"परिसंचरण तंत्र" के अवतरणों में अंतर

Jump to navigation Jump to search
407 बैट्स् जोड़े गए ,  1 वर्ष पहले
 
हृदय में स्वयं संकुचन करने की शक्ति है। वह प्रति मिनट 72 बार संकुचन करता है, अर्थात् एक बार संकुचन में 0.8 सेकंड लगता है। इस काल में 0.1 सेकंड तक अलिंद का संकुंचन होता हैं, शेष 0.7 सेकंड वह शिथिल अवस्था में रहता है। निलय में 0.3 सेकंड तक संकुचन होता है, शेष काल में वह शिथिल रहता है। इस प्रकार सारा हृदय 0.4 सेकंड तक शिथिलावस्था में रहता है। हृदय का संकोच प्रकुंचन (Systole) और शिथिलावस्था अनुशिथिलन (Diastole) कहलाता है।
[[चित्र:2101 Blood Flow Through the Heart.jpg|center|550px|thumb|इस योजनामूलक चित्र में दैहिक परिसंचरण (systemic circulation) एवं कैपिलरी नेटवर्क दर्शाया गया है। यह [[फुफ्फुस परिसंचरण]] (pulmonary circulation) से अलग है।]]
 
== धमनियाँ ==

दिक्चालन सूची