्री।
• अँगड़ाई- आलस्य दूर करने के लिए शरीर को खींचना, मोड़ना, चेतन होने के लिए उपक्रम करना।
• अंगी- मुख्य, प्रमुख, प्रभावकारी, रस प्रमुख भाव।
• अंगीकरण- स्वीकार, स्वीकारोक्ति आत्म-स्वीकृति, कबूल करना, अंगीकार, मंजूर।
• अंगार- चिनगारी, अँगारा, दहकता हुआ कोयला, धुँआरहित कोयला।
• अंगिया- वक्ष-स्थल को ढँकने के लिए स्त्रियों द्वारा प्रयुक्त अंतर्वस्त्र, बॉडिस, चोली, कुरती, कंचुकी।
• अंगूर- दाख, किशमिश, द्राक्षा।
• अँगोछा- गमछा, तौलिया, उपवस्त्र।
• अंग्रेज- फिरंगी, गोरा, आंग्लदेशी।
• अंगीठी- प्रतप्त कोयलों का समूह रखने को एक पात्र, बोरसी, आतिशदान, सिगड़ी।
• अँगूठी- मुद्रा, मुँदरी, छल्ला, मुद्रिका, अंगुष्ठिका, अंगुलीमुद्रा, अंगुश्तरी।
• अंजन- सुरमा, काजल, आँजन, काजल।
• अंजुमन- संघ, सभामण्डली, सभायोजन, संगठन।
• अँटसँट- अंडबंड, अव्यवस्थित, अनावश्यक, अनुपयुक्त, ऊटपटांग।
• अंचल- आँचल, पल्ला, पल्लू, छोर, सीमा प्रदेश (सीमांत) क्षेत्र, किनारा, तट।
• अँतड़ी- आँत, अंतड़ी, अन्त्र।
• अंतःपुर- जनानखाना, रनिवास, हरमखाना, महल के भीतर स्त्रियों के रहने की जगह।
• अंड- अंडा, डिंबा, अंडकोश, फोता।
• अंतःकरण- अंतर्मन, अंतरात्मा, हृदय, मन।
• अंतर्द्वद्व- मानसिक संघर्ष, दुविधा।
• अंतर्धान- ओझल, गायब, लुप्त, अदृश्य।
• अंतर्हित- अदृश्य, छिपा हुआ, गायव, लुप्त, गुप्त, तिरोहित।
• अंतर्गत- शामिल, सम्मिलित, भीतर आया हुआ गुप्त।
• अंतर्दृष्टि- ज्ञानचक्षु, सूझ, आत्मचिन्तन।
• अंधेरी रात- तमी, तामसी, तमस्विनी, श्यामा।
• अंब- अंबा, माता, जननी।
• अंबार- ढेर, राशि।
• अंदेशा- सोच, चिन्ता, फिक्र, खटका, भय, खतरा, भास, सन्देह, आशंका, दुविधा, असमंजस, पसोपेश।
• अंधकारमय- तमोमय, तमाच्छादित तिमिरावृत्त।
• अँधेर- अँधेरखाता, धाँधली, अन्याय, बेइंसाफी, अशांति, विप्लव।
• अकड़- ऐंठ, तनाव, अभिमान, घमंड, शेखी, घृष्टता, ढिठाई।
• अकड़ जाना- कठोर हो जाना, पथरा जाना, ऐंठ जाना।
• अकथ- अनिर्वाच्य, अवाच्य, अवचनीय, अकथ्य, वर्णनातीत, अवर्णनीय।
• अंबिका- माता, माँ, पार्वती, देवी, दुर्गा, देवकन्या, अंबाष्ठालता।
• अंश- हिस्सा, भाग, अवयव, खंड टुकड़ा, अंश की भिन्न की रेखा से ऊपर संख्या।
• अकारण- बेमतलब, बेबात, बेवजह, बेसबब, नाहक, कारणरहित, निष्प्रयोजन।
• अकारथ- बेकार, व्यर्थ।
• अकाल- दुर्भिक्ष, भुखमरी, कुसमय, काल, दुष्काल, महँगी, मूल्यवृद्धि, तेजी।
• अकल्याण- अशुभ, अमंगल, अहित, अनिष्ट, खराबी, हानि।
• अकस्मात- अचानक, सहसा, तत्क्षण, संयोगवश, अकारण, अनायास, दैवयोग, यकायक, हठात, एकाएक, एकदम।
• अकेलापन- एकांतिकता, एकांतवास, एकाकीपन, विविक्ता।
• अक्खड़- अनौपचारिक, घृष्ट, नियम विरुद्ध, शिष्टाचार विहीन, गैररस्मी, बेतकल्लुफ।
• अक्षर- वर्ण, हरुफ, अविनाशी।
• अकुलाना- आकुल होना, घबराना, व्याकुल होना, अधीर होना, ऊबना, उकताना।
• अकेला- एकाकी, तनहा, एकमात्र, अद्वितीय, अनन्य, अकेले-अकेले, अकेले-दम।
• अखंडता- सततता, निरंतरता, अविच्छेदता, अविच्छिन्नता, अछिन्नता, पूर्णता।
• अखरना- बुरा लगना, अप्रिय लगना, कष्टदायी लगना, दुःखदायी लगना, खलना।
• अखाड़ा- मंडली, मठ, व्यायाम- शाला, मल्लयुद्ध करने का स्थान, तमाशा दिखाने वाले या नाच-गान करने वालों का जमावड़ा, साधुओं की मण्डली।
• अकसर- प्रायः, बहुधा, अधिकतर, प्रायशः, अधिकांशतः।
• अखंड- पूरा, समूचा, पूर्ण, अविभक्त, अजस्र, निरंतर, लगातार, अक्षय, अक्षुण्ण।
• अगड़म- बगड़म-प्रकाष्ठ, निरर्थक पदार्थ, काठ-कबाड़, बेकार की चीज, अंगड़-खंगड़।
• अगणित- असंख्य, बेशुमार, अनगिनत, अनंत, अपार, अमित, अपरिमित, असीम, निस्सीम।
• अगम, अगम्य- कठिन, दुर्बोध, मुश्किल, दुश्वार, अज्ञेय, अथाह, गहरा, अपार, विकट, बहुत अधिक।
• अगर- यदि, जो, यद्यपि, अगरचे।
• अखिल- पूरा, समूचा, संपूर्ण, अखंड, अक्षय, अक्षुण्ण।
• अख्तियार- अधिकार, वश, प्रभुत्व, सामर्थ्य।
• अगला- अग्र, अग्रवर्ती, सामने का, पहले वाला, आगे आने वाला, पहला, प्रथम।
• अगस्त्य- शिव, तीर्थ, दक्षिण का एक प्रसिद्ध तीर्थ, एक ऋषि का नाम, वृक्ष।
• अगाध- अथाह, गहरा, अज्ञेय, दुर्बोध, अपार, असीम, बहुत।
• अगर-मगर (करना)- टालमटोली करना, टालना।
• अगल-बगल- आसपास, आजु-बाजू, निकट।
• अगोचर- अप्रकट, अव्यक्त, इंद्रियातीत, अप्रत्यक्ष, अप्रकाशित, अप्रकाशमान, गुप्त, ईश्वर।
• अगोरना- रखवाली करना, पहरा देना, रखाना, चौकीदार करना, यत्न से रखना, प्रतीक्षा करना, इंतजार करना, बाट देखना।
• अगुआ- अग्रणी, मुखिया, नेता, सरदार, नायक, प्रधान, मार्गदर्शक, पुरोगम, पुरोधा, विवाह सम्बन्ध ठीक करने वाला।
• अग्नि संताप- संज्वर, संताप, दाह, झुलस, जलन।
• अग्र- आगा, अग्रभाग, सिरा, नोक, श्रेष्ठ, उत्तम, प्रधान, प्रमुख, मुख्य, अगला, आगामी।
• अग्रगण्य- प्रधान, प्रमुख, मुख्य, प्रथम, पहला, प्रसिद्ध, विख्यात, मशहूर, नामवर।
• अग्निकण- स्फुल्लिंग, चिनगारी।
• अग्निकांड- अग्निदाह, प्रचंड अग्नि, दीपन, ज्वलन, प्रचंड ज्वाला, प्रज्वलन।
• अग्निज्वाला- ज्वाला, शिखा, अग्निशिखा, भस्मनी, लूक, लुकारी, लपट, लौ।
• अग्रसूचना देना- पूर्वाभास देना, पूर्वज्ञान कराना, पूर्व चिन्ह बताना, पूर्व लक्षण बताना।
• अग्राह्य-अनुचित, अनुपयुक्त, अस्वीकार्य, अमान्य।
• अघाना- तृप्त होना, पेट भरना, संतुष्ट हो जाना, छकना, पूर्ण हो जाना, जी भर जाना।
• अचंभा- चकित, सन्न, आश्चर्य, ताज्जुब, विस्मय, हैरानी।
• अग्रज- बड़ा भाई, बड़भ्राता, अगुआ, नेता, नायक।
• अग्रणी- नायक, नेता, मार्गदर्शक, अगुआ, प्रधान, प्रमुख, मुख्य।
• अचवना- मुँह धोना, कुल्ली करना, आचमन करना, अचवन करना।
• अचानक- एकाएक, एकबारगी, सहसा, अकस्मात, यक-ब-यक, अनायास, हठात्, दैवयोग से, संयोग से, संयोगवश, अप्रत्याशित रूप से, आकस्मिक रूप से, अनजाने ही।
• अचिर- तुरन्त, बिना देरी के, फौरन।
• अचल- अविचल, अटल, अडिग, निश्चल, दृढ, स्थिर, अटूट।
• अचला- धरती, पृथ्वी, मेदिनी, भूमि।
• अचेत- मूर्च्छित, बेहोश, विकल, विह्वल, असावधान, अनजान, बेखबर, नासमझ, मूर्ख, जड़।
• सबसे अच्छा- श्रेष्ठ, उत्तम, अत्युत्तम, सर्वश्रेष्ठ, सर्वोत्तम।
• अच्छा लगना- प्रिय लगना, भाना, पसंद आना, सुहाना, रुचना, नजर में चढ़ना, जँचना, फबना, सजना, शोभा देना।
• अचीन्हा- बे पहिचाना, अनजान।
• अचूक- अमोघ, अनिष्फ़ल, (साधन, औषध आदि के सन्दर्भ में लाक्षणिक प्रयोग) रामबाण, ब्रह्ममास्त्रा।
• अजस्र- लगातार, निरन्तर, सिलसिलेवार, क्रमिक।
• अजिर- आँगन, सेहन, हवा वायु, पवन, वात।
• अजीर्ण- अपच, बदहजमी।
• अज्ञ- मूर्ख, अज्ञानी, बेवकूफ, नासमझ।
• अच्छा न लगना- बुरा लगना, अखरना, खलना, चुभना, सालना, एक आँख न भाना, फूटी आँख न भाना।
• अछूत- अस्पृश्य, हरिजन, अंत्यज, अनुसूचित जातीय।
• अजय- पराजय, हार।
• अटकल- अनुमान, अंदाज, कूत।
• अटकाना- रोकना, ठहराना, टिकाना, अड़ाना, छेकना, रुकावट डालना, फँसाना, उलझाना, गति रोकना, अवरोध करना।
• अटना- समाना, भर जाना, भरना, पर्याप्त होना।
• अज्ञान- जड़ता, मूर्खता, अविद्या, मोह, अविवेक।
• अज्ञानी- निर्बुद्धि, अनभिज्ञ, अज्ञ, मूढ़, अनजान, मूर्ख, बेवकूफ, नासमझ।
• अटकना- अड़ना, रुकना, फँसना, बझना, रुकावट पड़ना, बाधा पड़ना, टिकना, ठहरना।
• अटूट- अखण्ड, निरन्तर, अचल, दृढ़, अटल।
• अणु- कण, छोटा टुकड़ा, रज, रजकण।
• अण्डाकार- दीर्घवृत्तीय, दीर्घवृत्ताकार, अण्डवृत्ताकार।
• अटल- स्थिर, अचल, अडिग, अविचलित, चिरस्थायी, पक्का, दृढ, धुव्र, निश्चित, अवश्यम्भावी, नियत, स्थायी, निश्चल, अचर, कृत संकल्प, दृढ़ संकल्प, दृढ़ प्रतिज्ञ, दृढ़ निश्चय, स्थिरमति, हठी, नित्य, अक्षय, शाश्वत, अमर।
• अतिक्रमण- संक्रामण, अतिचरन, उत्क्रमण, अतिचार, अवज्ञा उल्लघंन।
• अतिरिक्त- सिवाय, अलावा, भिन्न, अलग पृथक, विभिन्न, जुदा, न्यारा।
• अतिसार- उदरामय, अतीसार, पेचिश।
• अति- बहुत अधिक, अतिशय, अतीव, अत्यधिक, अतिमात्रा, ज्यादा, अनेक, असंख्य, अपार, अपरिमित, असीम, बेशुमार, बेहद, परम, विपुल, निपट, अधिकता, ज्यादती, अनाचार।
• अतुल- अमित, असीम, अपरिमित, असमान, अनुपमेय।
• अत्यंत- अधिक, अतिशय, अत्यधिक, काफी, बेहद।
• अत्याचार- अन्याय, ज्यादती विरुद्धाचरण, शीलाघात, हिंसा, अनाचार, दुष्टता, व्यभिचार, पाप, दुराचार, बलात्कार, आडम्बर, पाखंड, ढकोसला।
• अतीत- भूत, गत, व्यतीत, पृथक, अलग, जुदा, विरक्त।
• अतीव प्रसन्नता- परमानन्द, हर्षातिरेक, हर्षोन्माद, अत्यानन्द, प्रहर्ष, मौज।
• अदब करना- श्रद्धा रखना, पूजा-भाव रखना, भक्ति-भाव रखना, सम्मान करना, आदर करना, इज्जत करना, शिष्टाचार।
• अदरक- आदी, आर्द्रक, शृंगवेर।
• अथाह- अगाध, गहरा, अतलस्पर्शी, अपरिमित, अपार, गंभीर, गूढ़, कठिन।
• अदद- गिनती, अंक, संख्या।
• अद्भुत- विचित्र, विलक्षण, आश्चर्यजनक, स्वर्गीय, विस्मयजनक, अनोखा, अप्रतिम, दिव्य, अनूठा, असांसरिक, निराला अपूर्व, अलौकिक, अपार्थिव, अतिप्राकृत, लोकातीत, अजीब, अजब।
• अद्वितीय- एकाकी, अकेला, एक, बेजोड़, असाधारण, अनुपम, विचित्र, विलक्षण, अद्भुत, अजीब, प्रधान, मुख्य।
• अदला-बदली- विनिमय, आदान-प्रदान, उलटफेर, हेरफेर, परिवर्तन।
• अदायगी- ऋण भुगतान, निपटाव, भुगतान, चुकती, भरपायी, वापसी, प्रतिदान, प्रत्यार्पण।
• अदृश्य- अलख, अगोचर, ओझल, अंतर्धान, तिरोहित, लुप्त, गायब, परोक्ष।
• अधार्मिक- धार्मिक मत विरोधी, धर्मविमुख, धर्मविरत, नास्तिक।
• अधिकता- बाहुल्य, बहुलता, बहुत्व, बहुविधता, विविधता, बहुरूपता, अनेकरूपता, विभिन्नता, प्राचुर्य, प्रचुरता, अनेकता, आधिक्य, वैपुल्य, विपुलता, पर्याप्ति, यथेष्टता, पुष्कलता, रेलपेल, अतिशयता, बहुतायत, उद्रेक, अतिरेक, अधिकाई, वृद्धि, स्फीति, प्रभूतता।
• अधम- निकृष्ट, निम्न, पतित, नीच, भ्रष्ट, हेय।
• अधर्म- विरुद्धाचरण, धर्मोल्लघंन, नीतिभंग, अपराध, कल्मष, दुरित, अघ, दोष, कुकर्म, पातक, अपकर्म, पाप, दुष्कर्म, दुराचार, अनाचार, पापकर्म, गुनाह।
• अधिकार क्षेत्र- अधिक्षेत्र, न्यायक्षेत्र, न्याय सीमा, अधिकार सीमा, अमलदारी, अस्तित्व क्षेत्र, प्रभाव क्षेत्र, कार्य क्षेत्र, कर्म क्षेत्र।
• अधिकार छोड़ना- स्वत्व त्यागना, हाथ उठा लेना, दावा हटा लेना, दावा छोड़ देना।
• अधिकारी- हकदार, दावेदार, स्वत्वधारी, स्वामी, कब्जेदार, अधिपति, प्रभु, सत्ताधारी, शासक, पदाधिकारी, अफसर, विज्ञ, पात्र, योग्य।
• अधिकांश- भूयिष्ठ, अत्यधिक, अतिशय, अधिकतम, बहुतम, ज्यादातर।
• अधिकार- प्रभुत्व, आधिपत्य, स्वत्व, स्वामित्व, दावा, हक, अखत्यार, वश, काबू, सत्ता, शासन, अधिकार, शक्ति, प्रभाव, क्षमता, सामर्थ्य, योग्यता।
• अधीनस्थ पदाधिकारी- उपाधिकारी, अधीनस्थ अभिकर्त्ता, सहायक कर्मचारी, निम्न पदाधिकारी, नायब अधिकारी, कनिष्ठ अधिकारी, उपाश्रित अधिकारी, पेशकार।
• अधेड़- प्रौढ़त्व, प्रौढ़ावस्था, पक्की उम्र।
• अधोलोक- पाताल, रसातल।
• अध्यक्ष- सभापति, प्राध्यक्ष, प्रधान, संचालक, प्रबंधक, अधिष्ठाता, नायक, प्रमुख, मुखिया, सरदार, चेयरमैन।
• अधिवक्ता- प्रतिनिधिवक्ता, मुखपात्र, पक्षवक्ता, वकील, नुमाइंदा।
• अधीनस्थ- अतिरिक्त, सहायक, निम्न पदस्थ, उपाश्रित।
• अनंत- असीम, बेहद, निस्सीम, अपरिमित, अविनाशी, नित्य, अक्षम, अक्षुण्ण, अमर, अतिशय, अधिक, अगणित, असंख्य, बहुत, बेशुमार, आकाश, आसमान, नभ, गगन।
• अनकहा- अव्यक्त, अनुक्त, गुप्त, अकथित, अध्वनित।
• अनगिनत- अगणित, संख्यातीत, असंख्य, अनगिनत, बेहद, बेशुमार, असीम।
• अनजान- अज्ञात, अपरिचित, अनभिज्ञ, भोला-भाला, नासमझ, नादान, सीधा, अज्ञ, अज्ञानी।
• अनदेखा- बिनदेखा, अदेखा।
• अध्ययन- पठन, पढ़ना, पढ़ाई, पारायण, अवलोकन, निरीक्षण, प्रेक्षण, पर्यवेक्षण, अनुशीलन, परिशीलन।
• अध्यापक- शिक्षक, गुरु, उस्ताद।
• अनमना- उदास, अन्यमनस्क, उन्मन, विमुख, विरक्त, उदास, गतानुराग, अन्यमनस्क।
• अनवरतता- नित्यता, लगातार, शाश्वतता, चिरन्तनता, चिरस्थायित्व, सनातनता, सातत्य, क्रमबद्धता, निरन्तरता, बिना रुके।
• अनाज- अन्न, धान्य, गल्ला, दाना, खाधन्न।
• अनन्तर- तदुपरांत, तत्पश्चात्, इसके पश्चात्, इसके बाद, उसकी पीछे, फिर।
• अनपढ़- मुर्ख, गँवार, अपढ़, अशिष्ट, अशिक्षित, उजड्ड, अक्खड़ जाहिल, निरक्षर।
• अनबन- मतभेद, वैमनस्य, विरोध, असहमति, झगड़ा, तकरार, विवाद, बखेड़ा, टंटा।
• अनादर करना- अवज्ञा करना, अपमान करना, उपेक्षा करना, तुच्छ समझना, अवहेलना करना, तिरस्कार करना, हेय समझना, निरादर करना।
• अनादरपूर्ण- निरादरपूर्ण, असम्मानपूर्ण, अपमानपूर्ण, अवमानी, अपेक्षामय, पराभवपूर्ण।
• अनाप-शनाप- अंटसंट, उटपटांग, अव्यवस्थित, बेहिसाब, अपरिमित, असीम, बेहद, निस्सीम।
• अनावश्यक- अनपेक्ष, निष्प्रयोजन, व्यर्थ, बेकार, अनपेक्षित, फिजूल, फालतू, गैर-लाजिमी, गैर-जरूरी, गौण।
• अनाज गोदाम- धान्यागार, धान्यकोष्ठ, कोठार, खत्ती, अन्नागार, अन्नभंडार, गल्ला- गोदाम।
• अनादर- अवहेलना, अवज्ञा, तिरस्कार, उपेक्षा, उपहास, अश्रद्धा, अवमान, अपमान, तौहीन, हिकारत, अपकर्ष, मानमर्दन, प्रतिष्ठा भंग, परिभव, पराभव, असम्मान।
• अनिवार्य गुण- सहज प्रवृति, नैसर्गिक प्रवृति, स्वाभाविक गुण, अपरिहार्य लक्षण, अत्यावश्यक गुण, भाव, निष्कर्ष।
• अनिश्चय- असमंजस, दुविधा, उलझन।
• अनिंद्य- अनिंदनीय।
• अनियत- कदाचित, विरला, यदा-कदा।
• अनियमित- अनियत, नियमविरुद्ध, बेकायदा, अनियमी, असमान।
• अनुकंपा- कृपा, दया, सहानुभूति।
• अनुकरण- नकल, देखादेखी, अनुसरण, अनुगमन, अनुवर्तन, अनुकृति, प्रतिकृति।
• अनुकूल- अनुसार, अनुरूप, मुआफिक, संगत, अविरुद्ध, पक्ष में अभिमत, सामंजस्यपूर्ण, हितकर, लाभदायक, कल्याणकार।
• अनिश्चित- अनिर्णयात्मक, अनिर्णीत, संदिग्ध, संशयात्मक, दोलायमान, विचारधीन, अनियमित, असंबद्ध, अनधिकृत, असंख्य, अगण्य, अस्पष्ट, अस्थिर, भ्रामक, संशयपूर्ण, शंकाकुल।
• अनिष्ट- बुरा, अनुचित, अशुभ, अहितकर, अमंगल, अकल्याण, अवांछित, अनभिष्ट।
• अनुचित- अनुपयुक्त, अवांछनीय, अयुक्तसंगत, युक्तहीन, असंगत, नामुनासिब, इष्टप्रतिकूल, बेजा, गैरमाकूल, नाजायज, गैरबाजिब, नीतिविरुद्ध, अनैतिक, असमीचीन, असमयोचित।
