"कूलॉम-नियम": अवतरणों में अंतर

नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
24 बाइट्स हटाए गए ,  2 वर्ष पहले
सम्पादन सारांश नहीं है
No edit summary
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब संपादन
No edit summary
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब संपादन
कुलाम का नियम जिसकी खोज फ्रांसीसी वैज्ञानिक ने की थी
 
'''कूलॉम-नियम''' (Coulomb's law) विद्युत [[आवेश|आवेशों]] के बीच लगने वाले [[स्थिरविद्युत बल]] के बारे में एक नियम है जिसे कूलम्ब नामक फ्रांसीसी वैज्ञानिक ने 1785 dilhi se hai behanchod
के दशक में प्रतिपादित किया था। यह नियम [[विद्युतचुम्बकत्व]] के सिद्धान्त के विकास के लिये आधार का काम किया। यह नियम अदिश रूप में या सदिश रूप में व्यक्त किया जा सकता है। अदिश रूप में यह नियम निम्नलिखित रूप में है-
 
गुमनाम सदस्य

नेविगेशन मेन्यू