"मकर संक्रान्ति" के अवतरणों में अंतर

Jump to navigation Jump to search
88 बैट्स् नीकाले गए ,  10 माह पहले
 
'''[[बिहार]] में''' मकर संक्रान्ति को खिचड़ी नाम से जाना जाता है। इस दिन उड़द, चावल, तिल, चिवड़ा, गौ, स्वर्ण, ऊनी वस्त्र, कम्बल आदि दान करने का अपना महत्त्व है।<ref>[http://www.chhathpuja.co/community/viewbulletin/2661-khichdi-festival-2014,-makar-sankranti-or-sakraat-in-maithili?groupid=2122 : खिचड़ी मकर संक्रांति पर्व]</ref>
[[चित्र:Tilgul kha god god bola.jpg|right|thumb|300px|तिलगुड़]]
'''[[महाराष्ट्र]] में''' इस दिन सभी विवाहित महिलाएँ अपनी पहली संक्रान्ति पर कपास, तेल व नमक आदि चीजें अन्य सुहागिन महिलाओं को दान करती हैं। तिल-गूल नामक हलवे के बाँटने की प्रथा भी है। लोग एक दूसरे को तिल गुड़ देते हैं और देते समय बोलते हैं -"तिळ गूळ घ्या आणि गोड़ गोड़ बोला" अर्थात तिल गुड़ लो और मीठा-मीठा बोलो। इस दिन महिलाएँ आपस में तिल, गुड़, रोली और हल्दी बाँटती हैं।
 

दिक्चालन सूची