• अनुपम- उपमारहित, असाधारण, अप्रतिम, निरूपम, अपूर्व, अद्वितीय, बेजोड़, अतुल, बेनजीर, सुन्दर, बढ़िया, अच्छा, लाजवाब।
• अनुपस्थित- गैरमौजूदगी, गैरहाजिरी, अविद्यमानता, अभाव, कमी, रहित, शून्यता।
• अनुभव- तजुर्बा, अनुभूति, आपबीती, संवेदनशीलता, इंद्रियबोध क्षमता, इंद्रियबोध शक्ति, संवेदन, संवेदना।
• अनुकूलता- अनुयोज़्यता, अविरुद्धता, अनुरूपता, आनुकूल्य, अनुकूलनशीलता, अविमुखता।
• अनुकूल होना- अनुरूप होना, ऐक्य होना, एकमत होना, एकरूप होना।
• अनुरक्ति- अनुराग, प्रेम, स्नेह।
• अनुरूप- आनुषंगिक, सदृश, समरूप, समान, तुल्यरूप, समान, एकरूप, मिलता-जुलता।
• अनुभवहीन- अकुशल, अपटु, अनिपुण, अनाड़ी, अनभ्यस्त, अनुभवरहित।
• अनुभवी- कर्मप्रवीण, दक्ष, कुशल, निपुण, जानकार, तजुर्बेकार।
• अनुमान- अटकल, अंदाज, कयास, कूत, पूर्वानुमान, प्राक्कलन, मूल्यांकन, आकलन।
• अनुयायी- अनुगामी, मतावलंबी, समर्थक, नौकर, सेवक, अनुचर, चाकर, दास।
• अन्य- दूसरा, इतर, और अनंतर, बाद वाला।
• अन्यथा- वर्ना नहीं तो, और तरह, और कुछ।
• अनूठा- अनोखा, निराला, विलक्षण, अनुपम, बेजोड़।
• अनेक- विविध, नाना, कई, असंख्य, अगणित।
• अपकार- अहित, अमंगल, अनिष्ट, हानि, बुराई, अनुपकार, द्रोह, द्वेष, दुष्क्रिया, मंदकर्म।
• अपकर्ष- अवनति, अधोगति, घटाव, उतार, पतन, अधोपतन।
• अनोखा- विलक्षण, विचित्र, असाधारण, अद्भुत, निराला, अजीब, विस्मयजनक, आश्चर्यजनक, अलौकिक, अपूर्व, अद्वितीय, अप्रतिरूप, अनूठा, बेजोड़, चमत्कारिक।
• अपनापन- स्वत्व, निजीपन, व्यक्तिगत, अपनत्व, आत्मीयता।
• अपने आप- स्वयं, स्वमेव, स्वतः, खुद-ब-खुद, अनायास, बेसाख्ता, बरबस, बेअख्तियार, हठात, यंत्रवत।
• अन्वेषण- जाँच, खोज, अनुसंधान अन्वेषण।
• अपराध- दुष्कर्म, गुनाह, गलती, दोष, पाप, कसूर, खता, जुर्म।
• अपशकुनी- अपशाकुनिक, अनिष्टशंसी, अनष्टिकारी, अमंगलसूचक।
• अपढ़ आदमी- अशिक्षित व्यक्ति, निरक्षर व्यक्ति, निरक्षर भट्टाचार्य, अप्रबुद्ध व्यक्ति।
• अभिप्राय- तात्पर्य, आशय, विचार, मंतव्य, उद्देश्य, ध्येय, लक्ष्य, प्रयोजन, इरादा, नीयत, मंशा, मुराद, अभिलाषा, इच्छा, आकांक्षा, स्पृहा, कामना।
• अभिमन्यु- सौभद्र, पार्थनंदन, पाण्डुपौत्र।
• अपनाना- स्वीकार करना, ग्रहण करना, आत्मसात् करना, कबूल करना, अख्तियार करना, अंगीकार करना, अपना बनाना, आत्मीयता स्थापित करना, गले लगाना, कलेजे से लगाना, आश्रय देना।
• अप्रसन्न- नाराज, उदास, दुःखी, विरक्त, अन्यमनस्क, खिन्न, म्लान, असंतुष्ट।
• अप्रसन्नता- खिन्नता, म्लानता, नाराजगी, रंजीदगी, असंतोष, उदासी।
• अप्रिय- अवांछनीय, बुरा, प्रतिकूल, अचारू, बेमजा, नागवार, अरुचिकर, अनचाहा, अप्रीतिकर, विरक्तिजनक, घृणास्पद।
• अपमानजनक- निरादरपूर्ण, तिरस्कारपूर्ण, उपेक्षापूर्ण, घृणास्पद, पराभवपूर्ण।
• अपयश- अपकीर्ति, अयश, अकीर्ति, अपवाद, निन्दा।
• अब- इस समय, अभी, आज, संप्रति, आजकल, इन दिनों, आगे भविष्य में।
• अभागा- हतभाग्य, बदनसीब, भाग्यहीन, अभाग्यशाली, मनहूस, बदकिस्मत, मंदभाग्य, दुःखापन्न।
• अभाव-कमी, तंगी, टोटा, हीनता, क्षीणता।
• अपहरण- हर लेना, छीन लेना, जबरदस्ती उठा ले जाना, अगवा।
• अभिवादन- नमस्कार, प्रणाम, सलाम, वंदना।
• अभेद्य- अकाट्य, अखंडनीय, अटूट, दृढ़, दुर्मेध।
• अभ्यास- बार-बार, अनुशीलन, पुनरावृत्ति, मश्क, दोहराव, रियाज, स्वभाव, आदत, बान, टेव।
• अमरूद- पेरुक, अमृतफल, बिही, सफरी।
• अफ़सोस- दुःख, खेद, विषाद, शोक, पश्चाताप, गम, म्लानि।
• अमानतदार- निक्षेपधारी, न्यासी, प्रन्यासी, न्यासधर, न्यायधारी, धरोहर रक्षक।
• अमान्य- अस्वीकार्य, अनधिकृत, नामंजूर, अस्वीकृत।
• अभिनय करना- इंगित करना, हाव-भाव व्यक्त करना, नाटकीय प्रदर्शन, स्वाँग।
• अभिनेता- नट, भाँड, नाटक पात्र, मंचनायक, अदाकार पात्र, नायक, छद्मवेशी।
• अभिन्नता- ऐकात्म्य, ऐक्य, अभेद, तादात्म्य, सायुज्य, एकात्मता, अनन्यता, पूर्णता।
• अयोग्य- अक्षम, अनुपयुक्त, अनुपयोगी, नालायक, बेकार, असमर्थ, अगुन सम्पन्न, योग्यताहीन, व्यर्थ, गुणहीन।
• अयोग्य ठहरना- अनर्हित ठहरना, अपात्र ठहरना, अक्षम ठहरना, अनुपयुक्त बताना, नालायक सिद्ध करना, गुणहीन सिद्ध करना, बेकार सिद्ध करना।
• अभिमानी- गर्वी, दर्पी, दम्भी, घमंडी, अहंकारी, मदांध, गर्वीला, मगरूर, शेखीबाज।
• अभिलेख- शिलालेख, उत्कीर्ण लेख, ऐतिहासिक प्रमाण, लिखित प्रमाण, सुरक्षित विवरण, वृत्तलेख, पुरातत्व ग्रंथ, ऐतिहासिक प्रलेख, तारीखी दस्तावेज।
• अराधना- पूजना, जपना, सुमिरना, स्मरण करना।
• अरुचि- जुगुप्सा, घृणा, अप्रीति, विराग, विरक्ति, नापसंदगी, नफ़रत, विराग, विमुखता, अनिच्छा, ऊब, नीरस, बोर।
• अमानत- थाती, धरोहर, उपनिधि, न्यास।
• अलग- पृथक, भिन्न, जुदा, न्यारा, अलहदा, विविक्त, विभक्त, असंबद्ध, वियुक्त, विलग, अलग-थलग।
• अलगाना- अलग करना, पृथक करना, वियुक्त करना, असंयुक्त करना, असंबद्ध करना।
• अमावस्या- कुहू, अमा, अमावस, कृष्णपक्ष की अंतिम तिथि।
• अमीरी- सम्पन्नता, धनबाहुल्य, वैभव, समृद्धि, मालदारी, दौलतमंदी।
• अमूल्य- अनमोल, बहुमूल्य, मूल्यवान, कीमती, बेशकीमती।
• अलसाना- सुस्ती करना, ऊँघना, तंद्रित होना, मंद होना, ठंडा पड़ना, सुस्ताना, झपकना, प्रमत्त होना, उनींदा होना, तन्द्रित होना।
• अलापना- गीत गाना, गाना गाना, गायन गाना, तराना छेड़ना, स्वरकंपन करना, राग छेड़ना।
• अयोग्यता- अनर्हता, अपात्रता, अक्षमता, अनुपयोगिता, अपटुता, अदक्षता, गुणहीनता, अनुपयुक्त।
• अयोध्या- अवध, अवधपुरी, विमला, साकेत।
• अरवी- घुइयाँ, आलुकी, गजकर्ण, अरुई।
• अल्पानुमान- अवमानन, न्यूनानुमान, अल्पमूल्य निरूपण, कम अंदाजा।
• अवकाश- समय, मौका, छुट्टी, फुर्सत, विश्राम।
• अरुण- सूर्य, दिनकर, दिवाकर, भास्कर, दिननाथ।
• अर्जुन- धनंजय, कुन्तिसुत, पांडुनंदन, पार्थ, विजयरथ, गांडीवधर, कपिध्वज, सव्यसाचि, धनुर्धर।
• अर्थहीनता- प्रयोजनहीनता, आशयहीनता, अनर्थकता, धनहीन।
• अवज्ञा- अवहेलना, अवमानना, अनादर, निरादर, तिरस्कार, अपमान।
• अवनति- अधोगति, अपकर्ष, पतन, ह्रास, उतार, घटाव, गिराव।
• अलगाना- अलग करना, पृथक करना, वियुक्त करना, असंयुक्त करना, असंबद्ध करना।
• अलगाव- विच्छेद, पार्थक्य, अपयोजन, वियोजन, पृथक्करण, पृथकता, विलगता, वियोग, बिलगाव, विश्लेष, विभाजन, असंयोजन, बँटवारा।
• अलबेला- बाँका, छैला, रंगीला, रसिक, रसिया, लुभावना, सुहावना, मनोहर, चित्ताकर्षक, मनोरम, मनोरंजक।
• अवस्था- आयु, उम्र, वय, दशा, हालत, स्थिति।
• अविवाहिता- युवती, किशोरी, कुमारिका, कुमारी, बाला अल्पवयस्का, कन्या, कुँवारी।
• अलौकिक- असाधारण, अपूर्व, अद्भुत, लोकोत्तर, विलक्षण, विचित्र, अनूठा, अनोखा, असांसारिक, गैर दुनियावी, नैतिक।
• अल्प- अप्रचुर, बहुत कम, थोड़ा, नाकाफी, नाममात्र को, न्यून, अत्यल्प, नहीं के बराबर, जरा-सा।
• अवकाश ग्रहण करना- रिटायर होना, सेवा निवृत्त होना, निवृत होना, कर्म त्याग करना, कार्य निवृत्ति ग्रहण करना, अपदस्थ होना, पदच्युत होना, पेंशन ले लेना, काम से हट जाना।
• अवकाश प्राप्त- निवृत्त, कर्म विरत, अवसर प्राप्त, पेंशन प्राप्त, रिटायर्ड।
• अवमानना- अनादर करना, अपमान करना, निरादर करना, अवहेलना करना, तिरस्कार करना, उपेक्षा करना।
• अवलोकन- निरीक्षण, निरूपण, प्रेक्षण, पर्यवेक्षण।
• अवश्य- जरूर, असंशय, निश्चय ही, निःसंदेह, अनिवार्यत, लाजिमी तौर पर।
• असभ्यता- अविनय, अशिष्टता, अभद्रता, ग्रात्यता, गँवारपन, उजड्डपन, वन्याचरण, बर्बरता, निष्ठुरता, घृष्टता, प्रगल्भता, ढिठाई, गुस्ताखी।
• असमंजस- दुविधा, उभयसंकट, हिचक, अनिश्चय, उहापोह, कशमकश, किंकर्तव्यविमूढ़ता।
• अविश्सनीय- अविश्वास्य, अयुक्त, अप्रमाणिक, जाली।
• अवैध- अमान्य, नाजायज, गैर-क़ानूनी, नियम विरुद्ध, असंगत, नीति विरुद्ध।
• असहनशीलता- असहिण्णुता।
• असहनीयता- सहिष्णुता, अक्षमता, अक्षन्तव्यता, अमर्षणीयता।
• असहमति- आपत्ति, विरोध, एतराज, हुज्जत, नापसन्दगी।
• अव्यवस्थित- क्रमहीन, बेतरतीब, अनियमित, अस्त-व्यस्त, विपर्यस्त, अटपटा, बेतुका, बेढंगा, बेकायदा, बे सिर-पैर का, अंट-संट, अंड-बंड, उलटा-पुलटा, ऊटपटाँग, ऊलजलूल, अनाप-शनाप।
• अशकुन- अपशकुन, अशगुन, अशुभ, अमंगल।
• अश्लीलता- असभ्यता, बेहूदगी, भद्दापन, गँवारपन, अशिष्टता, बेशर्मी, अभद्रता, फूहड़पन, ओछापन, कमीनापन।
• असंतोष- नाराजगी, अतृप्ति, खिन्नता, विराग, अपराग, अनुरक्ति, अभक्ति, अश्रद्धा, असन्तुष्टि।
• असंभव- असंभाव्य, नामुमकिन, गैरमुमकिन।
• अशिक्षित- अशिष्ट, अपढ़, अनपढ़, मूर्ख, गँवार, उजड्ड, अक्खड़, जाहिल।
• अशुद्ध- अपवित्र, दूषित, मलिन, अशुचि, सदोष, दोषयुक्त, ऐबदार, गलत, त्रुटिपूर्ण, झूठा, मिथ्या।
• असावधान- बेपरवाह, लापरवाह, बेखबर, गाफिल, बेहोश, अचेत, प्रमादी।
• असावधानी- बेपरवाही, लापरवाही, गफलत, अनवधान, प्रमाद, बेहोशी।
• अश्लील- अशिष्ट, ग्राम्य, बेशर्म, गंदा, अभद्र, कुत्सित, फूहड़, लज्जास्पद, लज्जाकर, लज्जाप्रद, बुरा, अपकीर्तिकर, खराब, शर्मनाक, असंस्कृत, गँवारू, भद्दा, देहाती, ओछा, कमीना, असभ्य, अविनीत, अयोग्य, अनुचित, लचर।
• अस्तित्व- सत्ता, वजुद, विद्यमानता, उपस्थिति, मौजूदगी।
• अस्त्र-शस्त्र- हथियार, आयुद्य, औजार।
• असफलता- विफलता, असिद्धि, नाकामयाबी।
• असाधारण- अद्वितीय, अन्यतम, अनन्य, अतुल, अतुलनीय, अप्रितम, बेजोड़, बेमिसाल, बेनजीर, लाजवाब, अनुपम, निरुपम, अजीब, अजीबोगरीब, अपूर्व, विशिष्ट, अपने ढंग का, कमाल का, गजब का, लाखों में एक, धुरंधर, दिग्गज, सिद्ध, प्रसिद्ध।
• असमान- विषमरूप, विषम, विरोधी, भिन्न, असदृश, असम, अतुल्य, बेमेल।
• अमानता- असादृश्य, असाम्य, वैषम्य, पार्थक्य, पृथकता, विभिन्नता, भिन्नत्व, भिन्नता, भेद, अन्तर, फर्क, विषमता, विभेद, असमता, असदृशता।
• असरदार- प्रभावशाली, प्रभावपूर्ण, प्रभावी, फ़लप्रद, प्रभावोत्पादक, जोरदार।
• असली- यथार्थ, वास्तविक, तथ्यपूर्ण, यथार्थिक, अवितथ, सच्चा, खरा, असल, सत्य, तात्विक।
• अस्थिर- विचलित, विकंपित, डगमग, चंचल, चपल, अधीर, अशांत, गतिमान, चलायमान, कंपायमान, दोलायमान, अस्थायी, क्षणभंगुर, अनित्य, नाशवान।
• अस्पताल- औषधालय, रुग्णालय, दवाखाना, उपचारगृह।
• असहाय- अनाथ, निःसहाय, बेकस, यतीम, बेसहारा, निराश्रित, विवश, लाचार, वशीभूत, दीन, मजबूर।
• अहितकर- अनिष्टकारी, कष्टप्रद, अशुभकारी, अमंगलकारी, अकल्याणकर।
• अहीर- गोप, ग्वाल, गोपाल, यादव, अहिर, भीर।
• असाधारणता- अपप्रकृतत्व, अपसामान्यतया, विसामान्यतया, स्तरच्युति, वैरूप्य, विलक्षणता, अस्वाभाविकता।
• आंसू- नेत्रजल, नयनजल, चक्षुजल, अश्रु।
• आत्मा- जीव, देव, चैतन्य, चेतनतत्तव, अंतःकरण।
• असीम- अपरिमित, अमित, अनंत, असीमित, अपार, असंख्य, अकूत, बेहिसाब, बेहद।
• असुन्दर- कुरूप, बदसूरत, बदशक्ल, बेडौल, भौंडा, अनपयुक्त, भद्दा, बेतुका, बेढब, बेढंगा।
• अस्त- तिरोहित, अदृश्य, लुप्त, नष्ट, वस्त, लोप, अदर्शन।
• आकाश- आसमान, नभ, गगन, व्योम, फलक।
• आक्रोश- क्रोध, रोष, कोप, रिष, खीझ।
• अस्थायी- अस्थिर, क्षणिक, क्षणभंगुर, अनित्य, नाशवान, फानी, सामयिक, आरजी, कच्चा, नापायदार, कागजी।
• आग- पावक, अनल, अग्नि, दव, हुताशन, रोहिताश्व, उष्मा, ताप, तपन, जलन, आतिश, पांचजन्य, ज्वाला, दावानल, दावाग्नि, बाड़व, वहि।
• आचरण- चाल-चलन, बर्ताव, व्यवहार, चरित्र।
• अस्वीकार करना- इनकार करना, मना करना, नकारना, न मानना, ठुकरा देना, अनंगीकार करना, ग्रहण न करना, खंडन करना, मुकर जाना, प्रत्याख्यान करना।
• अस्वीकृति- अमान्य, नामंजूर, अस्वीकार, असम्मति, विरोध, नापसंदगी।
• अहसान- उपकार, भलाई, अनुग्रह, कृतज्ञता, आभार।
• आज्ञा- हुक्म, फरमान, आदेश।
• आतिथ्य- मेहमानदारी, मेजबानी, मेहमाननवाजी, खातिरदारी।
• आँख- लोचन, अक्षि, नैन, अम्बक, नयन, नेत्र, चक्षु, दृग, विलोचन, दृष्टि, अक्षि।
• आकाश- नभ, गगन, द्यौ, तारापथ, पुष्कर, अभ्र, अम्बर, व्योम, अनन्त, आसमान, अंतरिक्ष, शून्य, अर्श।
• आनंद- हर्ष, सुख, आमोद, मोद, प्रसन्नता, आह्राद, प्रमोद, उल्लास।
• आश्रम- कुटी, स्तर, विहार, मठ, संघ, अखाड़ा ।
• आम- रसाल, आम्र, अतिसौरभ, मादक, अमृतफल, चूत, सहकार, च्युत (आम का पेड़), सहुकार।
• आनन- चेहरा, मुखड़ा, मुँह, मुखमंडल, मुख।
• आबंटन- विभाजन, वितरण, बाँट, वंटन।
• आँगन- अँगना, अजिरा, चौक, सहन, सेहन, अहाता, प्रांगण।
• आँधी- तूफान, बवंडर, झंझावत, अंधड़।
• आईना- दर्पण, आरसी, शीशा।
• आयुष्मान- दीर्घायु, दीर्घजीवी, चिरंजीवी, चिरायु।
• आरंभ- श्रीगणेश, शुभारंभ, प्रारंभ, शुरुआत, समारंभ, शुरू, सूत्रपात, शिलान्यास, उपक्रम, इब्तदा, आगाज, बिस्मिल्ला, आविर्भाव, पादुर्भाव, उदय, उत्पत्ति, जन्म, अथ, आदि।
• आखेटक- शिकारी, बहेलिया, अहेरी, लुब्धक, व्याध।
• आगंतुक- मेहमान, अतिथि, अभ्यागत।
• आइसक्रीम- मेवों की बर्फ, जल की बर्फ, जमाई गई मिठाई, मलाई बर्फ।
• आकर्षक- चित्ताकर्षक, मोहक, विमोहक, विमोही, प्रलोभक, मनमोहक, मनोहारी, मनोहर, मुग्ध, सुन्दर, मनमोहक, प्रलोभनकारी, स्पर्शी, दिलचस्प, हृदयग्राही, लुभावना, दिलकश, चिन्ताहारी।
• आचार्य- शिक्षक, अध्यापक, प्राध्यापक, गुरु।
• आजादी- स्वाधीनता, स्वतंत्रता, मुक्ति।
• आजीविका- व्यवसाय, रोजी-रोटी, वृत्ति, धंधा।
• आकलन- प्राक्क्थन, अगणन, अर्धगणन, मूल्य निरूपण, आँक, कूत, तखमीना।
• आकस्मिक- अनअनुमानित, आपाती, अकारण, औपल क्षणिक, अप्रत्याशित, अचानक।
• आत्मा- रूह, जीवात्मा, जीव, अंतरात्मा।
• आदत- स्वभाव, प्रकृति, प्रवृत्ति।
• आदमी- मानव, मनुष्य, मनुज, मानुष, इंसान।
• आकृति- बनावट, ढाँचा, गढ़न, अवयव, आकार, चेहरा-मोहरा, डील-डौल, नैन-नक्श, मूर्ति, चित्र, अनुकृति, प्रतिकृति, प्रतिबिंब, प्रतिरूप, प्रतिमूर्ति, आलेख्य, रुपरेखा।
• आक्रमण- हमला, चढ़ाई, धावा, अभियान, प्रहार, वार, आघात।
• आबरू- सम्मान, प्रतिष्ठा, इज्जत।
• आयु- उम्र,वय, जीवनकाल।
• आख़िरकार- अंततोगत्वा, अंततः, फलतः, शेषतः।
• आख्यान- कथा, कहानी, किस्सा, वृत्तांत, वर्णन, बयान।
• आरसी- दर्पण, आईना, मुकुर, शीशा।
