"कृषि" के अवतरणों में अंतर

Jump to navigation Jump to search
आकार में कोई परिवर्तन नहीं ,  3 माह पहले
छो
जोड़ा गया लिंक
छो
छो (जोड़ा गया लिंक)
मध्य युग के दौरान, उत्तरी अफ्रीका और पूर्व के निकट के [[मुस्लिम कृषि क्रांति|मुस्लिम कृषकों]] नें कृषि की तकनीकों का विकास किया जिसमें [[हाइड्रोलिक]] और [[जल स्थैतिक]] सिद्धांतों पर आधारित सिंचाई प्रणाली, [[जल चक्र|नोरिअस]] जैसी मशीनों का प्रयोग और जल स्तर को बढ़ाने वाली मशीनों, बांधों और जलाशयों आदि का उपयोग किया गया।
 
उन्होनें स्थान परक कृषि पुस्तिकाएं लिखीं,लिखी गन्ना, चावल, सिट्रस फल, खुबानी, कपास, अर्टिचोक्स, ओबरजिनेस और केसर सहित फसलों को व्यापक रूप से अपनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभायी।
 
मुस्लमान ही नींबू, संतरा, [[कपास]], बादाम, अंजीर और उप उष्णकटिबंधीय फसलों जैसे की [[केले|केला]] आदि स्पेन में लाये।
मध्य युग के दौरान फसल के पुनरावर्तन के लिए तीन क्षेत्र प्रणाली का आविष्कार और चीनियों द्वारा आविष्कृत मोल्डबोर्ड के आयात ने कृषि की प्रभाविता में काफी सुधार किया।
 
138

सम्पादन

दिक्चालन सूची