बदलाव

Jump to navigation Jump to search
 
== प्राचीन भारत ==
[[चित्र:Map Of 16 Mahajanapada in Bengali-es.svg|200px|thumb|right|१६ महाजनपद]]
{{main|प्राचीन भारत}}
१००० ई पू के पश्चात १६ [[महाजनपद]] उत्तर भारत में मिलते हैं। [[५वीं शताब्दी ईसा|५०० ईसवी]] पूर्व के बाद, कई स्वतंत्र राज्य बन गए। उत्तर में [[मौर्य]] वंश, जिसमें [[चन्द्रगुप्त मौर्य]] और [[अशोक]] सम्मिलित थे, ने भारत के सांस्कृतिक पटल पर उल्लेखनीय छाप छोड़ी | [[१८० ईसवी]] के आरम्भ से, [[मध्य एशिया]] से कई आक्रमण हुए, जिनके परिणामस्वरूप उत्तरी भारतीय उपमहाद्वीप में [[इंडो-ग्रीक]], [[इंडो-स्किथिअन]], [[इंडो-पार्थियन]] और अंततः [[कुषाण]] राजवंश स्थापित हुए | [[तीसरी शताब्दी]] के आगे का समय जब भारत पर [[गुप्त वंश]] का शासन था, भारत का "स्वर्णिम काल" कहलाया। [[दक्षिण भारत]] में भिन्न-भिन्न समयकाल में कई राजवंश [[चालुक्य]], [[चेर]], [[चोल]], [[कदम्ब]], [[पल्लव]] तथा [[पांड्य]] चले | [[प्राचीन भारतीय विज्ञान तथा तकनीक|विज्ञान]], [[भारतीय कला|कला]], [[भारतीय साहित्य|साहित्य]], [[भारतीय गणित|गणित]], [[खगोल शास्त्र]], [[प्राचीन प्रौद्योगिकी]], [[धर्म]], तथा [[दर्शन]] इन्हीं राजाओं के शासनकाल में फ़लेफले-फ़ूलेफूले |
 
== मध्यकालीन भारत ==

दिक्चालन सूची