• आवास- निवास-स्थान, घर, निलय, निकेत, निवास।
• आवेदन- प्रार्थना, याचना, निवेदन।
• आशीर्वाद- शुभकामना, आशीष, आशिष, शुभवचन, आर्शीवचन, धन्यवाद, दुआ।
• आँकना- अंदाजना, अनुमान करना, अंदाजा लगाना, निरखना, समझना, कूतना, आकलन करना, प्राक्कलन।
• आँसू भरा- अश्रुपूरित, अश्रुपूर्ण।
• आख़िरकार- अंततोगत्वा, अंततः, फलतः, शेषतः।
• आख्यान- कथा, कहानी, किस्सा, वृत्तांत, वर्णन, बयान।
• आकर्षण- सम्मोहन, खिंचाव, कशिश, दिलकशी।
• आकर्षित करना- समाकर्षित करना, आकृष्ट करना, लुभाना, खींचना, मुग्ध करना, मोहना।
• आचरण- समानुष्ठान, अनुचेष्टा, चेष्टा, चर्या, गतिविधि, व्यवहार, बर्ताव, चाल-चलन, शिष्टाचार, सदाचार।
• आचार- व्यवहार, आचरण, अनुष्ठान, बर्ताव।
• आकाश गंगा- आकाशनदी, स्वर्गनदी, मंदाकिनी, नभगंगा, सुरदीर्घिका।
• आकुल- व्यग्र, व्यस्त, उद्विग्न्, क्षुब्ध, उद्वेलित, विक्षुब्ध, बेचैन, अधीर, विकल, बेकल, बेसब्र, बेहाल, व्याकुल, अशांत, आर्त, अकल, आतुर, बेकरार, बेताब, व्याप्त, दुःखित, व्यग्र, उतावला।
• आडंबर- बनावटी, टीमटाम, दिखावा, स्वाँग, ढकोसला, पाखंड, ढोंग, प्रपंच, छल प्रपंच।
• आड़- ओट, पर्दा, ओझल, रोक, टेक, थूनी, रोध, अवरोधक, अवरोध, बाढ़, शरण, आश्रय, रक्षा, सुरक्षा।
• आक्षेप- आरोप, अभियोग, इल्जाम, दोषारोपण, व्यंग्य, कटुभाषण।
• आखिर- अंतिम, पिछला, समाप्त, खतम, अंत, समाप्ति, उपसंहार, नतीजा, फल।
• आत्मदर्शन- आत्मपरीक्षण, अंतरावलोकन, अंतर्निरीक्षण, अंतर्दर्शन, अंतर्दृष्टि।
• आत्मसंयम- आत्मनियंत्रण, आत्मनिग्रह, इंद्रियसंयम, जितेन्द्र।
• आख्यायिका- उपन्यास, प्रसिद्ध कथा, लोककथा।
• आक्षेप- आरोप, अभियोग, इल्जाम, दोषारोपण, व्यंग्य, कटुभाषण।
• आखिर- अंतिम, पिछला, समाप्त, खतम, अंत, समाप्ति, उपसंहार, नतीजा, फल।
• आदर्श- दर्पण, शीशा, आईना, प्रतिमान, प्रतिरूप, मानक, नमूना।
• आदि- प्रथम, पहला, आरंभिक, आरंभ, शुरुआत, इत्यादि, वगैरह, मूलकारण, बुनियाद, ईश्वर, परमात्मा।
• आख्यायिका- उपन्यास, प्रसिद्ध कथा, लोककथा।
• आगामी- आने वाला, भविष्यत, भविष्य।
• आगे- अग्रे, अग्र, पूर्व, प्रथम, पहले, सामने, सम्मुख।
• आदेशात्मक- आज्ञा सम्बन्धी, अधिदेशी, अधिदेश विषयक, नियोजनीय।
• आधा- अर्द्ध, अर्धांश, अद्धा।
• आज्ञा- आदेश, हुक्म, फरमान, शासनादेश, निर्देश, निदेश, अनुशासन, समादेश, इजाजत, सहमति।
• आज्ञाकारी- आदेशपालक, व्यवस्थाप्रिय, अनुगत, हुक्मबरदार।
• आधारहीन- निराधार, अमूल, निर्मूल, निराश्रय, भित्तिशून्य, बेबूनियाद, अवास्तविक, अवास्तव, मिथ्या, बेअसल, सरासर गलत।
• आधुनिक- अर्वाचीन, अप्राचीन, वर्तमान, नूतन, नूतनकालीन, वर्तमानकालीन, आजकल का।
• आतंक- संत्रास, अतिभय, दहशत, होहल्ला, भगदड़, कोलाहल, उपद्रव, हुड़दंग।
• आत्मत्याग- आत्मपरित्याग, आत्मनिरोध, आत्मनियम, स्वार्थत्याग, इच्छा दमन, स्वार्थहोम, मन को मारना।
• आना- आगमन होना, पदार्पण करना, प्रवेश करना, पधारना, शुभागमन, तशरीफ लाना, आ धमकना, आ टपकना, उपस्थित होना, हाजिर होना।
• आनाकानी- उपेक्षा, अनसुनी, कतराना, टालना, बहाना करना, बचाना, जी चुराना।
• आत्मसात करना- आत्मीकरण करना, सम्मिलित कर लेना, मिला देना।
• आदरणीय- मान्य, माननीय, सम्मानीय, पूजनीय, पूज्य, श्रद्धास्पद, श्रद्धेय, पूज्यपाद।
• आदरवचन- स्तुतिवाक्य, स्तुतिवचन, प्रशंसोक्ति, विनयोक्ति।
• आभासी- प्रतीपमान, आभासमान, भासित, प्रकाशित, बोधगम्य, द्युतिमान।
• आभूषण- अलंकरण, अलंकार, भूषण, आभरण, जेवर, गहना।
• आदी होना- आसक्त होना, लिप्त होना, अभ्यस्त होना, लत डालना, लत लगाना।
• आदेश- आज्ञा, हुक्म, फरमान, अध्यादेश, निर्देश, अनुदेश, हिदायत।
• आरक्षण- प्रारक्षण, रक्षण, पूर्वरक्षण, संरक्षण।
• आराम- बाग, उपवन, वाटिका, बगीचा, फुलवारी, सुख, चैन, स्वास्थ्य, चंगापन, विश्राम, शांति, राहत, करार, सुकून, सुविधा, ऐशोआराम।
• आधार- नींव, जड़, मूल, बुनियाद, मानदंड, मापदंड, कसौटी, आधारशिला, आधार स्तंभ, मूल तत्व, मूल कारण, सहारा, आश्रय, अवलंब।
• आर्थिक- वित्तीय, राजस्व सम्बन्धी, अर्थ विषयक, वित्त विषयक।
• आलम- जगत, दुनिया, संसार, दशा, हालत, अवस्था।
• आनंद- उल्लास, आह्लाद, हर्ष, मोद, प्रमोद, लुफ़्त, मजा, सुख।
• आनंददायक- परिहासपूर्ण, हास्यात्मक, प्रमोदपूर्ण, विनोदात्मक, रसिक, आनंदी, आनंदकर, दिलचस्प, रसदायक।
• आलसी आदमी- तंद्रालु व्यक्ति, निरुद्योगी व्यक्ति, आलसी, अकर्मण्य व्यक्ति, काहिल आदमी, निखट्टू आदमी।
• आलोचना- समीक्षा, टीका-टिप्पणी, गुण-दोष, निरूपण, छिद्रान्वेषण, नुक्ताचीनी।
• आलिंगन- प्रेमालिंगन, परिरंभन, अंकमाल, अँकवार।
• आपत्ति- दुःख, क्लेश, विपत्ति, आफत, आपात, आपदा, विपदा, संकट, मुसीबत, वज्रपात, विघ्न, दोषारोपण।
• आवश्यक- अपेक्षित, जरूरी, प्रयोजनीय, अनिवार्य, अपरिहार्य, लाजिमी, अवश्यकरण, महत्त्वपूर्ण, अनुपेक्ष्य, सारभूत, अनुपेक्षणीय।
• आवश्यकता- जरूरत, अपेक्षा, गरज, अनिवार्यता, अपरिहार्यता, महत्ता।
• आमंत्रित करना- आह्वान करना, बुलाना, सभा बुलाना, संयोजन करना, संयोजित करना।
• आयुधागार- शस्त्रागार, शस्त्रशाला, आयुधोद्योगशाला, शस्त्रकर्मशाला, हथियार घर।
• आवेग- जोश, वेग, स्फूर्ति, उत्तेजना, मनोवेग, संवेग, सनक, उद्वेग।
• आशय- अभिप्राय, तात्पर्य, मतलब, निर्मित, उद्देश्य, नीयत।
• आरोग्य- स्वास्थ्य, पुष्ट, दृढ़, तंदुरुस्त, सेहतमंद, सेहत।
• आरोपित करना- थोपना, मत्थे मढ़ना, इलजाम लगाना, लांछन लगाना।
• आशान्वित- आशापूर्ण, आशामय, आशावान।
• आश्चर्य- अचरज, अचंभा, वैकल्य, विस्मय, कुतूहल, कौतूक, हैरानी, कमाल, गजब।
• आश्चर्यचकित- विस्मित, भौचक्का, हक्का-बक्का, चकराया हुआ।
• आलसी- सुस्त, स्फूर्तिहीन, निकम्मा, मंद, टीला, शिथिल, श्लथ, काहिल, अनुद्योगशील, कामचोर, दीर्घसूत्री, चेष्टाहीन, अकर्मण्य, काहिल, निखट्टू, अहदी, ठलुआ, निरुद्योगी।
• आश्रित- अधीनस्थ, शरणागत, अधीन, निर्भर, मातहत।
• आश्वासन- विश्वास, भरोसा, यकीन, निश्चय।
• आलोचना- समीक्षा, टीका-टिप्पणी, गुण-दोष, निरूपण, छिद्रान्वेषण, नुक्ताचीनी।
• आवर्तमान- घूर्णी, भ्रामी, चक्रिल, चक्रावर्ती, परिभ्रामी, घूर्णमान, घूम-घूमकर चलने वाला, रोटरी।
• आसपास- प्रत्येक दिशा में, हर तरफ, चारों ओर, इधर-उधर, पड़ोस, नजदीक, निकट।
• आह भरना- उच्छ्वास लेना, दीर्घ निश्वास छोड़ना, ठंडी सांस लेना।
• आवाज- ध्वनि, शब्द, स्वर, वाणी, नाद, निनाद, सुर, तान, रव, सदा, पुकार।
• आवारागर्दी- आवारापंथी, गुंडई, चरित्र-हीनता, शोहदापन।
• आशा- आस, उम्मीद, तवक्को, प्रतीक्षा, इंतजार।
• आश्रम- आसरा, भरोसा, अवलंब, पनाह, प्रश्रय, सहारा, शरण।
• आसन- चौकी, सिंहासन, तख्त, आसंदी, आसनी, सीट।
• आहार- खाद्य-पदार्थ, भोज्यपदार्थ, भोजन, भक्ष्य-पदार्थ।
• इंद्र का वज्र- कुलिश, वज्र, पवि, अशनि, भिदुर, भेदी शतकोटि।
• इंद्र का हाथी- अभ्रमातंग, गजेन्द्र, ऐरावत।
• इन्द्र- सुरेश, अमरपति, वज्रधर, वज्री, शचीश, वासव, वृषा, सुरेन्द्र, देवेन्द्र, सुरपति, शक्र, पुरंदर, देवराज, महेन्द्र, मधवा, शचीपति, मेघवाहन, पुरुहूत, यासव।
• इंद्र का पुत्र- जयंत, उपेन्द्र, ऐंद्रि।
• इन्द्राणि- इन्द्रवधू, मधवानी, शची, शतावरी, पोलोमी।
• इच्छा- अभिलाषा, अभिप्राय, चाह, कामना, ईप्सा, स्पृहा, ईहा, वांछा, लिप्सा, लालसा, मनोरथ, आकांक्षा, अभीष्ट।
• इंद्रधनुष- इन्द्रायुध, शक्रधनु, ऋजुरोहित।
• इंद्रपुरी- अमरावती, देवपुरी, इंद्रलोक, देवलोक।
• इंसान- मनुष्य, आदमी, मानव, मानुष।
• इंसाफ- न्याय, फैसला, अद्ल।
• इत्यादि- आदि, प्रभृति, वगरैह।
• इनकार- अस्वीकृति, निषेध, अनंगीकरण, नकार, खंडन, प्रत्याख्यान, निवर्तन, प्रत्याख्या, अनंगीकार, अस्वीकार।
• इच्छुक- अभिलाषी, आतुर, चाहने वाला, आकांक्षी।
• इठलाना- चोंचले करना, नखरे करना, इतराना, ऐंठना, हाव-भाव दिखाना, शान दिखाना, शेखी, मदांध मारना, तड़क-भड़क दिखाना, अकड़ना, मटकाना, चमकाना।
• इंदु- चाँद, चंद्रमा, चंदा, शशि, राकेश, मयंक, महताब।
• इनाम- पुरस्कार, पारितोषिक, पारितोषित करना, बख्शीश।
• इजाजत- स्वीकृति, मंजूरी, अनुमति।
• इज्जत- मान, प्रतिष्ठा, आदर, आबरू।
• इकरार करना- संविदा करना, पट्टा लिखना, अनुबंध लिखना, ठेका करना, इकरारनामा लिखना, सट्टा लिखना, करार करना।
• इकट्ठा करना- सम्मिलित करना, समवेत करना, संयुक्त करना, मिलाना, जोड़ना, एक जुट करना, कोषबद्ध करना, संचित करना, जमा करना, बचाना, संकलित करना, संग्रहीत करना, एकत्र करना, ढेर लगाना।
• इतिहास- इतिवृत, प्रचीनकथा, पुरावृत्त, पूर्ववृत्तांत, पुराण, पूर्वकथा, अतीत कथा, पूर्ववृत।
• इर्द-गिर्द- मंडलाकार मार्ग में, चक्करदार रास्ते पर, घेरे में, चतुर्दिक, चारों दिशाओं में।
• इशारा- संकेत, इंगित, लक्ष्य, निर्देश।
• इमली- अम्लिका, चिंचा।
• इरादा- निश्चय, संकल्प, विचार, अभिप्राय, प्रयोजन, आशय, उद्देश्य, हेतु, मंशा, नियत।
• इलजाम- आरोप, लांछन, दोषारोपण, अभियोग।
• इशारे करना- संकेत करना, इंगित करना, मौन संभाषण करना, आँखों से भाव प्रकट करना।
• ईमानदारी- सच्चा, सत्यपरायण, नेकनीयत, यथार्थता, सत्यता, निश्छलता, दयानतदारी, सत्यनिष्ठ।
• ईर्ष्या- विद्वेष, जलन, कुढ़न, ढाह।
• ईर्ष्यालु- ईर्ष्यायुक्त, स्पृहाशील, स्पृहालु, डाहीद्वेषी, विद्वेषी।
• ईश्वर- परमपिता, परमात्मा, प्रभु, ईश, जगदीश, भगवान, परमेश्वर, जगदीश्वर, विधाता।
• ईख- गन्ना, ऊख, इक्षु।
• ईप्सा- इच्छा, ख्वाहिश, कामना, अभिलाषा।
• ईसा- यीशु, ईसामसीह, मसीहा।
• ईमानदार- सच्चा, नेकनीयत, दयानतदार, शुद्धमति, निश्छल, निष्कपट, सत्यनिष्ठ, सत्यपरायण, सदाशय, ऋजु।
• ईहा- मनोकामना, अभिलाषा, इच्छा, आकांक्षा, कामना।
• उग्र- प्रचण्ड, उत्कट, तेज, महादेव, तीव्र, विकट।
• उचित- ठीक, मुनासिब, वाज़िब, समुचित, युक्तिसंगत, न्यायसंगत, तर्कसंगत, योग्य।
• उपवन- बाग़, बगीचा, उद्यान, वाटिका, पुष्पोद्यान, फुलवारी, पुष्पवाटिका, गुलिस्तान, चमन, गुलशन।
• उक्ति- कथन, वचन, सूक्ति।
• उत्कष- समृद्धि, उन्नति, प्रगति, प्रशंसा, बढ़ती, उठान।
• उत्कृष्ट- उत्तम, उन्नत, श्रेष्ठ, अच्छा, बढ़िया, उम्दा।
• उत्कोच- घूस, रिश्वत।
• उच्छृंखल- उद्दंड, अक्खड़, आवारा, अंडबंड, निरकुंश, मनमर्जी, स्वेच्छाचारी।
• उजला- उज्ज्वल, श्वेत, सफ़ेद, धवल।
• उजाड- जंगल, बियावान, वन।
• उत्थान- उत्कर्ष, प्रगति, उत्क्रमण, आरोह, आरोहण, ऊर्ध्वगमन, उद्गमन, उपरिगमन, चढ़ाव, उठाव, उभार, उन्नयन।
• उदार- फ़राख़दिल, क्षीरनिधि, दरियादिल, सरल, सीधा, विनीत, शिष्ट, उदारचित्त, उदारचेता, सहृदय, विशाल, हृदय, सज्जन, महामना, सदाशय, महाशय, दाता, उदारशील, दानशील, दानी।
• उद्धार- मुक्ति, छुटकारा, निस्तार, त्राण, परित्राण, विमुक्ति, बचाव, मोक्षण, रिहाई।
• उपाय- युक्ति, साधन, तरकीब, तदबीर, यत्न, चेष्टा, कोशिश, तरीका, उपचार, विधि, जुगत, ढंग, पद्धति, प्रयत्न।
• उद्यान- बगीचा, बाग, वाटिका, उपवन।
• उपकार- भेंट, नजराना, भलाई, नेकी, उद्धार, अच्छाई, परोपकार, कल्याण, अहसान, आभार, तोहफा।
• उपहास- परिहास, मजाक, खिल्ली।
• उदाहरण- मिसाल, नजीर, दृष्टान्त, कथा-प्रसंग, नमूना, दृष्टांत।
• उद्दंड- ढीठ, अशिष्ट, बेअदब, गुस्ताख़।
• उर- हृदय, दिल, वक्षस्थल।
• उल्लू - उल्लू, चुगद, खूसट, कौशिक, लक्ष्मी, वाहन, मूर्ख, बेवकूफ, घुग्घू।
• उषा- सुबह, भोर, भिनसार, अलस्सुबह, ब्रह्ममुहूर्त।
• उमा- गौरी, गौरा, गिरिजा, पार्वती, शिवा, शैलजा, अपर्णा।
• उम्मीद- आशा, आस, भरोसा।
• उगना- उत्पन्न होना, निकलना, फूटना, उपजना, पैदा होना, अँकुराना, बढ़ना, अँकुरित होना।
• उचटना- उखड़ना, टूटना , बिचलना, बिखरना, खिन्न होना, उचाट होना, बिचलित होना, उदास होना।
• उड़ान- उड्डयन, उत्पतन।
• उतार- अवरोहण, अवरोहन, अधोगमन।
• उकताना- चिढ़ना, खीझना, ऊबना, घबराना, उकता जान, बाज आना, आजिज आना, चिढ़ाना,, खिजाना, घबरा देना, तंग करना, परेशान करना, खोपड़ी खाना।
• उतावलापन- अधीरता, व्यग्रता, व्याकुलता, अधैर्य, उत्सुकता, अशांति, आतुरता, जल्दबाजी।
• उत्कंठा- लालसा, चाव, उत्सुकता, औत्सुक्य, चाह, आकुलेच्छा, प्रबलेच्छा।
• उत्कंठित- उन्मन, अभिलषित, इच्छित, अभीच्छित, वांछित, प्रेच्छित।
• उतारना- नीचे लाना, नीचे रखना, पार पहुंचाना, पार लगाना।
• उतावला- जल्दबाज, हड़बड़िया, व्यग्र, व्याकुल, आतुर, अधीर, अशांत, असहिष्णु, अतिउत्सुक।
• उत्तर- प्रत्युत्तर, जवाब्र, पिछला, बाद का, पीछे, उदीची, वामवर्ती।
• उत्तेजित- उत्साहित, प्रोत्साहित, प्रेरित, जोश में, उद्दीपित।
• उत्तम- श्रेष्ठ, उत्कृष्ट, प्रकृष्ट, विशिष्ट, ललित, रुचिर, चारू, कांत, पवित्र, शोभायुक्त, शोभित, मनोरम, मंजु, सुदेश, श्रेष्ठ, सुहावन, सुन्दर, रुचिकर।
• उथल-पुथल- क्रांति, विप्लव, परिवर्तन, इन्कलाब, हेर-फेर, रद्दोबदल।
• उदारता- सहृदयता, दयालुता, दानशीलता, दरियादिली, फराखदिली, विशालहृदयता।
• उदास- अन्यमनस्क, विमनस्क, म्लान, अनमना, खिन्न, उचाट, निरुत्साहित, विरक्त, गमगीन, उद्विग्न, म्लान, खिन्न, चिंताकुल।
• उत्पात- उपद्रव, बखेड़ा, हुल्लड़, दंगा- फ़साद, हंगामा, टंटा, ऊधम, अशुभ, अमंगल, विघ्न।
• उत्सव- समारोह, जश्न, त्योहार, पर्व, मंगलकार्य, जलसा, आनंद।
• उद्गम- मूल, उद्भव, निकास, आरंभ, उत्पत्ति, स्रोत, जन्म।
• उद्घाटन- विगोपन, अनावृत्ति, समारंभ, श्रीगणेश, अभिमुखीकरण।
• उद्धारक- तारक, उद्धारकर्त्ता, मोक्षदाता, मुक्तिदाता।
• उदासी- विषाद, म्लानता, खिन्नता, उद्वेग, अवसाद, ग्लानि, नैराश्य।
• उदासीनता- अनमना, उदास, विमुख, विरक्ति, विराग, तटस्थ, निष्पक्ष।
• उद्योगी- श्रमजीवी, सक्रिय, कार्यवाहक, कार्यकारी, कर्मकारी, कार्यशील, पुरुषार्थी।
• उधार- ऋण, कर्ज।
• उन्नतशील- आरोही, उदीयमान।
• उद्यम- उद्योग, यत्न, प्रयत्न, प्रयास, कोशिश, मेहनत, श्रम, परिश्रम, पुरुषार्थ, अध्यवसाय, व्यवसाय, व्यापार, उद्योग धंधा।
• उद्यमी- कर्मठ, क्रियाशील, यत्नशील, उद्योगशील, उद्योगी, परिश्रमी, मेहनती, अध्यवसायी, कर्मठ।
• उपचारिका- परिचारिका, चारिका, सेविका।
• उपज- शस्य, कृषिफल, पैदावार, फसल, संग्रहीत शस्य, नवोन्मेष, सूझ।
• उपजाऊ- उर्वर, उर्वरा, जरखेज, फ़लप्रद।
• उन्माद- पागलपन, विक्षिप्त, सनक, जुनून, दीवानापन, खब्त।
• उपकरण- वैज्ञानिक, यंत्रादि, यंत्र, उपस्कर, सामान, औजार।
• उपचार- चिकित्सा, इलाज, उपाय।
• उपयोगी- उपादेय, कारगर, कार्यसाधक, फायदेमंद, सुविधाजनक, लाभप्रद, लाभदायक, फ़लप्रद, हितकर।
• उपवास- लंघन, निराहार, व्रत, फाका।
• उपस्थित- विद्यमान, प्रस्तुत, मौजूद, हाजिर, वर्तमान समुपस्थित।
• उपदेश- शिक्षा, सीख, नसीहत, दीक्षा, गुरुमंत्र।
• उपमा- समानता, तुलना, साम्य, सादृश्य।
• उपयुक्त- अनुकूल, माकूल, मुनासिब, युक्तिसंगत, योग्य।
• उपयोगिता- लाभकारिता, लाभप्रदता, लाभदायकता, अर्थकरता, हितकरता, उपयुक्तता, उपादेयता।
• उपेक्षा करना- ध्यान न देना, सुनी अनसुनी कर देना, दृष्टि फेर लेना, अनादर करना, अपमान करना, उदासीनता दिखाना, उपहास करना, अवहेलना करना।
• उमर- उम्र, वय, अवस्था, आयु, जीवनकाल, वयस।
• उपहार- भेंट, तोहफा, सौगात, पुरस्कार, नजराना, नजर।
• उपासना- सेवा, परिचर्या, आराधना, चिंतन, पूजन, ध्यान, अर्जन, अर्चना, भक्ति।
• उलटा- विपरीत, प्रतिकूल, विरुद्ध, खिलाफ, औंधा।
• उल्लंघन- विरोध, अवमानना, उपेक्षा, तिरस्कार, अतिक्रमण।
• उम्मीदवार- प्रत्याशी, आकांक्षी, आशा करने वाला, प्रार्थी, अभ्यर्थी, परीक्षार्थी, अभिलाषी।
• उलझन- दुविधा, अनिश्चय, असमंजस, पेंच, गाँठ, फँसाव, भँवरजाल, जंजाल, चक्कर।
• उल्लास- हर्ष, आनंद, आहलाद, परमानंद, अत्यानंद, प्रमोद, रंगरेली, ख़ुशी।
• उस्तादी- दक्षता, कुशलता, निपुणता, प्रवीणता, होशियारी।
• ऊँचाई- बुलंदी, उठान, उच्चता, तुंगता, बुलन्दी।
• ऊखल- ओखली, उलूखल, कूँडी।
• ऊँचा- तुंग, उच्च, बुलंद, उर्ध्व, उत्ताल, उन्नत, ऊपर, शीर्षस्थ, उच्च कोटि का, बढ़िया, अच्छा, चोटी का, गगनस्पर्शी।
• ऊँघ- तंद्रा, अर्द्ध-निद्रा, झपकी, ऊँघाई।
• ऊधम- उत्पात, उपद्रव, दंगा, फ़साद, हुल्लड़, हंगामा, होहल्ला, धमाचौकड़ी।
• ऊसर- अनुपजाऊ, बंजर, अनुर्वर, वंध्या, भूमि।
• ऊधम- उपद्रव, उत्पात, धूम, हुल्लड़, हुड़दंग, धमाचौकड़ी।
• उषाकाल- प्रातः काल, सवेरा, तड़का, उदयकाल, सुबह, अमृतबेला, सूर्योदय।
• ऊल-जलूल- अव्यवस्थित, बेढंगा, बेतुका, बेमेल, अक्रमिक, अविचारित, अस्तव्यस्त।
• ऊष्मा- तपन, गर्मी, ताप, जलन।
• ऋषि- साधु, महात्मा, मुनि, मनीषी, योगी, मन्त्र द्रष्टा, सूक्तद्रष्टा, तपस्वी।
• ऋक्ष- भालू, रीछ, भीलूक, भल्लाट, भल्लूक।
• ऋक्षेश- चंद्रमा, चंदा, चाँद, शशि, राकेश, कलाधर, निशानाथ।
• ऋणी- कर्जदार, देनदार।
• ऋतु- रुत, मौसम, मासिक धर्म, रज:स्राव।
• ऋण- कर्ज, कर्जा, उधार, उधारी।
• ऋषभ- वृष, वृषभ, बैल, पुंगव, बलीवर्द, गोनाथ।
• ऋष्यकेतु- कामदेव, मकरकेतु, मकरध्वज, मदन, मनोज, मन्मथ।
• एकदंत- गणेश, गजानन, विनायक, लंबोदर, विघ्नेश, वक्रतुंड।
• एषणा- इच्छा, आकांक्षा, कामना, अभिलाषा, हसरत।
• एकतंत्र- राजतंत्र, एकछत्र, तानाशाही, अधिनायकतंत्र।
• एकता- मेल, मेलजोल, मेलमिलाप, संगठन, बराबरी, सामंजस्य, समन्वय, एकरूपता, एकसूत्रता, एकत्व, संश्रय, सद्भाव, सुमति।
• एकरूप- समरूप, तुल्यरूप, अभिन्न, अनुरूप, समानता, सादृश्य, अभेद।
• एहसान- कृपा, अनुग्रह, उपकार।
• एक करना- एकीकरण करना, सम्मिलित करना, संघटित करना, संगठन बनाना।
• एकांत- निर्जन, सूना, शांत, शून्य, सुनसान, अकेला, एकाकी, तनहा, वीरान, विथावान।
• एकांतवास- निर्जनवास, गुप्तावास, विजनवास।
• ऐहिक- सांसारिक, लौकिक, दुनियावी।
• ऐक्य- एकत्व, एका, एकता, मेल।
• ऐंठ- कड़, दंभ, हेकड़ी, ठसक।
• ऐयाशी- काम, कामचरिता, विलासता, भोग, विषयासक्ति, इंद्रियलोलुपता।
• ऐश- सुख, चैन, आराम, ऐयाशी, विलास, भोग-विलास, व्याभिचार।
• ऐयार- धूर्त, मक्कार, चालाक।
• ऐच्छिक- स्वैच्छिक, वैकल्पिक, इच्छानुसारी।
• ऐश्वर्य- धन-सम्पत्ति, विभूति, सम्पन्नता, ऋद्धि-सिद्धि।
• ऐंठन- ऐंठ, मरोड़, बल, तनाव, अकड़, गर्व, घमंड, कुटिलभाव।
• ऐंठना- उमेठना, मरोड़ना, इतराना, अकड़ना, शेखी बघारना।
• ऐंद्रिक- ऐंद्रिय, इन्द्रियगत, इंद्रिय विषयक, इंद्रियजनित, इंद्रियजन्य।
• ऐयाश- कामी, कामुक, भोगी, लम्पट, विलासी, विषयी, भोगनिरत, विषयासक्त, कामाचारी, व्यभिचारी।
• ओला- हिमगुलिका, उपल, तुहिन, जलमूर्तिका, हिमोपल।
• ओस- नीहार, तुषार, तुहिन, निशाजल, शीत, शबनम, कण।
• ओझल- अदृश्य, अंतर्धान, तिरोहित, लुप्त, छिपा हुआ, गायब, विलुप्त।
• ओझाई- अभिचार, पिशाचविद्या, श्मशानतंत्र, इंद्रजाल, मन्त्र, जादू, टोना।
• ओट- आड़, परदा, छिपाव, दुराव।
• ओज- तेज, शक्ति, बल, चमक, कांति, दीप्ति, वीर्य।
• ओखली- उलूखल, ऊखल।
• ओंठ- ओष्ठ, अधर, लब, रदनच्छद, होठ।
• ओजस्वी- बलवान, बलशाली, बलिष्ठ, पराक्रमी, जोरावर, ताकतवर, शक्तिशाली, शक्तिमान, जोरदार, सशक्त, तेजस्वी।
• ओहार- आवरण, परदा, आच्छादन।
• ओछा- अधम, नीच, तुच्छ, कमीना, क्षुद्र, छिछला, उथला, घटिया, हलका।
• ओढ़ना- पहनना, धारण करना, लपेटना, ढकना।
• ओर- दिशा, तरफ, पक्ष, किनारा, छोर, सिरा, अन्त।
• औरत- स्त्री, जोरू, घरनी, महिला, मानवी, तिरिया, घरवाली।
• औचित्य- उपयुक्तता, तर्कसंगति, तर्कसंगतता।
• औचक- अचानक, यकायक, सहसा।
• औषधालय- चिकित्सालय, दवाखाना, अस्पताल, शफाखाना।
• औलाद- संतान, संतति, आसऔलाद, बाल-बच्चे।
• औजार- उपकरण, यंत्र, हथियार।
• और- दूसरा, भिन्न, अन्य, पराया, अधिक ज्यादा, एवं तथा व, के साथ, के अतिरिक्त, के साथ-साथ।
• कमल- नलिन, अरविन्द, उत्पल, अम्भोज, वनज, कंज, सरसिज, राजीव, पद्म, पंकज, शतदल, पुण्डरीक, इन्दीवर।
• कपड़ा- मयुख, वस्त्र, चीर, वसन, पट, अंशु, कर, अम्बर, परिधान।
• कुबेर- कित्ररेश, यक्षराज, धनद, धनाधिप, राजराज।
• किरण- गभस्ति, रश्मि, अंशु, अर्चि, गो, कर, मयूख, मरीचि, ज्योति, प्रभा।
• कामदेव- मदन, मनोज, अनंग, मनसिज, काम, रतिपति, पुष्पधन्वा, मन्मथ।
• कबूतर- कपोत, रक्तलोचन, पारावत, कलरव, हारिल।
• कण्ठ- ग्रीवा, गर्दन, गला, शिरोधरा।
• किस्मत- होनी, विधि, नियति, भाग्य।
• कच- बाल, केश, कुन्तल, चिकुर, अलक, रोम, शिरोरूह।
• किनारा- तीर, कूल, कगार, तट।
• किसान- कृषक, भूमिपुत्र, हलधर, खेतिहर, अन्नदाता।
• कृपा- प्रसाद, करुणा, अनुकम्पा, दया, अनुग्रह।
• किताब- पोथी, ग्रन्थ, पुस्तक।
• कान- कर्ण, श्रुति, श्रुतिपटल, श्रवण, श्रोत, श्रुतिपुट।
• कोयल- कोकिला, पिक, बसंतदूत, सारिका, कुहुकिनी, वनप्रिया।
• कृष्ण- राधापति, घनश्याम, वासुदेव, माधव, मोहन, केशव, गोपीनाथ, मुरलीधर, द्वारिकाधीश, यदुनन्दन, कंसारि, रणछोड़, बंशीधर, गिरधारी।
• कुत्ता- श्वा, श्रवान, कुक्कुर। शुनक, सरमेव।
• कल्पद्रुम- देवद्रुम, कल्पवृक्ष, पारिजात, मन्दार, हरिचन्दन।
• क्रोध- रोष, कोप, अमर्ष, गुस्सा, आक्रोश, कोह, प्रतिघात।
• कार्तिकेय- कुमार, षडानन, शरभव, स्कन्द।
• कंटक- काँटा, खार, सूल।
• कंदरा- गुफा, खोह, विवर, गुहा।
• काक- कौआ, वायस, काग, करठ, पिशुन।
• कंगाल- निर्धन, गरीब, रंक, धनहीन।
• कंचन- स्वर्ण, सोना, कनक, कुंदन, हिरण्य।
• कर्ज- उधार, ऋण, कर्जा, उधारी, कुसीद।
• कल्याण- भलाई, परहित, उपकार, भला।
• कटक- फौज, सेना, पलटन, लश्कर, चतुरंगिणी।
• कद्र- मान, सम्मान, इज्जत, प्रतिष्ठा।
• कमला- लक्ष्मी, महालक्ष्मी, श्री, हरप्रिया।
• कामधेनु- सुरभि, सुरसुरभि, सुरधेनु।
• कायर- कापुरुष, डरपोक, बुजदिल।
• कष्ट- तकलीफ, पीड़ा, वेदना, दुःख।
• काग- कौआ, कागा, काक, वायस।
• किरीट- ताज, मुकुट, शिरोभूषण।
• कीर- तोता, सुग्गा, सुआ, शुक।
• कालकूट- जहर, विष, गरल, हलाहल।
• काला- श्याम, कृष्ण, कलूटा, साँवला, स्याह।
• किरण- किरन, अंशु, रश्मि, मयूख।
• केवट- मल्लाह, माँझी, खेवैया, नाविक।
• केसरी- शेर, सिंह, नाहर, वनराज, मृगराज, मृगेंद्र।
• कुंभ- घड़ा, गागर, घट, कलश।
• कृश- दुबला, क्षीणकाय, कमजोर, दुर्बल, कृशकाय।
• कृषि- किसानी, खेतीबाड़ी, काश्तकारी।
• कुद्ध- नाराज, कुपित, क्रोधित, क्रोधी।
• क्रूर- बेरहम, बेदर्द, बेदर्दी, बर्बर।
• कोविद- विद्वान, पंडित, विशारद।
• कीर्ति- यश, ख्याति, प्रतिष्ठा, शोहरत, प्रसिद्धि।
• खद्योत- जुगनू, सोनकिरवा, भगजोगिनी।
• खर- गधा, गर्दभ, खोता, रासभ, वैशाखनंदन।
• खाना- भोज्य सामग्री, खाद्यय वस्तु, आहार, भोजन।
• खग- पक्षी, द्विज, अण्डज, शकुनि, पखेरू।
• खंभा- स्तूप, स्तम्भ, खंभ।
• खंड- अंश, भाग, हिस्सा, टुकड़ा।
• खटमल- मत्कुण, खटकीट, खटकीड़ा।
• खादिम- नौकर, चाकर, भृत्य, अनुचर।
• खाविंद- पति, मियाँ, भर्तार, बालम, साजन, सैयाँ।
• खरगोश- शशक, शशा, खरहा।
• खलक- दुनिया, जगत, जग, विश्व, जहान।
• खंडन करना- खंड-खंड करना, विभाजित करना, अमान्य करना, गलत ठहराना, असत्य सिद्ध करना, रद्द करना, झूठा साबित करना, अप्रमाणित करना।
• खखारना- कफोत्सारण करना, बलगम निकालना, खाँसना।
• खजाना- कोष, निधान, निधि, कोषाकार, संग्रह, भंडार, गोदाम, अजायबघर।
• खुदगर्ज- स्वार्थी, मतलबी, स्वार्थपरायण।
• खुदा- राम, रहीम, रहमान, अल्लाह, परवरदिगार।
• खून- रक्त, लहू, शोणित, रुधिर।
• खतरनाक- संकटजनक, भयावह, जोखिम का, डरावना, खौफनाक, भयानक, आशंकाप्रद।
• खतरा- भय, डर, खौफ, आशंका, खटका, अंदेशा।
• खटका- आशंका, चिंता, फिक्र, अनिश्चय, अविश्वास, द्विविधा, संदिग्धावस्था, संदेहावस्था, खतरा, डर, भय।
• खट्टा- अम्ल, तुर्श, चुक्क।
• खत- पत्र, चिट्ठी, पाती, रेखा, लकीर।
• खबर- समाचार, हालचाल, वृतांत, संदेश, सूचना, जानकारी, संदेशा, पता, खोज, सुधि, चेत, चेतना, संज्ञा, होश।
• खबरदार- सतर्क, सावधान, सजग, जागरूक, होशियार, चौकन्ना, सचेत।
• खतरे में डालना- आपत्ति में छोड़ना, संकट में डालना, विपत्ति में डालना, जोखिम में डालना, आपदग्रस्त करना, विपदा में डालना, विपन्न करना।
• खरा- अच्छा, बढ़िया, निर्दोष, शुद्ध, निष्कपट, ईमानदार, बेलाग, सच्चा।
• खराबी- दोष, अवगुण, बुराई, अधम, खोटा, गंदा, घटिया, बेकार, सड़ियल।
• खरोंच- कटाव, निशान, दरार, भंग।
• खबर देना- सूचना देना, अवगत कराना, सूचित करना, जानकारी देना, इत्तला करना, समाचार कहना, हाल बताना, आगाह करना।
• खरगोश- शश, शशक, खरहा।
• खलबली- हलचल, शोर, व्याकुलता, आकुलता, व्यग्रता, कुलबुलाहट, उद्विग्नता, अशांति, घबराहट।
• खाद्य- भक्ष्य, आहार्य, खुराक, भोजन, भोज्य साम्रगी, आहार।
• खामोश- चुप, मौन, शांत, मूक, अनुच्चरित, निरुत्तर, स्वरहीन, निस्तब्ध।
• खर्च- व्यय, खपत, इस्तेमाल, उपयोग।
• खल- नीच, दुष्ट, धोखेबाज, छली, कपटी, दुर्जन, विश्वासघात, चुगलखोर, निर्लज्ज, कमीना।
• खालीपन- शून्यता, शून्यगर्भता, निर्जनता, रिक्क्ता, निस्तब्धता, खोखलापन।
• खास- विशेष, मुख्य, प्रधान, निजी, आत्मीय, प्रिया, शुद्ध-विशुद्ध, खालिस।
• ख़ामोशी- मौन, चुप्पी, मूकता, निशब्दता, नीरवता।
• खाल- चाम, चमड़ा, त्वचा, चर्म, चमड़ी, खल्ल, चमरू, चर्मिका।
• खाली- रिक्त, रीता, खोखला,केवल, कोरा, सादा, सिर्फ।
• खीझना- झुँझलाना, ठुनकना, झल्लाना, चिढ़ना।
• खुश- सानंद, हर्षोत्फुल्ल, हर्षजनक, हर्षित, आनंदित, आनंद।
• खिन्न- व्यथित, चिंतित, विकल, व्यग्र, व्याकुल, आकुल, दुःखी, उदास, निरानंद, विषण्ण, म्लान, अन्यमनस्क, अप्रसन्न।
• खीझ- चिढ, कुढ़न, झुँझलाहट, झल्लाहट, रोष।
• खूँटी- मेख, टंगनी, कील।
• खूनी- रक्तपिपासु, हत्यारा, कातिल, हिंसक।
• खुशबूदार- सुवासित, सुगंधित, सुरभित, सुगंधपूर्ण।
• खुशामद करना- चाटुकारिता करना- चापलूसी करना, मक्खन लगाना।
• खूँखार- क्रूर, निर्दय, निर्मम, जालिम, भयानक, भयंकर, जानलेवा, प्राणघातक।
• खेद- ग्लानि, दुःख, रंज, शोक, मनोव्यथा, संताप, अफ़सोस, मलाल, रंज।
• खोज- तलाश, अनुसंधान, अविष्कार, अन्वेषण, शोध, अन्वीक्षण, छानबीन, तफतीश, तहकीकात।
• खूबसूरती- लावण्य, मनोहरता, सुन्दरता, रमणीयता, कांति, शोभा, श्री, मनोज्ञता।
• खेती- कृषि, कृषिकर्म, किसानी, काश्त, कृषिकार्य, खेतीबाड़ी।
• खोजने वाला- अनुसंधानकर्त्ता, अन्वेषणकर्त्ता, तलाश करने वाला।
• खोटा- अशुद्ध, मिलावटी, दूषित, विकृत, बनावटी, अनुचित, खराब, बुरा।
• खोजना- मालूम करना, जाँच-पड़ताल करना, गवेषणा करना, छानबीन करना, अनुसंधान करना, अन्वेषण करना, तलाश करना, तहकीकात करना।
• ख्याल- ध्यान, विचार भाव, सम्मति, आदर, लिहाज, सम्मान, मनोवृति, ध्यान।
• गणेश- विनायक, गजानन, गौरीनंदन, मूषकवाहन, गजवदन, विघ्रनाशक, भवानीनन्दन, विघ्रराज,
• गुरु- शिक्षक, आचार्य, उपाध्याय।
• गणेश- विनायक, गणपति, लंबोदर, गजानन्।
• गन्ना- ईख, इक्षु, उक्षु, ऊख।
• गाफिल- बेखबर, बेपरवाह, असावधान।
• गिरि- पहाड़, मेरु, शैल, महीधर, धराधर, भूधर।
• गुलामी- दासता, परतंत्रता, परवशता।
• गेहूँ- कनक, गोधूम, गंदुम।
• ग्राह- मगरमच्छ, घड़ियाल, मगर, झषराज।
• गदहा- खर, गर्दभ, धूसर, रासभ, बेशर, चक्रीवान, वैशाखनन्दन।
• गंभीर- अथाह, गहरा, अतल, घना, गहन, सघन, भारी, विकट, घोर, भावसंयमी, भावगोप्ता, संयत, धीर, शांत, सरल, अप्रदर्शनशील, गूढ़, जटिल, कठिन, दुर्गम, दुर्भेद्य, दुरुह।
• गति- चाल, वेग, रफ़्तार, गमन, हरकत, स्पंदन, दशा, अवस्था, हाल, हालत, स्थिति, माया, लीला।
• गतिशील- चल, अस्थिर, चलनशील, चलंत, चलता-फिरता, गतिमान।
• गर्भ- भ्रूण, गर्भपिण्ड, अर्भ, अर्भक।
• गर्म- उष्ण, उत्तप्त, तप्त, ज्वलंत।
• गहन- अभेद्य, दुर्गम, घना, निविड़, सघन, गंभीर, गहरा।
• गाड़ी- शकट, सवारी, वाहक, यान, वाहन, बैलगाड़ी।
• गाली- अपशब्द, दुर्वचन, अशिष्ट-उक्ति, अश्लील कथन, गाली-गलौज, अपभाषा, कुत्सित भाषा, बदजबानी।
• गिरवी रखना- बंधक रखना, रेहन रखना।
• गिरावट- अपकर्ष, अधःपात, पतन, अधः पतन, अपकर्षण।
• गीला- आर्द्र, अशुष्क, सिक्त, तर, नम, भीगा।
• गुड़िया- पुत्रिका, पुत्तलिका, पांचालिका, पुतली।
• गुण- विशेषता, खूबी, योग्यता, निपुणता, प्रवीणता, काबिलियत।
• गुप्त- छिपा हुआ, अप्रत्यक्ष, परोक्ष, अप्रकट, गोपित, गूढ़, प्रच्छन्न, अंतर्निहित, गूढ़, कठिन, जटिल।
• गुलछर्रे उड़ाना- आमोद-प्रमोद करना, ख़ुशी मनाना।
• गुलाम- दास, सेवक, नौकर, अनुचर, परतंत्र, पराधीन, परवश।
• गोबरगणेश- मूर्ख, अनाड़ी, बेवकूफ, जड़।
• गोरा- गौर, धवल, श्वेतपूर्ण, हिमवर्ण।
• ग्वालिन- अहिरिन, गोपी, गोपवधू।
• घर- आलय, आवास, गेह, गृह, निकेतन, निलय, निवास, भवन, वास, वास-स्थान, शाला, सदन।
• घना- घन, सघन, घनीभूत, घनघोर, गझिन, घनिष्ठ, गहरा, अविरल।
• घपला- गड़बड़ी, गोलमाल, घोटाला।
• घुमक्कड़- भ्रमणशील, पर्यटक, यायावर।
• घटक- कलश, घड़ा, कुम्भ, संघटक, कारक, तत्व, अवयव, अंग, उपांश, भाग, उपादान।
• घटना- वाकया, माजरा, मामला।
• घरेलू- हिला-मिला हुआ, सधा हुआ, पला हुआ, पालतू।
• घाट- भरणतट, घट्ट, नदीतट अवस्थानतट।
• घाटा- हानि, टोटा, नुकसान।
• घुटना- ठेघुँना, घुटिक, साँस रुकना।
• घुमाना- चक्कर देना, फेरा देना, नचाना, गोलाई में चलाना, सैर कराना, टहलाना, भ्रमण कराना, रमाना, विचरण कराना।
• घृणाजनक- घृणात्मक, घनौना वितृष्णाजनक, कुत्सित, विरक्तिकर, वमनोत्पादक, अप्रीतिकर अप्रिय।
• घृणापूर्ण- अवज्ञासूचक, तिरस्कारी, घृणित, तिरस्कारपूर्ण, अवमानी, अवहेलनात्मक।
• घोषणा- उद्घोषण, ऐलान, सूचना, विज्ञप्ति, अधिसूचना, डुग्गी।
• चतुर- विज्ञ, निपुण, नागर, पटु, कुशल, दक्ष, प्रवीण, योग्य।
• चंडी- दुर्गा, अंबा, काली, कालिका, जगदंबिका, भगवती।
• चंदन- गंधराज, गंधसार, मलयज।
• चतुरानन- विधाता, ब्रह्मा, सृष्टा, सृष्टिकर्ता।
• चना- चणक, रहिला, छोला।
• चारु- कमनीय, मनोहर, आकर्षक, खूबसूरत।
• चावल- तंदुल, धान, भात।
• चूहा- मूसा, मूषक, मुसटा, उंदुर।
• चेहरा- शक्ल, आनन, मुख, मुखड़ा।
• चोरी- स्तेय, चौर्य, मोष, प्रमोष।
• चौकन्ना- सचेत, सजग, सावधान, जागरूक, चौकस।
• चकराना- चक्कर खाना, सिर घूमना, घूमना, फिरना, घूमता-सा दिखाई देना।
• चढ़ाव- आरोहण, आरोहन, प्ररोहण, आरोह।
• चमक- प्रकाश, ज्योति, रोशनी, दमक, प्रभा, झलक, झलमल, चमक-दमक, रौनक, जगमगाहट।
• चरित्र- चाल-चलन, चलन स्वभाव, व्यवहार, आचरण, करनी, शील, सदाचार, आचार।
• चरित्रहीन- चरित्रभ्रष्ट, दुश्चरित्र, अनैतिक, दुराचारी, कामुक, व्यभिचारी, व्यसनी, बदचलन, अधम, अवारा।
• चहल- आनंदोत्सव, धूमधाम, चहल-पहल, रौनक।
• चांडाल- अंत्यज, श्वपच, शुद्र, अस्पृश्य, अछूत, श्वपाक, नीच, पतित।
• चाल- गति, वेग, रफ़्तार, आचरण, चाल-ढाल, बनावट, रीति, रस्म, प्रथा, ढंग, प्रकार, चालाकी, चतुराई।
• चिन्ता- ध्यान, फिक्र, सोच, ऊहापोह, परवाह, विचार, उद्विग्नता, अधीरता, रंज, दुःख, शोक व्यथा।
• चिकित्सालय- अस्पताल, दवाखाना, शफाखाना, औषधालय।
• चिन्ह- लक्षण, निशान, छाप, पहचान, संकेत, प्रतीक, सूचक, द्योतक।
• चीख- क्रंदन, आक्रंदन, कर्कशनाद, चीत्कार, चिल्लाहट, कूक।
• चीज- पदार्थ, वस्तु, द्रव्य।
• चीनी- शर्करा, शक़्कर, खांड।
• चुगली- परिवाद, प्रवाद, कुत्सा, निंदा, द्वेषपूर्ण, चुगलखोरी।
• चेतना- चेत, होश, ज्ञान, मनोज्ञान, संज्ञा, सुधबुध, बोध, विचारना, समझना, सावधान होना।
• चौक- आँगन, सेहन, चबूतरा, चौहट्टा।
• चौकसी- निगरानी, निगहबानी, सावधानी, होशियारी सजगता, सर्तकता।
• छिछोरापन- ओछापन, क्षुद्रता, तुच्छता, लघुता, नीचता।
• छिद्र- छेद, रंध्र, सूराख, बिल, गड्ढ़ा, कोटर।
• छतरी- छत्र, छाता, छत्ता।
• छीछालेदर- दुर्गति, दुर्दशा, फजीहत, किरकिरी।
• छुट्टी- अवकाश, फुर्सत, रुखसत, विश्राम, विराम, कार्यनिवृत।
• छूट- मुक्ति, छुटकारा, निस्तार, सुविधा, सहूलियत, ढील, कटौती।
• छानबीन- जाँच, पूछताछ, खोज, अन्वेषण, शोध, गवेषण।
• छैला- सजीला, बाँका, शौकीन।
• छँटनी- कटौती, छँटाई, काट-छाँट।
• छाती- सीना, वक्ष, वक्षस्थल, उर, उरोज, कुच, पयोधर, वक्षस्थल।
• छींटाकशी- ताना, व्यंग्य, फब्ती, कटाक्ष।
• छोर- सीमा, पराकोटि, अत्यंत, अंत, नोक, कोर, किनारा, सिरा।
• छाया- छाँह, छाँव, परछाई, प्रतिबिम्ब, प्रतिकृति, साया, प्रतिच्छाया।
• छिछला- अल्पबुद्धि, अल्पमति, तुच्छ, ओछा, उथला, कम गहरा, हल्का।
• छिन्न-भिन्न- टूटा-फूटा, तितर-बितर, बिखरा, छितराया हुआ, अस्त-व्यस्त।
• छोह- ममता, स्नेह, प्रेम, दया, कृपा, अनुग्रह।
• जल- मेघपुष्प, अमृत, सलिल, वारि, नीर, तोय, अम्बु, उदक, पानी, जीवन, पय, पेय।
• जहर- गरल, कालकूट, माहुर, विष ।
• जानकी- सीता, वैदही, जनकसुता, मिथिलेशकुमारी, जनकतनया, जनकात्मजा।
• जंग- लड़ाई, संग्राम, समर, युद्ध।
• जईफी- वृद्धावस्था, बुढ़ापा, बुजुर्गी।
• जन्नत- स्वर्ग, सुरधाम, बैकुंठ, सुरलोक, हरिधाम।
• जन्मांध- सूरदास, अंधा, आँधरा, नेत्रहीन।
• जबह- वध, हत्या, कत्ल, खून।
• जमीन- धरती, भू, भूमि, पृथ्वी, धरा, वसुंधरा।
• जय- जीत, फतह, विजय।
• जवानी- युवावस्था, यौवन, तारुण्य, तरुणाई।
• जहीन- बुद्धिमानी, अक्लमंद, मेधावी, मेधावान, तीक्ष्ण बुद्धि।
• जाँघ- उरु, जानु, जघन, जंघा, रान।
• जिंदगी- जिंदगानी, जीवन, हयात।
• जिल्लत- अपमान, तिरस्कार, अनादर, तौहीन, बेइज्जती।
• जुलाहा- बुनकर, कोली, कोरी।
• जोहड़- तालाब, तलैया, तड़ाग, सरोवर, जलाशय।
• ज्ञानी- विद्वान, सुविज्ञ, आलिम, विवेकी, ज्ञानवान।
• जगाना- सक्रिय बनाना, चेष्टायुक्त करना, प्रबुद्ध करना, चेतन बनाना, जागरूक करना, जागृत करना, उठाना।
• जटिल- पेचीला, पेंचदार, उलझा हुआ, कठिन, विकट, मुश्किल, विषम।
• जनसेवक- अधिसेवक, पदाधिकार, लोकसेवक, लोकाचारी।
• जन्म- उत्पत्ति, उद्भव, प्रसूति, जीवन, आरम्भ, शुरुआत, श्रीगणेश।
• जन्मजात- जन्मज, जन्मगत, सहज, वंशगत, स्वाभाविक, प्राकृत, प्राकृतिक, अकृत्रिम, असली, वास्तविक।
• जहरीला- जहर मिला, जहर भरा, विषैला, विष भरा, विषयुक्त, प्राणहारी।
• जागरूक- प्रबुद्ध, सावधान, सचेत, खबरदार, चेतन, होशियार, चौकन्ना।
• जादू- इंद्रजाल, माया, कौतुक, चमत्कार, वशीकरण, सम्मोहन।
• जानकार- परिचित, विज्ञ, निपुण, कुशल, प्रवीण।
• जानलेवा- प्राणान्तक, घातक, प्राणघातक, मारक।
• जालसाजी- षड्यंत्र, कपट, जाल, धोखाधड़ी, ठगी।
• जालिम- पाशविक, क्रूर, निर्दय, हिंसक, बर्बर, निष्ठुर, बेदर्द, बेरहम।
• जिम्मा- दायित्व, उत्तरदायी, जवाबदेही, जिम्मेवारी, उत्तरदायी।
• जिम्मेदार- उत्तरदायी, उत्तरदेय, उत्तरदाता, जिम्मेवार, जवाबदेह।
• जी- मन, दिल, चित्त, हिम्मत, जीवट, साहस।
• जुलाब- रेचक, दस्तावर।
• जूता- पदत्राण, उपानह, पादुका, पनही, चर्मपादुका।
• जैसे- उसी तरह से, जिस तरह से, ज्यों ही, जिस प्रकार।
• जोंक- रक्तपा, जलूका, जलाका, जलोका, जलौका।
• जोकर- वैहासिक, विदूषक, ठिठोलिया, भाँड, मसखरा, हँसोड़।
• जोखिम उठाना- आग से खेलना, आग में कूदना, अंगारों पर पैर रखना, तलवार की धार पर चलना, ओखली में सिर देना, साहसपूर्ण कार्य करना, संकट का सामना करना, खतरा मोल लेना।
• जोर- बल, शक्ति, ताकत, ऊर्जा, वश, अधिकार, परिश्रम, मेहनत।
• ज्येष्ठ- जेठा, बड़ा, अग्रज।
• ज्योतिषी- दैवज्ञ, गणक, भविष्यवक्ता, खगोलज्ञ।
• ज्वाला- लपट, लौ, अग्निशिखा, ज्योति, शिखा, गर्मी, ताप, जलन।
• झरना- उत्स, स्रोत, प्रपात, निर्झर, प्रस्त्रवण।
• झण्डा- ध्वजा, पताका, केतु।
• झंझा- अंधड़, आँधी, बवंडर, झंझावत, तूफान।
• झाँसा- दगा, धोखा, फरेब, ठगी।
• झींगुर- घुरघुरा, झिल्ली, जंजीरा, झिल्लिका।
• झटकना- छीनना, मार लेना, लूट लेना, हथिया लेना, ऐंठना।
• झटपट- वेगपूर्ण, तीव्रता से, तुरंत, जल्दी से, तेजी से।
• झड़प- झंझट, झगड़ा, तू-तू-मैं-मैं, बखेड़ा, हाथापायी, तकरार।
• झिझक- दुविधा, अनिर्णय, असमंजस, संकोच, हिचकिचाहट, आगा-पीछा।
• झींसी- फुहार, जलकण।
• झुंड- समूह, गिरोह, समुदाय, जत्था, गण, भीड़, दल, जमघट, टुकड़ी।
• झूठा- मिथ्या, अप्रकृत, अवास्तव, नकली, बनावट, कल्पित, कूट, दिखावटी, असत्यवादी, मिथ्यावादी।
• झूमना- काँपना, हिलना, डोलना, लहराना, झोंका, खाना, झूलना।
• झोंकना- फेंकना, ढकेलना, गिराना, डालना, घुसेड़ना।
• झोंपड़ी- पर्णकुटी, पर्णशाला, कुटी, कुटिया, कुटीर, झुग्गी।
• टकराना- टक्कर खाना, भिड़ना, चोट खाना, लड़ जाना, ठोकर खाना।
• टका- सिक्का, रुपया, धन, द्रव्य।
• टाँकना- लगाना, नत्थी करना, जोड़ना, सिलाई करना, अटकाना, जोड़ना।
• टाँका- सिलाई, सीवन, चिप्पी, जोड़।
• टालमटोल- हीला-हवाला, आनाकानी, बहाना।
• टिकट- प्रवेशपत्र, प्रमाणपत्र, अधिकार पत्र।
• टिका हुआ- अवलंबित, सहारा लिए हुए।
• टिमटिमाना- झिलमिलाना, चमचमाना, जगमगाना।
• टीस- शूल, पीड़ा, वेदना, कसक, चुटकी, ऐंठन, चुभन, कष्ट, दर्द, तकलीफ।
• टेढ़ा- कुटिल, टेढ़ा-मेढ़ा, घुमावदार, अटपटा, पेंचीदा, जटिल, कठिन, मुश्किल।
• टोकरी- झाँपी, झपोली, डलिया, चँगेरी, खाँची।
• टक्कर- मुठभेड़, लड़ाई, मुकाबला।
• टहलुआ- नौकर, सेवक, खिदमतगार।
• टाँग- पाँव, पैर, टंक।
• टंटा- झगड़ा, लफ़ड़ा, पचड़ा, झंझट, उपद्रव, दंगा, फ़साद, तकरार, प्रपंच।
• टसुआ- अश्क, अश्रु, आँसू।
• टेर- बुलावा- गुहार, पुकार, आह्वान।
• ठंडा- शीतल, सर्द, शांत, गम्भीर, सुस्त, मंद, धीमा, उदासीन, भावहीन।
• ठहरना- रुकना, थमना, टिकना, विराम, स्थित होना, प्रतीक्षा करना, इंतजार करना।
• ठाट- तड़क-भड़क, शोभा, सजावट, आयोजन, तैयारी, व्यवस्था, प्रबंध, झुंड, दल, समूह।
• ठिठुरना- शीत लगना, काँपना, थरथराना, सिकुड़ना।
• ठिठोली- चुहल, फबती, व्यंग्य, मजाक, उपहास, दिल्लगी।
• ठेका- निविदा, प्रस्ताव, टेण्डर, संविद, जिम्मा, इजारा, पट्टा।
• ठेलना- खिसकाना, बढ़ाना, ढकेलना, धकियाना, सरकाना।
• ठंड- ठंड, शीत, सर्दी।
• ठग- छली, छलिया, फ़रेबी, वंचक, धूर्त, धोखेबाज।
• ठेठ- निपट, निरा, बिल्कुल।
• ठटरी- कंकाल, पंजर, अस्थिपंजर, ठठरी।
• ठहाका- कहकहा, अट्टहास, खिलखिलाना।
• ठाकुरद्वारा- मंदिर, देवालय, शिवाला, देवस्थान।
• ठुड्डी- ठुड्डी, हनु, चिबुक, ठोड़ी।
• ठेस- चोट, आघात, धक्का।
• डकारना- डकार लेना, गरजना, दहाड़ना।
• डराना- आतंकित करना, भयभीत करना, हतोत्साहित करना, भयातुर करना, थर्रा देना।
• डरावना- भयावह, भयंकर, भयानक, भयप्रद, विकराल, आतंकपूर्ण, विकट, खौफनाक, खतरनाक।
• डरा हुआ- आशंकित, आतंकित, भयभीत, भयग्रस्त, त्रस्त।
• डाँवाडोल- अस्थिर, गतिशील, परिवर्तनशील, विचलित, डगमगाता हुआ।
• डाका डालना- अपहरण, लूटमार करना, लूटना, डाकाजनी।
• डील-डौल- रूप, स्वरूप आकृति, आकार, ढाँचा, बनावट, कदकाठी, लम्बाई-चौड़ाई, शरीर रचना, देह, विन्यास, शारीरिक गठन।
• डोरा- धागा, डोर, तागा, सूत्र, सूत, ताँत, सूता, रस्सी।
• डोरी- डोर, रस्सी, सुतली, ताँत, जेवरी।
• डंडा- सोंटा, छड़ी, लाठी।
• डाली- भेंट, उपहार।
• डर- आतंक, धाक, रौब, त्रास, खौफ, भय, दहशत, भीति।
• डाह- द्वेष, ईर्ष्या, जलन, कुढ़न।
• ढब- ढंग, रीति, तरीका, ढर्रा।
• ढाँचा- पंजर, ठठरी।
• ढीला-ढाला- शिथिलता, आलसी, सुस्ती, अतत्परता।
• ढूँढ- खोज, तलाश।
• ढिग- समीप, निकट, पास, आसन्न।
• ढिबरी- दीया, चिराग, डिबिया, लैंप।
• ढोल- ढोलकी, ढोलक, पटह, प्रणव।
• ढहाना- उद्ध्वस्त करना, खंडकरण करना, तोड़-फोड़ देना, गिराना, गिरवाना।
• ढिलाई- ढीलापन, सुस्ती, आलस्य।
• ढेर- राशि, पिंड, पुंज, बहुत, ज्यादा, अधिक।
• ढोर- चौपाया, मवेशी।
• तालाब- सरोवर, जलाशय, सर, पुष्कर, ह्रद, पद्याकर , पोखरा, जलवान, सरसी, तड़ाग।
• तामरस- कमल, पंकज, सरसिज, नीरज, पुण्डरीक, इन्दीवर।
• तिमिर- तम, अंधकार, अंधेरा, तमिस्त्रा।
• तंगदस्त- तंगहाल, गरीब, फटेहाल, निर्धन।
• तड़ित- विद्युत, बिजली, दामिनी, सौदामिनी, गाज।
• तथागत- बुद्ध, सिद्धार्थ, बोधिसत्व, गौतम।
• तपस्वी- तापस, मुनि, संन्यासी, व्रती, योगी, साधू, बैरागी।
• तपेदिक- टी.बी., दिक, यक्ष्मा, राजयक्ष्मा।
• तमारि- सूरज, सूर्य, दिवाकर, दिनकर, आदित्य, भानु, भास्कर।
• तरनी- नौका, नाव, किश्ती, नैया।
• तहजीब- संस्कृति, सभ्यता, तमद्दुन।
• तिजारत- व्यवसाय, व्यापार, सौदागरी।
• तिरिया- स्त्री, औरत, महिला, ललना।
• तुला- तराजू, काँटा, धर्मकाँटा।
• त्वचा- चर्म, चमड़ा, चमड़ी, खाल।
• तीर- शर, बाण, विशिख, शिलीमुख, अनी, सायक।
• तंद्रा- अर्धनिद्रा, झपकी, आलस्य, थकावट।
• तकलीफ- कष्ट, दुःख, पीड़ा, क्लेश, दर्द, संकट, विपत्ति, मुसीबत, बीमारी।
• तनिक- जरा सा, थोड़ा सा, तिल भर, चुटकी भर, रत्ती भर।
• तनु- दुबला, पतला, अल्प, थोड़ा, कम, देह, शरीर, तन।
• तरंग- लहर, ऊर्मि, उल्लोल, हिलोर, कंपन, मौज, लहर।
• तरकारी- शाक, सालन, सब्जी।
• तसल्ली- दिलासा, ढाढ़स, सांत्वना।
• ताकना- देखना, घूरना, निहारना।
• तादाम्य- ऐकात्म्य, ऐक्य, एकात्मता, अभिन्नता, समरूपता, तल्लीनता।
• तान- खींच, फैलाव, विस्तार, लय, स्वर, सुर।
• तारा- नक्षत्र, सितारा, तारक, किस्मत, भाग्य, ग्रह।
• तारीख- तिथि, दिनांक, मिति।
• तालमेल- सामंजस्य, समध्वनि, स्वरसंगति, स्वरैक्य।
• तीव्र- तेज, तीक्ष्ण, प्रखर, कटु, कडुवा, तीता।
• तुंग- ऊँचा, उन्नत, उग्र, तीव्र, प्रधान, मुख्य।
• तुच्छ- खोखला, सारहीन, निःसार, अल्प, थोड़ा, नीच, घटिया, दो कौड़ी का, दुष्ट।
• तूफान- आंधी, झंझा, चक्रवात, तीव्रगति।
• तैयार- उद्यत, तत्पर, प्रस्तुत, कटिबद्ध, मुस्तैद, उपस्थित, सन्नद्ध, उत्सुक, उन्मुख।
• तोता- शुक, सूआ, कीर, प्रियदर्शन, सुग्गा, मियाँमिट्ठु।
• त्रुटि- कमी, न्यूनता, अभाव, अशुद्धि, भूल, चूक, अपराध।
• थप्पड़- तमाचा, झापड़।
• थकान- थकावट, श्रांति, थकन, परिश्रांति, क्लांति।
• थोबड़ा- मुखड़ा, मुँह, थूथन।
• थंभ- खंभ, खंभा, स्तम्भ।
• थका माँदा- क्लान्त, श्रान्त, परिश्रान्त, थका हुआ, उकताया हुआ।
• थाह- अंत, सीमा, हद, पता, परिचय, जानकारी, अंदाज।
• दूध- दुग्ध, दोहज, पीयूष, क्षीर, पय, गौरस, स्तन्य।
• दास- नौकर, चाकर, सेवक, परिचारक, अनुचर, भृत्य, किंकर।
• द्रव्य- धन, वित्त, सम्पदा, विभूति, दौलत, सम्पत्ति।
• दैत्य- असुर, इंद्रारि, दनुज, दानव, दितिसुत, दैतेय, राक्षस।
• दरिद्र- निर्धन, ग़रीब, रंक, कंगाल, दीन।
• दिन- दिवस, याम, दिवा, वार, प्रमान, वासर, अह्न।
• दुष्ट- पापी, नीच, दुर्जन, अधम, खल, पामर।
• दाँत- दशन, रदन, रद, द्विज, दन्त, मुखखुर।
• दया- अनुकंपा, अनुग्रह, करुणा, कृपा, प्रसाद, संवेदना, सहानुभूति, सांत्वना।
• देव-अमर, देवता, सुर, निर्जर, वृन्दारक, आदित्य।
• दनुज- असुर, दानव, दैत्य, राक्षस, निशाचर।
• दरख्त- वृक्ष, तरु, पेड़, विटप, द्रुम।
• दरियादिल- उदार, दानी, दानशील, फ़राख़दिल।
• दशरथ- अवधेश, कौशलपति, दशस्यंदन, रावण।
• दस्तूर- रीति-रिवाज, प्रथा, परंपरा, चलन।
• दादुर- मेंढक, मंडूक, भेक।
• दिवंगत- स्वर्गीय, मृत, मरहूम, परलोकवासी।
• दीदा- नेत्र, नयन, आँख, चक्षु।
• दुर्जन- दुष्ट, खल, शठ, असाधु, पतित, असज्जन।
• दुर्भिक्ष- अकाल, दुकाल, दुष्काल, सूखा।
• दुश्मन- रिपु, वैरी, अरि, शत्रु, बैरी।
• दुष्कर- कठिन, दुसाध्य, दूभर, मुश्किल।
• देशाटन- यात्रा, विहार, पर्यटन, देशभ्रमण।
• देहाती- ग्रामवासी, ग्रामीण, ग्राम्य।
• द्वैत- जोड़ा, युगल, द्वय, यमल, युग, युति।
• दंग- विस्मित, चकित, घबराहट, भौचक्का।
• दंगा- उपद्रव, उत्पात, शोरगुल, लड़ाई, झगड़ा, फ़साद।
• दफा- बेर, आवृत्ति, बार।
• दफ्तर- कार्यालय, आफिस।
• दयाहीन- ह्रदयहीन, बेदर्द, संवदेनाशून्य, अकरुण, बेरहम, निर्दय, कठोर।
• दरार- रंक, निर्धन, कंगाल, दीन, गरीब, फटीचर, फटेहाल।
• दर्जा- श्रेणी, पद, पदवी, हद, सीमा, कक्षा, क्लास, वर्ग, श्रेणी।
• दर्प- घमंड, अहंकार, गर्व, अभिमान, उदंडता, दबदबा, प्रभाव।
• दल- पत्र, पत्ता, पंखुड़ी, समूह, झुंड, गुट, गिरोह।
• दलना- पीसना, कुचलना, मसलना, नष्ट करना, ध्वस्त करना, तोड़ना, खंडित करना।
• दस्ता- डंडा, सोंटा, छड़ी, टुकड़ी, दल, समूह।
• दस्तावेज- अधिकारपत्र, प्रलेख, प्रपत्र, क़ानूनी, कागज।
• दाई- धात्री, धाय, उपमाता, आया।
• दावा- अधिकार, मुकदमा, जोर, गर्व, घमंड।
• दिखावटी- दर्शनार्थ, दिखाऊ।
• दिलावर- बहादुर, साहसी, वीर, उत्साही, साहसिक, हिम्मती।
• दिशा- ओर, तरफ, दिक्, जानिब।
• दीक्षा- गुरुमंत्र, मंत्रोपदेश, उपनयन, संस्कार।
• दीर्घ- बड़ा, लंबा, विशाल, बड़ा, ऊँचा, विस्तृत।
• दीवाली- दीपावली, दीपमाला, दीपमालिका, दीपोत्सव।
• दुर्दशा- बुरी, दशा, खराब, हालत, अवस्था, दुर्गति।
• दुःशील- अविनीत, अभद्र, अशिष्ट, उद्दंड।
• दूर- परे, पृथक, अलग, भिन्न।
• दृढ- पुष्ट, मजबूत, कड़ा, शक्तिशाली, स्थायी, अटल, निडर, निर्भय, दृष्टि, विचार, सिद्ध।
• देवता- अमर, देव, सुर, त्रिदिवेश, विश्वरूप, आकाशचारी।
• देववाला- देववधू, देवांगना, अप्सरा, मेनका।
• दैत्य- असुर, राक्षस, रजनीचर, निशाचर, पिशाच।
• दोगला- संकर, वर्णसंकर, हरामी, अधर्मज।
• दोष- अवगुण, ऐब, खराबी, विकार, खामी, बुराई, अपराध, कुसूर, जुर्म।
• द्रोपदी- पांचाली, कृष्णा, याज्ञसेनी, सैरंध्री, द्रुपदसुता।
• द्वंद्व- दुविधा, कशमकश, उधेड़बुन।
• धन- दौलत, संपत्ति, सम्पदा, वित्त।
• धनंजय- अर्जुन, सव्यसाची, पार्थ, गुड़ाकेश, बृहन्नला।
• धनु- धनुष, पिनाक, शरासन, कोदंड, कमान, धनुही।
• धात्री- धाय, उपमाता, आया, दाई।
• धान- चावल, चाउर, तंदुल, शालि, व्रीहि।
• धी- अक्ल, दिमाग, बुद्धि, मति, प्रज्ञा, मेधा, विवेक।
• धेनु- गऊ, गाय, गैया, गौ, गोमाता, सुरभि।
• ध्येय- प्रयोजन, अभिप्राय, लक्ष्य, मकसद, उद्देश्य।
• धनुष- चाप्, शरासन, कमान, कोदंड, पिनाक, सारंग, धनु।
• धक्का- टक्कर, ठोकर, आघात, झोंका, संकट, विपत्ति, मुसीबत।
• धनुर्धर- कमनैत, धन्वी, धनुष्मान, धानुष्क।
• धन्यवाद- आभार, शुक्रिया, मेहरबानी, वाहवाही, प्रशंसा, बड़ाई, शाबासी, तारीफ।
• धरोहर- अमानत, जमा, प्रतिभूति, निक्षेप, गिरवी, न्यास।
• धवल- श्वेत, उजला, सफेद, निर्मल, स्वच्छ, साफ, मनोहर, सुन्दर, आकर्षक।
• धाम- घर, मकान, गृह, तीर्थ, देवस्थान, पुण्यस्थान।
• धार- तेज, किनारा, तेज, नोंक, सिरा, किनारा, छोर।
• धुंध- कोहरा, कुहासा, नीहार।
• धुन- लगन, झुकाव, लगाव, तरंग, लहर, मौज।
• धूम- हल्ला, ठाटबाट, समारोह, उत्सव, आयोजन, चहल-पहल।
• धूमकेतु- पुच्छल तारा, उल्का।
• धृष्ट- निर्लल्ज, बेहया, ढीठ, उद्दंड, गुस्ताख़।
• धोखा- छल, भुलावा, भ्रम, संदेह, कपट, धूर्तता, दगाबाजी, मक्कारी, चाल, बेईमानी।
• धोखेबाज- कपटी, मक्कार, ठग, कुटिल, चालबाज।
• ध्वज- चिन्ह, निशान, अंक, झंडा, पताका, ध्वजा।
• ध्वस्त- खंडित, भग्न, टूटा-फूटा, नष्ट- भ्रष्ट, पराजित, हारा हुआ।
• नर्क- यमलोक, यमपुर, नरक, यमालय।
• नर- जन, मानव, मनुष्य, पुरुष, मर्त्य, मनुज।
• निंदा- दोषारोपण, फटकार, बुराई, भर्त्सना।
• नक्षत्र- उडु, तारिका, नखत, जुन्हाई।
• नगपति- हिमालय, पर्वतराज, पर्वतेश्वर, नगेश, नगेंद्र, शैलेन्द्र।
• नजीर- मिसाल, दृष्टांत, उदाहरण।
• नसैनी- जीना, सीढ़ी, सोपान।
• नाऊ- हज्जाम, हजाम, क्षौरकार, नाई, नाऊठाकुर।
• नामर्द- क्लीव, नपुंसक, पुंसत्वहीन।
• नाहर- शेर, सिंह, मृगराज, मृगेंद्र, केसरी, केहरी।
• निभृत- एकांत, निर्जन, जनशून्य, विजन, वीरान, सुनसान।
• निराला- अनूठा, अनोखा, अपूर्व, अद्भुत, अद्वितीय।
• निवेदन- विनय, अनुनय, विनती, प्रार्थना, गुजारिश, इल्तजा।
• नीरस- फीका, बेरस, बेजायका, अस्वाद।
• नूतन- नव, नवल, नव्य, नवीन।
• नूर- आभा, आलोक, कांति, तेज, प्रकाश।
• नया- नूतन, नव, नवीन, नव्य।
• नंगा- नग्न, वस्त्रहीन, दिगम्बर, निर्लल्ज, बेशर्म, दुष्ट, लुच्चा।
• नंदन- लड़का, पुत्र, बेटा, स्वर्ग, सुरवाटिका, देव, उपवन।
• नंबर- अंक, संख्या, गणना, गिनती।
• नजर- दृष्टि, निगाह, कृपादृष्टि, दयादृष्टि, निगरानी, देखरेख, भेंट, उपहार, पहचान।
• नटी- नर्तकी, अभिनेत्री, मंचनायिका, मंचतारिका।
• नम- गीला, तर, आर्द्र, भींगा हुआ।
• नमकीन- नमकयुक्त, लावणिक, लवणमय, लवणयुक्त।
• नवयुवक- नौजवान, तरुण, किशोर, कुमार, वर्धमान, यौवनोन्मुख।
• नाम- संज्ञा, अभिख्या, अभिधान, शीर्षक, प्रसिद्धि, ख्याति, यश, कीर्ति।
• नामी- विख्यात, प्रख्यात, प्रसिद्धि, मशहूर, लब्धप्रतिष्ठ, विश्रुत।
• नाश- पतन, अवनति, गिरावट, विध्वंस, संहार, क्षय, विनाश, बरबादी, तबाही।
• निकट- पास का, समीप का, पास-पास, साथ-साथ, आसन्न, नजदीक, सन्निकट।
• निकम्मा- बेकार, निठल्ला, निखट्टू, गोबरगणेश, मिट्टी का माधो।
• निखट्टू- निकम्मा, आलसी, अकर्मण्य, निठल्ला।
• निगोड़ा- अकर्मण्य, बेकार, निठल्ला, अभागा, भाग्यहीन, निराश्रम।
• निडर- निर्भय, निर्भीक, निःशंक, दिलेर, साहसी, हिम्मती, दिलावर, धृष्ट, ढीठ, उद्दंड।
• निढाल- थका-माँदा, शिथिल, सुस्त, अशक्त, उत्साहहीन।
• नित्य- शाश्वत, अमर, अनश्वर, अमर्त्य, अविनाशी, प्रतिदिन, रोज, सदा, नितप्रति, हररोज, हर रोज।
• निपट- विशुद्ध, खाली, एकमात्र, एकदम, सरासर, बिलकुल, बहुत, अधिक।
• निपुण- कुशल, चतुर, अनुभवी, योग्य, काबिल, अभिज्ञ, पूर्णतः।
• निरंतर- अटूट, अनवरत, अविरल, अविराम, आठों पहर।
• निरपेक्ष- लापरवाह, बेफिक्र, निरालंब, निराश्रित, अलग, तटस्थ, उदासीन।
• निरर्थक- बेकार, अर्थहीन, अर्थशून्य, निष्फल, व्यर्थ, असंगत, फिजूल।
• निरोध- रोक, अवरोध, रुकावट।
• निर्जीव- सारहीन, निष्प्रभाव, मुर्दा, प्राणरहित, प्राणहीन, निष्प्राण।
• निर्धन- धनहीन, दरिद्र, दीन, रंक, कंगाल, गरीब।
• निर्बल- कमजोर, निःशक्त, क्षीण, दुर्बल, दुबला-पतला।
• निर्मल- शुद्ध, पवित्र, निर्दोष, साफ, स्वच्छ, निखरा हुआ।
• निशाकर- चंद्रमा, शशि, चांद, कुक्कुट, मुर्गा।
• निशाचर- राक्षस, असुर, दैत्य, दानव, अमानुष।
• निष्ठा- विश्वास, श्रद्धा, यकीन, प्रवृति, लगाव।
• निष्पत्ति- इति, समाप्ति, पूर्णता, सिद्धि।
• निस्तब्धता- ख़ामोशी, सन्नाटा, शांति, नीरवता।
• नीलम- नीलमणि, असिरत्न, शनिप्रिय, इंद्रनील, नील, महानील।
• नुकसान-कंटाग्र, तीक्ष्णाग्र, निशित, नोकदार, नोक वाला।
• नूतन- नया, नवीन, ताजा, अभिनव, आधुनिक।
• नौबत- हालत, दशा, अवस्था, दुर्दशा, दुर्गति, शहनाई।
• न्यायाधीश- न्यायकर्त्ता, न्यायमूर्ति, जज, धर्माधिकारी।
• न्यायालय- अदालत, कचहरी, कोर्ट।
• पति- भर्ता, वल्लभ, स्वामी, प्राणाधार, प्राणप्रिय, प्राणेश, आर्यपुत्र।
• पत्नी- भार्या, दारा, बेगम, कलत्र, प्राणप्रिया, वधू, वामा, अर्धांगिनी, सहधर्मिणी, गृहणी, बहु, वनिता, जोरू
• पुत्र- बेटा, लड़का, आत्मज, सुत, वत्स, तनुज, तनय, नंदन।
• पुत्री- बेटी, आत्मजा, तनूजा, दुहिता, नन्दिनी, लड़की, सुता, तनया।
• पृथ्वी- धरा, धरती, भू, इला, उर्वी, धरित्री, धरणी, अवनि, मेदिनी, क्षिति, मही, वसुंधरा, वसुधा, जमीन, भूमि।
• परिवर्तन- बदलाव, हेरफेर, तबदीली, फेरबदल।
• पथ- मग, मार्ग, राह, पंथ, रास्ता।
• पंक- कीचड़, कीच, कर्दम, चहला।
• पंकज- कमल, राजीव, पद्म, सरोज, नलिन, जलज।
• पंगु- अपाहिज, लंगड़ा, विकलांग, अपंग।
• पत्ता- पत्र, किसलय, दल, पत्रक, पल्ल्व, पत्ती, कोंपल।
• परिणय- शादी, विवाह, ब्याह, पाणिग्रहण।
• परोपकार- परहित, भलाई, नेकी, परकाज, परमार्थ, परार्थ।
• पहेली- प्रहेलिका, मुअम्मा, मुकरी, कूटप्रश्न, बुझौवल।
• पाठशाला- स्कूल, विद्यापीठ, विद्यालय, मदरसा।
• पातक- पाप, गुनाह, अघ, कल्मष।
• पाहुना- मेहमान, अतिथि, पाहुन, अभ्यागत।
• पौ- सवेरा, सुबह, भोर, प्रातः।
• पौरस्त्य- पूरबी, पूर्वी, प्राच्य, मशरिक़ी।
• प्रतिदिन- रोजाना, हर दिन, हर रोज, रोज, रोज-रोज।
• प्राज्ञ- विद्वान, महाज्ञानी, बुद्धिमान, चतुर।
• प्रासाद- महल, राजमहल, राजनिवास, राजभवन।
• पंकिल- गंदला, गंदा, मलिन, मैला, कीचयुक्त।
• पंथी- पथिक, राही, बटोही, समर्थक, धर्मालंबी।
• पक्ष- डैना, पाख, पखवारा, दल, वर्ग, समुदाय, स्थिति।
• पगड़ी- पगिया, मुरैठा, साफा, प्रतिष्ठा, मान-मर्यादा, भेंट, उपहार।
• पटरानी- स्त्री, महारानी, राजमहिषी, राजपत्नी, बड़ी रानी।
• पटु- कुशल, चतुर, चालक, होशियार, मक्कार, धोखेबाज, निर्दय, निरोग।
• पड़ौसी- समीपवर्ती, निकटस्थ, निकटवर्ती, पास का, पड़ौस का।
• पतंग- सूर्य, सूरज, भास्कर, फतिंगा, पतंगा, टिड्डी, गेंद, गुड्डी, शरीर।
• पतला- महीन, झिनझिना, दुर्बल, निर्बल, कमजोर, शक्तिहीन, तरल, कृशित।
• पताका- झंडा, ध्वजा, ध्वज, तोरण, झंडी।
• पत्रा- तिथिपत्र, पंचांग, जंत्री, वर्क, चद्दर, पन्ना, पृष्ठ।
• पथ्य- उपयुक्त, आहार।
• पदक- सम्मानजनक, उपाधि, मेडल।
• परंतु- पर, किन्तु, लेकिन, मगर।
• परम्परा- रीति, रिवाज, प्रथा, रूढ़ि, परिपाटी।
• परदा- आड़, ओझल, छिपाव, परत, गुप्तता, तह।
• परमार्थ- उपकार, भलाई, परोपकार, मोक्ष, निर्वाण।
• पराया- दूसरा, और, अन्य, गैर, बेगाना।
• परिचय- ज्ञान, पहचान, मेल, मुलाकात, जानकारी।
• परिणाम- नतीजा, निष्कर्ष, फल, अंजाम।
• परिताप- जलन, ताप, गर्मी, दुःख, क्लेश, व्यथा, तकलीफ, दर्द।
• परितोष- संतोष, तृप्ति, संतुष्टि, प्रसन्नता, ख़ुशी, हर्ष।
• परिपाटी- क्रम, सिलसिला, श्रेणी, रीति, शैली, ढंग, पद्धति।
• परिश्रमी- क्रियाशील, उद्योगी, उद्यमी, मेहनती, पुरुषार्थी, उद्योगशील।
• परिष्कार- शुद्धि, सफाई, संस्कार, स्वच्छ्ता, संस्कार, निर्मलता, परिशोधन, सुधार।
• परोक्ष- अगोचर, अप्रत्यक्ष, ओझल, तिरोहित, गुप्त।
• परोपकार- हित, भलाई, उपकार, कल्याण, दान, परकल्याण, परहित।
• पवन- वायु, हवा, प्राण, अनल, श्वास, साँस।
• पवित्र- अमल, विमल, शुद्ध, निर्मल, साफ, पावन, पूत, पुण्य, विशुद्ध।
• पसोपेश- दुविधा, असमंजस, आगा-पीछा, सोच-विचार, ऊहापोह।
• पस्त- पराजित, हारा हुआ, थका हुआ, दबा हुआ, झुका हुआ।
• पहनावा- पहरावा, पहिनावा, पोशाक, परिधान, लिबास।
• पाखंड- ढोंग, आडम्बर, मिथ्याचार, प्रपंच, छल, कपट, धोखा, धूर्तता।
• पागल- मतिभ्रष्ट, बावला, नासमझ, सनकी, मत्त, मतवाला, बेवकूफ, दीवाना, मूर्ख।
• पाट- राजगद्दी, सिंहासन, चौड़ाई, फैलाव, विस्तार, तख्ती, पटिया।
• पाप- अपकर्म, अपकृति, अधर्म, कुधर्म, कुकर्म, गुनाह, अपराध, कसूर, अनिष्ट, खराबी।
• पामर- दुष्ट, कमीना, पापी, नीच, पातकी, पापिष्ठ, दुरात्मा।
• पारावर- समुद्र, सागर, जलधि, जलनिधि, सीमा, हद।
• पार्थक्य- पृथकता, अलगाव, भेद, प्रभेद, भिन्नता, वियोग, जुदाई।
• पालन- लालन-पालन, पालन-पोषण, भरण-पोषण, परवरिश, अनुगमन, कार्यान्वयन।
• पाषाण- पत्थर, प्रस्तर, शिला, पाथर, पाहन।
• पास- तरफ, दिशा, निकटता, निकट, नजदीक, करीब, आस-पास।
• पिचकना- सिमटना, सिकुड़ना, दबना, धँसना, बिचकना।
• पिछलग्गा- अनुचर, सेवक, नौकर, अधीन, आश्रित, चेला, टहलुआ।
• पीयूष- अमृत, सुधा, प्राणरस, दूध, क्षीर, अमिय, आवेहयात।
• पीला- पीत, केसरिया, सुनहला, हल्दिया, हरिद्राभ, बसंती, शरबती, नारंगी, कपिल, जाफ़रानी।
• पीवर- मोटा, माँसल, स्थूल, भारी, विशाल, बलिष्ठ, तगड़ा, ताकतवर।
• पुण्य- पवित्र, पावन, शुभ, मंगलदायक, कल्याणकारी, धर्म, शुभ, कर्म, उत्तम कर्म।
• पुण्यकृत- पुण्यकर्त्ता, धार्मिक, सुकृति, पुण्यात्मा, पुण्यवान, धर्मात्मा।
• पुनीत- पवित्र, पाक, पावन, शुद्ध, निर्मल, स्वच्छ, साफ।
• पुरखा- पूर्वज, पूर्वपरुष, अग्रजन्मा, पिता, पितामह, बड़ा-बूढ़ा, वृद्ध, बुजुर्गवार।
• पुरुषार्थ- पौरुष, उद्योग, शक्ति, बल, ताकत, साहस, हिम्मत।
• पुष्कर- तालाब, सरोवर, जलाशय, पोखरा, कमल, पंकज।
• पूँछ- पुच्छ, दुम, पुच्छल, पश्चभाग, पिछलग्गू, अनुचर, चापलूस, चमचा।
• पूछताछ- जाँच-पड़ताल, तहकीकात, जिरह।
• पृथक- पृथक्कृत, विभक्त, भिन्न, अलग, जुदा, अन्य, दूसरा।
• पृथु- चौड़ा, मोटा, विस्तृत, विशाल, असंख्य, अनगिनत।
• पृष्ठपोषण- समर्थन, अनुमोदन, हिमायत, सहायता, मदद।
• पेशकश- उपहार, भेंट, तोहफा, सौगात, नजर।
• पेशा- धंधा, व्यवसाय, व्यापार, कार्य, काम।
• पैगाम- संदेश, खबर, समाचार, संदेशा।
• पैदावार- उपज, उत्पादन, फसल।
• पैसा- धन, दौलत, संपत्ति, माल, रुपया-पैसा, नकदी, टका, सिक्का।
• पोखर- तालाब, सरोवर, जलाशय, पोखरा, पुष्कर।
• प्यारी- प्रिया, प्रणयिनी, श्यामा, माशूका, जानी, दुलारी।
• प्यास- पिपासा, तृष्णा, तृषा, कामना, लालसा, ललक।
• प्यासा- पिपासित, पिपासु, लालायित, इच्छुक, तृषित।
• प्रकार- भेद, किस्म, तरह, भाँति, रीति, ढंग।
• प्रकृत- वास्तविक, असली, यथार्थ, सत्य, स्वाभाविक,, साधारण, सहज।
• प्रगति- उन्नति, तरक्की, विकास।
• प्रगल्भ- उत्साही, साहसी, निर्भय, निडर, धृष्ट, निर्लल्ज, अभिमानी, अहंकारी, घमंडी।
• प्रचुरता- प्राचुर्य, बहुलता, व्यापकत्व, विपुलता, जखीरा, इफरात।
• प्रच्छद- आच्छादन, आवरण, ढकना।
• प्रणय- प्रेम, अनुराग, प्रीति, स्नेह।
• प्रणयिनी- प्रेमिका, प्रिया, अंगना, भार्या, पत्नी, स्त्री, वामा।
• प्रणेता- नेता, नायक, रचनाकार, वृत्तिकार।
• प्रताप- चमक, आभा, तेजी, प्रचंडता, बहादुरी, वीरता, प्रभाव।
• प्रतिकूल- विपरीत, विरुद्ध, खिलाफ, उल्टा, विलोम।
• प्रतिज्ञा- प्रण, वचन, वायदा, शपथ, सौगंध, कसम।
• प्रतिभा- बुद्धि, प्रज्ञा, ज्ञान, समझ, अक्ल, समझबूझ।
• प्रतिरोध- रोक, अवरोध, रुकावट, बाधा, विघ्न।
• प्रतिलिपि- प्रतिलेख, कापी, अनुलिपि, नकल, अनुकृति, प्रतिरूप।
• प्रतिशोध- प्रतिहिंसा, प्रतिफ़ल, प्रतिकार, बदला, प्रतिदण्ड।
• प्रतीत- ज्ञात, विदित, अवगत।
• प्रत्यक्ष- साक्षात्, भरोसा, यकीन, स्पष्ट, साफ।
• प्रदेश- देश, क्षेत्र, भूखंड, शासनक्षेत्र, राज्यक्षेत्र, रियासत, स्थान, जगह।
• प्रधान- नेता, मुखिया, सरदार, मुख्य, खास, श्रेष्ठ।
• प्रभा- आभा, प्रकाश, दीप्ति, चमक, सूर्यबिम्ब, सूर्यमंडल।
• प्रभात- प्रातःकाल, उषाकाल, भोर, सवेरा, सुबह, विहान, निशांत।
• प्रमत्त- मस्त, मतवाला, पागल, बावला, घमंडी, लापरवाह, असावधान, बेपरवाह।
• प्रयत्न- उद्योग, चेष्टा, कोशिश, प्रयास, उद्यम, यत्न, दौड़धूप।
• प्रयोग- इस्तेमाल, सेवन, व्यवहार, उपयोग, जाँच।
• प्रयोजन- अर्थ, अभिप्राय, उद्देश्य, मतलब।
• प्रवीण- निपुण, कुशल, होशियार, बुद्धिमान, चालाक, चतुर।
• प्रवीणता- चतुराई, कुशलता, चालाकी, होशियारी, दक्षता।
• प्रशंसा- स्तुति, तारीफ, अभिनंदन, गुणगान, बड़ाई, महिमा गान।
• प्रसक्त- संलग्न, संश्लिष्ट, संबद्ध, अनुरक्त।
• प्रसून- पुष्प, फूल, सुमन, संतान।
• प्राचीन- पूर्वकालीन, पुराना, भूतकालीन, आदिम, कदीम।
• प्राचीर- चहारदीवारी, परकोटा, चारदीवारी।
• प्राणी- जीवधारी, प्राणधारी, जानवर, जीव, प्राणवान।
• प्रातःकाल- प्रात, प्रातः, प्रभात, सवेरा, विहान, भोर, अरुणोदय, कल, दिनमुख, सकाल।
• प्रार्थना- विनती, निवेदन, माँगना, विनय, अर्ज, भक्ति, भजन, कीर्तन, पूजा।
• प्रीति- प्रेम, प्यार, स्नेह, मुहब्बत, अनुराग, प्रणय, प्रीत।
• प्रेक्षागार- रंगशाला, नाट्यशाला, नाट्यगृह, अभिनयशाला, प्रेक्षागृह।
• प्रौढ़- परिपक्व, बालिग, वयस्क, सयाना।
• फल- फलम, बीजकोश।
• फलक- आसमान, आकाश, गगन, नभ, व्योम।
• फसल- शस्य, पैदावार, उपज, खिरमन, कृषि- उत्पाद।
• फूट- मतभेद, मनमुटाव, अनबन, परस्पर, कलह।
• फूल- पुष्प, सुमन, कुसुम, गुल, प्रसून।
• फंदा- फाँस, जाल, छल, कपट, धोखा।
• फणधर- साँप, नाग, सर्प, व्याल, विषधर।
• फणींद्र- शेषनाग, नागराज, सर्पराज, फणिपति, वासुकी।
• फणी- साँप, सर्प, नाग, फणधर।
• फरेब- छल, कपट, धोखा, प्रवंचना।
• फाका- अनशन, उपवास, व्रत, निराहार, अनाहार।
• फायदा- लाभ, नफा, मुनाफा, उपलब्धि।
• फौजी- सैनिक, सिपाही, जंगी, लश्करी।
• फौरन- तुरन्त, तत्काल, जल्दी।
• बाण- सर, तीर, सायक, विशिख, आशुग, इषु, शिलीमुख, नाराच।
• ब्राह्मण- द्विज, भूदेव, विप्र, महीदेव, अग्रजन्मा, द्विजाति, भूसुर, महीसुर, वाडव, भूमिसुर, भूमिदेव।
• बहुत- अनेक, अतीव, अति, बहुल, भूरि, बहु, प्रचुर, अपरिमित, प्रभूत, अपार, अमित, अत्यन्त, असंख्य।
• बगीचा- बाग़, वाटिका, उपवन, उद्यान, फुलवारी, बगिया।
• बाल- कच, केश, चिकुर, चूल।
• बंकिम- बाँका, तिरछा, वक्र, बंक, आड़ा।
• बंजर- अनुपजाऊ, अनुर्वर, ऊसर।
• बख़ील- कंजूस, मक्खीचूस, कृपण, खसीस, सूम, मत्सर।
• बजरंगबली- हनुमान, वायुपुत्र, केसरीनंदन, पवनपुत्र, बज्रांगी, महावीर।
• बहेलिया- आखेटक, अहेरी, शिकारी, आखेटी।
• बाँसुरी- वेणु, बंशी, मुरली, बंसुरी।
• बाजि- घोड़ा, अश्व, घोटक, तुरंग, तुरग, हय।
• बेगम- महारानी, रानी, राज्ञी, राजमहिषी।
• बेमिसाल- बेजोड़, लाजवाब, अनोखा, लासानी, अतुलनीय।
• बैल- वृष, वृषभ, ऋषभ, वलीवर्द।
• बलदेव- बलराम, बलभद्र, हलायुध, राम, मूसली, रोहिणेय, संकर्षण।
• बंधुता- भाईचारा, दोस्ती, मैत्री, मित्रता, यारी।
• बखान- वर्णन, कथनं, व्याख्या, तारीफ, प्रशंसा, बड़ाई।
• बखूबी- अच्छी तरह से, भली-भाँति, खूबी के साथ, पूरी तरह से, पूर्णरूप से।
• बखेड़ा- झंझट, झगड़ा, लड़ाई, विवाद, हंगामा, फ़साद।
• बगावत- विद्रोह, अराजकता, गदर, क्रांति, राजद्रोह।
• बचाव- रक्षा, प्रतिरक्षण, हिफाजत।
• बजा- उचित, ठीक, सही, वाजिब।
• बड़प्पन- महत्त्व, बड़ाई, गुरुता, महत्ता, महानता, गरिमा।
• बढ़ावा- प्रोत्साहन, उकसाव, प्रेरणा।
• बदगोई- निंदा, चुगली, शिकायत, बुराई।
• बदजात- नीच, कमीना, लुच्चा, लफ़ंगा, दुष्ट, बदमाश।
• बदतमीज- अभद्र, असभ्य, गँवार, उदंड।
• बदन- शरीर, देह, तन, काया।
• बदसलूकी- दुर्व्यवहार, कुव्यवहार, अभद्रता, कदाचरण।
• बदहवास- विकल, व्याकुल, व्यग्र, घबराया हुआ, बौखलाया हुआ।
• बदौलत- सहारे से, द्वारा, कृपा से, कारण से, वजह से।
• बन- वन, जंगल, कानन, अरण्य।
• बरबस- बलपूर्वक, जबरदस्ती, व्यर्थ, निरर्थक, फजूल।
• बरबाद- नष्ट, चौपट, सत्यानाश।
• बरबादी- नाश, विनाश, खराबी, तबाही, ध्वंस, तहस-नहस।
• बलवान- शक्तिशाली, बलशाली, ताकतवर, पुष्ट, मजबूत, दृढ़।
• बहादुर- वीर, सूर, सूरमा, साहसी, साहसिक, योद्धा।
• बहादुरी- वीरता, साहस, निडरता, निर्भीकता, हिम्मत।
• बहुतायत- अधिकता, आधिक्य, प्रचुरता, बहुलता।
• बहुधा- प्रायः, अकसर।
• बहुल- अधिक, बहुत, ज्यादा, प्रचुर, पर्याप्त, प्रभूत।
• बाजीगर- जादूगर, ऐंद्रजालिक।
• बाट- राह, रास्ता, मार्ग, पथ।
• बाट जोहना- प्रतीक्षा करना, इंतजार करना, रास्ता देखना, राह देखना आसरा लगाना।
• बाधा- विघ्न, अड़चन, संकट, कष्ट, मुसीबत, परेशानी, दुःख।
• बानगी- उदाहरण, नमूना, मिसाल।
• बाना- पोशाक, वेश, वेशभूषा, भेष, बुनावट, बुनाई।
• बार-बार- लगातार, पुनः-पुनः, प्रायः, फिर-फिर।
• बारीक़- महीन, पतला, सूक्ष्म, झीना।
• बालू- रेत, बालुका, रेणुका, रेणु, रेती, शिलाकण।
• बाहुबल- बहादुरी, शारीरिक, बल, जिस्मानी ताकत।
• बिछोह- वियोग, जुदाई, बिछौड़ा, अलगाव।
• बिजली- विद्युत, चंचला, दामिनी, सूर्यपुत्री, घनज्वाला, तड़ित, वज्र।
• बिना- बगैर, अतिरिक्त, सिवा, सिवाय, अलावा।
• बियाबान- जंगल, वन, सुनसान, वीरान, निर्जन।
• बिसरना- विस्मृत होना, भूलना, याद न रहना, भुला देना, याद न करना।
• बुजुर्ग- वृद्ध, बूढ़ा, प्रौढ़, बड़ा।
• बुढ़ापा- वृद्धावस्था, वृद्धत्व, जश, जीर्णावस्था।
• बुद्धिमान- अक्लमंद, समझदार, मनस्वी, प्रतिभावान, ज्ञानी, विवेकी, तीक्ष्णबुद्धि, कुशाग्रबुद्धि।
• बुहारी- झाड़ू, सोहनी, बुहारनी, बटोरनी।
• बूझना- जानना, समझना, ज्ञान, प्राप्त करना, मालूम करना, हृदयंगम करना।
• बृहत- बड़ा, विशाल, दीर्घ।
• बेकस- निराश्रय, आश्रयहीन, अनाथ, दीनहीन, गरीब, लाचार।
• बेकाबू- अनियंत्रित, निरंकुश, बेलगाम।
• बेगाना- गैर, दूसरा, पराया, अनजान, अपरिचित, अजनबी।
• बेचारा- निराश्रित, निःसहाय, अनाथ, दीन, गरीब, कंगाल।
• बेडौल- कुरूप, भद्दा, बदशक्ल, बदसूरत, आकारहीन।
• बेतहाशा- अकस्मात, तेजी से, अचानक, घबराकर, बिना सोचे, बिना समझे।
• बेबस- लाचार, मजबूर, पराधीन, गुलाम, पराश्रित।
• बेमेल- असमान, बेडौल, अनमेल, विरुद्ध।
• बेहतर- अच्छा, ठीक, बढ़िया, बढ़कर, श्रेष्ठ।
• बेहोश- मूर्छित, बेसुध, अचेत, संज्ञाशून्य, जड़ीभूत।
• बैठक- चौपाल, दालान, अतिथिकक्ष, वार्ताकक्ष।
• बोध- ज्ञान, जानकारी, समझ, बुद्धि, विवेक।
• ब्रह्मांड- विश्व, जगत, संसार, दुनिया।
• भौंरा- अलि, मधुव्रत, शिलीमुख, मधुप, मधुकर, द्विरेप, षट्पद, भृंग, भ्रमर।
• भंगुर- नाशवान, नश्वर, अनित्य, क्षर, मर्त्य, विनश्वर।
• भंडारी- रसोइया, खानसामा, महाराज, रसोईदार।
• भद्र- शिष्ट, शालीन, कुलीन, सभ्य, सलीकेदार, बासलीक़ा।
• भरतखंड- भारतवर्ष, आर्यावर्त, भारत, हिंदुस्तान, हिंदोस्ताँ।
• भरोसा- यकीन, विश्वास, ऐतबार, अक़ीदा, आश्वास।
• भारती- शारदा, सरस्वती, वाग्देवी, वीणावादिनी, विद्या, वागेश्वरी, वागीशा।
• भाल- मस्तक, पेशानी, माथा, ललाट।
• भाला- बर्छा, बरछा, नेजा, कुंत, शलाका।
• भ्रष्ट- पथभ्रष्ट, पतित, बदचलन, दुश्चरित्र, आचरणहीन।
• भ्रू- भौंह, भौं, भृकुटि, भँव, त्यौरी।
• भूषण- जेवर, गहना, आभूषण, अलंकार।
• भंग- ध्वंस, विध्वंस, नाश, विनाश, टुकड़ा, खंड।
• भट- योद्धा, सैनिक, सिपाही, वीर, लड़ाका, बहादुर।
• भड़कीला- भड़कदार, चमकीला, अलंकृत, चटकदार, चटकीला।
• भद्दा- कुरूप, बेडौल, भोंडा, बदसूरत, बदशक्ल, अभद्र, घृणित।
• भद्रता- शिष्टता, सभ्यता, विनय, नम्रता।
• भरोसा- आश्रय, सहारा, आशा, विश्वास, संभावना, उम्मीद, तसल्ली।
• भर्ता- अधिपति, पति, भतार, जीवनसाथी, स्वामी, मालिक, प्रतिपालक, रक्षक, पालक।
• भर्त्सना- निन्दा, शिकायत, डाँट-डपट, दुत्कार, फटकार, तिरस्कार।
• भाँड- भाँडा, बर्तन, पात्र।
• भाट- भाँड, गवैया।
• भानु- सूर्य, रवि, दिनकर, आदित्य, दिवाकर, दिनमणि।
• भामा- स्त्री, औरत, महिला, नारी, अबला।
• भारत- भारतवर्ष, हिन्दुस्तान, हिन्द, हिन्ददेश, हिन्दुस्तान, इंडिया।
• भारी- भारवान, बोझिल, भारयुक्त, वजनी, वजनदार।
• भावुक- संवेदनशील, भावप्रवाण।
• भाषांतर- उल्था, तरजुमा, अनुवाद।
• भाषा- बोली, जबान, वाणी, उच्चारण, कथन, भाषण।
• भाषा विज्ञान- शब्द शास्त्र, शब्द विज्ञान, भाषाशास्त्र।
• भिक्षा- भीख, मधुकरी।
• भीरू- डरपोक, कायर, भयशील।
• भीरुता- कायरता, डर, भय, भयशीलता।
• भुजंग- साँप, सर्प, फनी, फणधर।
• भुज- भुजा, बाहु, बाँह, हाथ।
• भुवन- जगत, संसार, दुनिया, विश्व, ब्रह्माण्ड, जगत।
• भू- पृथ्वी, धरती, भूमि, जमीन, स्थान, जगह।
• भेंट- मिलन, मुलाकात, नजराना, तोहफा, इनाम, उपहार।
• भेषज- औषध, दवा, दवाई, औषधि।
• भोला- सीधा, सरल, उदार, निश्छल, कपटहीन।
• भ्रम- धोखा, संदेह, शक, भूल, गलतफ़हमी।
• भ्रामक- भ्रांतिमय, संदेहास्पद, संशयास्पद, भ्रमात्मक।
• मछली- मीन, मत्स्य, झख, झष, जलजीवन, शफरी, मकर।
• महादेव- शम्भु, ईश, पशुपति, शिव, महेश्र्वर, शंकर, चन्द्रशेखर, भव, भूतेश, गिरीश, हर, त्रिलोचन।
• मित्र- सखा, सहचर, स्नेही, स्वजन, सुहृदय, साथी, दोस्त।
• मोर- केक, कलापी, नीलकंठ, शिखावल, सारंग, ध्वजी, शिखी, मयूर, नर्तकप्रिय।
• मधु- शहद, रसा, शहद, कुसुमासव।
• मृग- हिरण, सारंग, कृष्णसार।
• मृत्यु- देहांत, मौत, अंत, स्वर्गवास, निधन, देहावसान, पंचत्व, इंतकाल, काशीवास, गंगालाभ, निर्वाण, मरण।
• मग- पन्थ, मार्ग, बाट, पथ, राह।
• मूढ़- मूर्ख, अज्ञानी, निर्बुद्धि, जड़, गंवार।
• मंजुल- मोहक, मनोहर, आकर्षक, शोभनीय, सुंदर।
• मंजूषा- संदूक, बक्स, पिटारी, पिटक, पेटी, झाँपी।
• मकड़ी- मकरी, लूता, लूतिका, लूत।
• मकतब- स्कूल, पाठशाला, विद्यालय, विद्यापीठ।
• मटका- कुंभ, झट, घड़ा, कलश।
• मत्सर- द्वेष, ईर्ष्या, कुढ़न, जलन, डाह।
• मरघट- मसान, मुर्दघाट, श्मशान, श्मशानघाट।
• मरहूम- स्वर्गवासी, मृत, गोलोकवासी, दिवंगत।
• मर्कट- बंदर, कपि, कीश, वानर, शाखामृग।
• महाभारत- भारत, जयकाव्य, पंचमवेद, जय, महायुद्ध।
• महावत- हाथीवान, पीलवान, फीलवान, आकुंशिक।
• मुकुल- कलिका, कली, शिगूफा, कोरक, गुंजा।
• मुगालता- भ्रांति, भ्रम, गलतफ़हमी, मतिभ्रम।
• मुदर्रिस- शिक्षक, अध्यापक, गुरु, आचार्य, उस्ताद।
• मँगनी- वरेच्छा, बरिच्छा, बरेखी, सगाई।
• मंगल- कल्याण, भलाई, हित, कुशलत।
• मंथर- मंद, धीमा, वेगहीन, वेगरहित।
• मगज- दिमाग, मस्तिष्क, भेजा।
• मगन- मग्न, प्रसन्न, खुश, आनंदित, प्रशन्नचित्त।
• मगर- ग्राह, नक, घड़ियाल।
• मगरा- घमंडी, उद्यंड, अहंकारी, अभिमानी, जिद्दी, मगरूर।
• मजदूर- श्रमिक, सेवक, कुली, दास।
• मट्ठा- माठा, छाछ।
• मत- सम्मति, राय, विचार, धारणा।
• मधुकर- भ्रमर, भौंरा, मधुप।
• मध्य- बीच, दरम्यान, माँझ।
• मध्यम- मध्य का, बीच का, औसतमान का।
• मनन- चिन्तन, अवधारण, स्मरण, विचार, ध्यान।
• मनुहार- खुशामद, विनय, विनती, प्रार्थना, अनुरोध, सिफारिश।
• मनोज्ञ- सुन्दर, मनोहर, मनभावन, चित्ताकर्षक, मनोरम, ह्रदयग्राही।
• मशाल- अग्निशलाका, प्रदीप्त काष्ठ खंड, दीपदंड।
• मसखरा- हँसोड़, विदूषक, ठिठोलिया, मजाकिया, जोकर।
• मस्तिष्क- भेजा, दिमाग, मगज, बुद्धि।
• महत्त्व- महानता, अहमियत, महिमा, महता, श्रेष्ठता।
• महाजन- महापुरुष, श्रेष्ठ, पुरुष, श्रेष्ठ व्यक्ति, सेठ, बनिया।
• महात्मा- महापुरुष, महाशय, उदारत्मा, श्रेष्ठ व्यक्ति।
• महाल- मुहल्ला, टोला।
• मही- पृथ्वी, धरा, धरती, वसुंधरा, भू, भूमि।
• महीन- पतला, बारीक़, सूक्ष्म, झीना।
• माँझी- केवट, कर्णधार, मल्लाह, नाविक।
• मातम- मृत्युशोक, शोक।
• मान- गौरव, प्रतिष्ठा, सम्मान, इज्जत, मर्यादा, यश।
• मानक- आदर्श, प्रतिमान, कसौटी।
• मानव- मनुष्य, आदमी, व्यक्ति।
• मामला- काम, बात, विषय।
• मामूली- सामान्य, साधारण, महत्त्वहीन, औसत दर्जे का।
• मार्ग- रास्ता, पथ, सड़क, राह।
• मार्मिक- मर्मस्पर्शी, ह्रदयस्पर्शी, हृदयविदारक।
• माहात्म्य- महिमा, महत्त्व, बड़ाई, गरिमा, महानता।
• माहुर- विष, जहर, हलाहल।
• मीठा- मिष्ट, मधुर, प्रियस्वादु, रसीला, मिठाई, मिष्ठान्न।
• मुकुर- शीशा, दर्पण, आदर्श, आइना।
• मुक्त- बंधनरहित, स्वतंत्र, आजाद, खुला।
• मुग्धमति- मूर्ख, मूढ़, बेवकूफ, अनाड़ी।
• मुफ़्त- व्यर्थ, फिजूल, निरर्थक, फोकट, निःशुल्क।
• मुलाकात- मिलन, भेंट, मेल, मिलाप, दर्शन।
• मुलायम- सुकुमार, कोमल, लचीला, गुदगुदा, नरम, नाजुक।
• मूक- गूँगा, अवाक, वाणीरहित, चुप, मौन।
• मूलधन- पूँजी, असल, सरमाया।
• मूल्यवान- बहुमूल्य, कीमती, अनमोल।
• मृगतृष्णा- मरीचिका, मृगमरीचिका।
• मृगया- शिकार, आखेट, अहेर।
• मेहनती- परिश्रमशील, कर्मठ, उद्यमी, उद्योगी, परिश्रमी, प्रयत्नशील।
• मेहमान- अतिथि, पाहुना।
• मेहमानदारी- आदर-सत्कार, आतिथ्य, अतिथि, मेहमानवाजी।
• मैत्री- मित्रता, दोस्ती, स्नेहभाव, मेल-जोल, भाई-चारा, प्रेम, स्नेह।
• मोहक- आकर्षक, मनोहरता, लुभावनापन, दिलचस्प।
• मोहित- मुग्ध, लुब्ध, आकर्षित।
• मौन- शांत, चुप, खामोश, मितभाषी, अल्पभाषी।
• यम- सूर्यपुत्र, जीवितेश, श्राद्धदेव, कृतांत, अन्तक, धर्मराज, दण्डधर, कीनाश, यमराज।
• यमुना- कालिन्दी, सूर्यसुता, रवितनया, तरणि-तनूजा, तरणिजा, अर्कजा, भानुजा।
• यंत्रणा- व्यथा, तकलीफ, वेदना, यातना, पीड़ा।
• यज्ञोपवीत- जनेऊ, उपवीत, ब्रह्मसूत्र।
• यतीम- बेसहारा, अनाथ, माँ-बापविहीन।
• याज्ञसेनी- पांचाली, द्रौपदी, सैरंध्री, द्रुपदसुता, कृष्णा।
• याद- स्मृति, स्मरण, स्मरण-शक्ति, सुध, याद्दाश्त।
• याम- पहर, प्रहर, बेला, वेला, जून।
• युद्ध- संग्राम, संघर्ष, समर, लड़ाई, रण, द्वंद्व।
• युद्धभूमि- रणक्षेत्र, रणभूमि, समरभूमि, संग्रामभूमि, युद्धस्थल।
• योषा- योषिता, नारी, स्त्री, औरत, वनिता, महिला, तिरिया।
• यकायक- अचानक, एकाएक, सहसा।
• यज्ञ- याग, हव, हवन, होम, ज्योतिष्टोम, अनुष्ठान।
• यथेष्ट- अभीष्ट, इच्छानुसार, इच्छित, मनमाना।
• यश- ख्याति, कीर्ति, प्रसिद्धि, प्रशंसा, बड़ाई, नाम।
• याचिका- प्रार्थना-पत्र, आवेदन-पत्र, अभ्यर्थना-पत्र।
• युवक- युवा, तरुण, कुमार, जवान, नौजवान।
• युवती- तरुणी, बाला, कुमारी, रमणी, यौवनवती।
• योग- मेल, मिलन, संयोग, जोड़, तपस्या।
• यौवन- युवावस्था, जवानी, जोबन, तारुण्य, तरुणावस्था।
• रात्रि- निशा, क्षया, रैन, रात, यामिनी, रजनी, त्रियामा, क्षणदा, शर्वरी, तमस्विनी, विभावरी।
• रात- रात्रि, रैन, रजनी, निशा, यामिनी, तमी, निशि, यामा, विभावरी।
• रमा- इन्दिरा, हरिप्रिया, श्री, लक्ष्मी, कमला, पद्मा, पद्मासना, समुद्रजा, श्रीभार्गवी, क्षीरोदतनया।
• रक्त- खून, लहू, रुधिर, शोणित, लोहित।
• राक्षस- दैत्य, असुर, निशाचर।
• रंक- गरीब, दरिद्र, कंगाल, निर्धन, धनहीन।
• रक्तपात- खून-खराबा, मार-काट, नरसंहार, लड़ाई-झगड़ा।
• रक्षा- संरक्षण, सुरक्षा, प्रतिरक्षा, हिफाजत, बचाव, रखवाली।
• रण- लड़ाई, युद्ध, संग्राम, जंग, संघर्ष।
• रणभूमि- संग्रामभूमि, युद्धस्थल, युद्ध क्षेत्र, वीरभूमि, मैदान-ए-जंग।
• रत्नाकर- समुद्र, सागर, अर्णव, वारिध।
• रब्त- मेलजोल, मेल-मिलाप, सम्पर्क, सम्बन्ध।
• रवैया- चलन, तौर-तरीका, रंग-ढंग।
• रश्क- ईर्ष्या, डहन, जलन, द्वेष।
• राज- शासन, हुकूमत।
• राज्यपाल- गर्वनर।
• राधा- राधिका, वृषभानुजा, वृषभानुनंदिनी, कीर्ति-किशोरी, ब्रजरानी।
• राशि- ढेर, समूह, भंडार।
• रिपु- शत्रु, दुश्मन, वैरी, विरोधी, द्वेषी।
• रिश्ता- सम्बन्ध, सम्पर्क, नाता, नातेदारी, रिश्तेदारी, मेल।
• रिश्वत- घूस, नजराना, कमीशन, बख्शीश।
• रुकावट- बाधा, अड़चन, विघ्न, रुकाव, अटकाव, अडंगा, विराम, ठहराव।
• रोकथाम- संयम, नियंत्रण, रोक, प्रतिबंध, रुकावट।
• रोग- व्याधि, बीमारी, रुग्णता, अस्वस्थता।
• रोगी- व्याधिग्रस्त, रुग्ण, बीमार, अस्वस्थ, रोगग्रस्त।
• रौबदार- गौरवशाली, प्रभावशाली, तेजस्वी, प्रशसनीय।
• लड़की- बालिका, कुमारी, सुता, किशोरी, बाला, कन्या।
• लक्ष्मण- लखन, शेषावतार, सौमित्र, रामानुज, शेष।
• लौह- अयस, लोहा, सार।
• लता- बल्लरी, बल्ली, लतिका, बेली।
• लगातार- निरंतर, अविराम, बराबर, सर्वदा, नित्य, क्रमिक।
• लगाव- लगावट, सम्बन्ध, प्रेम, प्रीति, वास्ता।
• लाभ- प्राप्ति, मुनाफा, फायदा, नफा।
• लाल- पुत्र, बेटा, नंदन, तनय, आत्मज।
• लालच- लोभ, लिप्सा, तृष्ण, प्रलोभन, लालसा।
• लुच्चा - दुराचारी, बदमाश, कमीना, कुकर्मी।
• लुटेरा- अपहर्ता, अपहरणकर्ता, डाकू, डकैत।
• लुत्फ- आनंद, सुख, मजा, मस्ती, हर्ष, रोचकता।
• लोचन- आँख, नयन, नेत्र, चक्षु।
• लोभ- लालच, तृषा, तृष्णा, लिप्सा, स्पृहा।
• लोभी- लालची, स्पृह, इच्छुक, पिपासु, उत्सुक, तृष्णालु।
• वृक्ष- तरू, अगम, पेड़, पादप, विटप, गाछ, दरख्त, शाखी, विटप, द्रुम।
• विवाह- शादी, गठबंधन, परिणय, व्याह, पाणिग्रहण।
• विष- ज़हर, हलाहल, गरल, कालकूट।
• वीर्य- शुक्र, धातु, बीज, बल, शक्ति, ताकत, वीरता, मर्दानगी, मुख-आभा।
• वज्र- कुलिस, पवि, अशनि, दभोलि।
• विशाल- विराट, दीर्घ, वृहत, बड़ा, महा, महान।
• विदित- विमुख, रहित, हीन, शून्य।
• वंदना- स्तुति, प्रणाम, अभिवादन, नमस्कार।
• वणिक- व्यापारी, व्यवसायी, रोजगारी, बनिया।
• वध- घात, हिंसा, प्रतिघातन, हत्या, कत्ल।
• वनिता- स्त्री, औरत, नारी, महिला, अबला।
• वर- दुल्हा, वरदान, उत्तम, श्रेष्ठ।
• वरण- चुनाव, चयन, छँटाई।
• वर्णन- चित्रण, कथन, व्याख्या, विवरण, उल्लेख, जिक्र, चर्चा।
• वर्तमान- उपस्थित, प्रस्तुत, विद्यमान, मौजूद।
• वश- अधिकार, काबू, नियंत्रण।
• वस्तु- चीज, द्रव्य, पदार्थ।
• वस्तुतः- वास्तव में, सचमुच, ठीक, यथार्थ।
• वस्त्र- पोशाक, कपड़ा, पट, वसन, अंबर, चीर, वेशभूषा।
• वाकिफ- ज्ञाता, जानकार, अनुभवी।
• वाण- तीर, शिलीमुख, शयक।
• विकराल- भीषण, भयानक, डरावना, खौफनाक।
• विकार- दोष, बुराई, बिगाड़, खराबी, त्रुटि, कमी।
• विकास- प्रसार, फैलाव, बढ़ाव, प्रगति।
• विक्रम- वीरता, बहादुरी, शूरता, साहस, पराक्रम।
• विज्ञ- जानकार, बुद्धिमान, समझदार, विद्वान, पंडित।
• विदित- ज्ञात, मालूम, जाहिर, प्रकट।
• विधाता- ब्रह्मा, विधि, सृष्टिकर्त्ता।
• विनोद- आमोद-प्रमोद, मजाक, उल्लास, आनंद, मनोरंजन, हँसी, तमाशा, खेल-कूद।
• विपन्न- वन, जंगल, अरण्य, कानन।
• विपरीत- प्रतिकूल, विरुद्ध, उलटा, खिलाफ, विरोधपूर्ण।
• विमल- स्वच्छ, साफ, शुद्ध, पवित्र, निर्दोष।
• विमान- वायुयान, हवाई जहाज, उड़न-खटोला।
• विमुक्त- स्वतंत्र, स्वच्छंद, आजाद, रिहा, बरी।
• विरक्त- संसार-विमुख, उदासीन, वैरागी, अनासक्त।
• विरल- दुर्लभ, कठिन, दुष्प्राप्य।
• विरह- वियोग, बिलगाव, जुदाई।
• विलग- अलग, पृथक, भिन्न, जुदा।
• विलोम- विपरीत, प्रतिलोम, प्रतीप, उलटा।
• विवरण- वर्णन, तफ़सील, खुलासा।
• विवश- बेबस, मजबूर, लाचार, असहाय।
• विस्तार- फैलाव, विशालता, लम्बाई-चौड़ाई।
• वृथा- व्यर्थ, निरर्थक, बेकार, फजूल, बेफायदा।
• दृष्टि- वर्षा, बारिश, मेघ, बरसात।
• व्यवस्था-प्रबंध, इंतजाम, बंदोबस्त, रीति, पद्धति, कायदा, नियम।
• व्यसन- लत, खोटी, आदत, बुरी, आदत, बुरा शौक।
• व्रत- उपवास, निराहार, अनाहार, रोजा।
• शेर-हरि, मृगराज, व्याघ्र, मृगेन्द्र, केहरि, केशरी, वनराज, सिंह, शार्दूल, हरि, मृगराज।
• शत्रु- रिपु, दुश्मन, अमित्र, वैरी, प्रतिपक्षी, अरि, विपक्षी, अराति।
• शिक्षक- गुरु, अध्यापक, आचार्य, उपाध्याय।
• शेषनाग- अहि, नाग, भुजंग, व्याल, उरग, पन्नग, फणीश, सारंग।
• शुभ्र- गौर, श्वेत, अमल, वलक्ष, धवल, शुक्ल, अवदात।
• शकुन- सगुन, शुभ मुहूर्त, शुभसूचक चिन्ह।
• शक्ति- बल, ताकत, जोर, क्षमता।
• शतक- शताब्दी, सदी, सौ, सैकड़ा।
• शनैः- धीरे, आहिस्ता, हौले।
• शब्द- स्वर, ध्वनि, संख, घोष, लफ्ज, कथन।
• शब्दकोश- शब्द संग्रह, शब्द संकलन, शब्दावली, शब्दार्थिका।
• शराबखाना- मदिरालय, दारू-खाना, मयखाना, सुरालय, सुरा-सदन, हौली।
• शराबी- मद्यप, पियक्कड़, दारूबाज, मदिरासेवी।
• शर्म- लाज, लज्जा, हया, संकोची, शर्मिन्दगी।
• शर्मीला- लज्जालु, लज्जाशील, संकोची, लजीला, एकांतप्रेमी।
• शस्त्रधारी- सशस्त्र, हथियारबंद, सायुध।
• शांत- चुप, मौन, गंभीर, संवेगहीन, आवेशरहित, खामोश, स्थिर।
• शादी- विवाह, ब्याह, पाणिग्रहण, परिणय, गठबंधन।
• शायरी- काव्य, कविता, पद्य, छंद।
• शालीन- शिष्ट, सभ्य, भद्र, विनीत, नम्र।
• शाश्वत- नित्य, सदैव, निरन्तर, लगातार, सर्वकालिक, चिरस्थायी, अविरत, अक्षम।
• शिक्षक- अध्यापक, उपदेशक, गुरु, आचार्य, मास्टर, टीचर।
• शिला- पाषाण, सिल, पत्थर, चट्टान।
• शिल्पी- वास्तुशास्त्री, कारीगर, शिल्पकार, दस्तकार।
• शिशिर- जाड़ा, शीतकाल, पाला, सर्दी, ठंडी।
• शुचि- पवित्रता, शुद्धता, स्वच्छ्ता, सफाई, पवित्र, शुद्ध, निर्मल।
• शुद्ध- विशुद्ध, साफ, चोखा, निर्दोष, स्वाभाविक, पवित्र, निर्मल।
• शुद्धि- स्वच्छ्ता, सफाई, पवित्रता, निर्मलता।
• शूल- पीड़ा, दर्द, चुभन।
• शेखर- शीर्ष, सिर, खोपड़ी, कपाल, मूंड, मस्तक।
• शेखी- गर्व, घमंड, अभिमान, ऐंठ, शान, अकड़।
• शैली- चाल, ढंग, प्रणाली, तर्ज, तरीका, विधि।
• शोभा- श्री, सुषमा, विभा, आभा, सौंदर्य, सुन्दरता, चमक, सजावट।
• श्मशान- मरघट, मसान, मुरदघट्टा, मृतकदाह स्थान, कब्रिस्तान।
• श्रेय- अच्छा, बढ़िया, बेहतर, श्रेष्ठ, उत्तम, उत्कृष्ट।
• श्लाघा- प्रशंसा, तारीफ, स्तुति, बड़ाई, खुशामद, चापलूसी।
• श्वास- प्राण, साँस, दम, संजीवनी, वायु।
• श्वेत- उजला, उज्ज्वल, गोरा, साफ, दुग्धवत, रजतसदृश।
• षंडाली- तालाब, ताल।
• षटक- छः गुना, छः में खरीदा हुआ, छठी बार होने या किया जाने वाला, छः की संख्या।
• षड्यंत्र- साजिश, कुचक्र, कूट-योजना।
• समूह- दल, झुंड, समुदाय, टोली, जत्था, मण्डली, वृंद, गण, पुंज, संघ, समुच्चय।
• सरस्वती- गिरा, भाषा, भारती, शारदा, ब्राह्यी, वाक्, जातरूप, हाटक, वीणापाणि, विमला, वागीश, वागेश्वरी।
• सर्प- साँप, अहि, भुजंग, ब्याल, फणी, पत्रग, नाग, विषधर, उरग, पवनासन।
• सोना- स्वर्ण, कंचन, कनक, सुवर्ण, हाटक, हिरण्य, जातरूप, हेम, कुंदन।
• सूर्य- रवि, सूरज, दिनकर, प्रभाकर, आदित्य, मरीची, दिनेश, भास्कर, दिनकर, दिवाकर, भानु, अर्क, तरणि, पतंग, आदित्य, सविता, हंस, अंशुमाली, मार्तण्ड।
• समीप- सन्निकट, आसन्न, निकट, पास।
• सभा- अधिवेशन, संगीति, परिषद, बैठक, महासभा।
• सुगंधि- सौरभ, सुरभि, महक, खुशबू।
• स्वर्ग- सुरलोक, देवलोक, दिव्यधाम, ब्रह्मधाम, द्यौ, परमधाम, त्रिदिव, दयुलोक।
• सेना- ऊनी, कटक, दल, चमू, अनीक, अनीकिनी।
• साधु- सज्जन, भद्र, सभ्य, शिष्ट, कुलीन।
• सलिल- अम्बु, जल नीर, तोय, सलिल, पानी, वारि।
• संकट- आपत्ति, विपत्ति, आफत, मुसीबत, विपदा, दुर्भाग्य, अभाग्य।
• संकल्प- विचार, इरादा, चेष्टाहीन, इच्छाशक्ति, कामनाशक्ति, दृढ़-निश्चय, प्रतिज्ञा, व्रत।
• संकेत- चिन्ह, निशान, लक्षण, प्रतीक।
• संक्षेप-समाहार, सारांश, संक्षिप्त रूप।
• संगति- मेल, संग, मिलाप, साथ, सम्बन्ध, मैत्री, दोस्ती।
• संगम- मेल, मिलाप, संयोग, संग, साथ, सम्बन्ध, संगति।
• संग्रह- एकत्रीकरण, संचय, जवाब, ढेर, समूह, राशि।
• संतान-संतति, वंशज, वंश, औलाद, बाल-बच्चे।
• संतुलन- साम्य, साम्यवस्था, समभार, समरसता।
• संतोष- संतुष्टि, तसल्ली, धीरज, धैर्य, ढाढ़स, संशयपूर्ण, सांत्वना।
• संदिग्ध- संदेहजनक, संदेहास्पद, भ्रमयुक्त।
• संबोधन- बुलाना, पुकारना, आह्वान करना।
• संभावी- संभावित, संभव, मुमकिन, कल्पनीय, अनुमानित।
• संभ्रम- घबराहट, व्याकुलता, बेचैनी, विकलता।
• संभ्रांत- सम्मानित, प्रतिष्ठित, भद्र पुरुष।
• संसारी- पार्थिव, लौकिक, ऐहिक, इहलौकिक, सांसरिक, दुनियावी।
• संसिद्धि- सफलता, कामयाबी, सिद्धि, मनोरथसिद्धि।
• संस्थापक- संचालक, जनक, मूलकर्ता, आरंभकर्ता, प्रतिष्ठापक।
• सखी- सहेली, सहचरी, संगिनी, अली, आली।
• सच- यथार्थ, वास्तविक, सत्य, मिथ्यारहित, सच्चा।
• सज-धज- बनाव-सिंगार, सजावट, शान, दिखावट, आत्मप्रदर्शन, आडम्बर।
• सजा- दंड, दंडादेश, दंडाज्ञा।
• सज्जन- भला, आदमी, शरीफ, व्यक्ति, महानुभाव, सम्मानित व्यक्ति।
• सत्कार- खातिरदारी, आतिथ्य, मेहमाननवाजी, मेहमानदारी, स्वागत, सम्मान, आदर।
• सदन- घर, गृह, मकान, निवास-स्थान, आवास।
• सदा- सर्वदा, निरन्तर, सदैव, नित्य, हमेशा, लगातार, हरदम, हरसमय।
• सन्नद्ध- तैयार, उद्यत, प्रस्तुर, तत्पर।
• सफल- सार्थक, कारगर, कामयाब, फलीभूत, फलवान।
• समाप्ति- संपूर्णता, पूर्णता, समापन, अवसान।
• समीक्षा- आलोचना, समालोचना, निरूपण।
• सम्मुख- सामने, आगे, प्रत्यक्ष।
• सर्वज्ञ- सर्वज्ञानी, संपूर्णज्ञाता, समूचा, जानकार।
• सलाह- सम्मति, राय, परामर्श, विचार-विनिमय।
• सहसा- एकाएक, अकस्मात्, झटपट, अचानक।
• साँवला- श्याम, नील, श्यामल, काला, कृष्णवर्ण।
• साँस- श्वास, श्वसन, निश्वास, दम।
• सांसारिक- लौकिक, लोकपरक, ऐहिक, संसारी, दुनियावी।
• साग-पात- शाक, भाजी, तरकारी।
• साजिश- षड्यंत्र, कुचक्र, कूटप्रबंध, छल, दाँवघात।
• सामग्री- सामान, द्रव्य, चीज, वस्तु।
• साया- छाया, छाँह, परछाई।
• सारणी- तालिका, सूची, सूची-पत्र, अनु-क्रमणिका।
• सारांश- निष्कर्ष, आशय, तात्पर्य, अभिप्राय, भावार्थ, भाव, मतलब।
• सिंहासन- राजासन, गद्दी, राजगद्दी, तख्त।
• सिकता- बालू, रेत, बालुका।
• सिद्ध- निर्विवाद, निश्चित, प्रमाणित, सर्वमान्य, पुष्ट, साबित।
• सिफारिश करना-अनुशंसा करना, अनुरोध करना, संस्तुति करना।
• सुन्दरी- प्रियदर्शनी, चंद्रमुखी, मृगनयनी, मीनाक्षी, सुलोचना, गोरी, अलबेली, हसीना।
• सुकुमार-कोमल, नाजुक, नरम, मुलायम।
• सुगंध- महक, सौरभ, सुरभि, खुशबू।
• सुगम- सहज, सरल, आसान, सुबोध, सुलभ।
• सुबह- सवेरा, भोर, अरुणोदय, प्रभात, प्रातःकाल, भिनसार, विहान।
• सुरमा- काजल, अंजन, आँजन।
• सुरीला- मधुर, संगीतपूर्ण, मीठा, रसीला।
• सुविधाजनक- सुखप्रद, आरामदेह, सुखदायक, सुखकारक, सुविधायुक्त।
• सुस्त- आलसी, अकर्मठ, मंद, शिथिल, म्लान, निद्रालु।
• सुस्ताना- विराम लेना, आराम करना, दम लेना, रुकना, ठहरना।
• सुस्पष्ट- प्रकट, व्यक्त, साफ, सुबोध।
• सूखा- निर्जल, जलहीन, जलरहित, रूखा, शुष्क।
• स्वार्थी-स्वार्थपरायण, मतलबी, खुदगरज।
• स्वावलंबन- आत्मनिर्भरता, आत्माश्रय, स्वाश्रय, अपने पैरों पर खड़ा होना।
• स्वीकार- स्वीकरण, मंजूर करना, मान्य होना, मानना, कबूल करना।
• होंठ- अक्षर, ओष्ठ, ओंठ।
• हनुमान- पवनसुत, पवनकुमार, महावीर, रामदूत, मारुततनय, अंजनीपुत्र, आंजनेय, कपीश्वर, केशरीनंदन, बजरंगबली, मारुति।
• हृदय- छाती, वक्ष, वक्षस्थल, हिय, उर।
• हाथ- हस्त, कर, पाणि।
• हाथी- नाग, हस्ती, राज, कुंजर, कूम्भा, मतंग, वारण, गज, द्विप, करी, मदकल।
• हटना- अलग होना, विमुख होना, पृथक होना, विचलित होना।
• हठ- अड़, जिद, जबरदस्ती, प्रतिज्ञा, संकल्प, दृढ़निश्चय।
• हताश- निरोशोन्मत्त, निराश, आशाहीन।
• हत्या- वध, हिंसा, कत्ल, खून।
• हमदर्द- सहानुभूतिशील, दर्दमंद, हितचिंतक।
• हमेशा- निरन्तर, सदा, सर्वदा, बराबर, लगातार।
• हरिण- मृग, सारंग, ऋश्य, हिरण।
• हर्ष- सुख, आनंद, प्रसन्नता, उल्लास, मोद-प्रमोद।
• हर्षित- प्रफुल्ल, प्रसन्न, उल्लासमय, प्रसन्नचित्त।
• हलचल- आंदोलन, उपद्रव, सनसनी, हंगामा, खलबली, उथल-पुथल।
• हासिल- प्राप्त, लब्ध, उपलब्ध।
• हिचकना- संकोच करना, झिझकना, ठिठकना, हिचकिचाना।
• हिजड़ा- नपुंसक, नामर्द।
• हिस्सा- भाग, अंश, खंड, टुकड़ा।
• हिस्सेदार- भागीदार, साझीदार, पट्टीदार।
• हीन- रहित खाली, रिक्त, शून्य।
 
 
 
==इन्हें भी देखें==
25

सम्पादन

दिक्चालन सूची