"आस्तिकता": अवतरणों में अंतर

नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
161 बाइट्स हटाए गए ,  4 वर्ष पहले
छो
2405:204:C083:556F:0:0:198C:A8A0 (Talk) के संपादनों को हटाकर Hunnjazal के आखिरी...
(Geokinetics video nahi chal raha hai bhai jio company Ka Hona Chahte jio ka data speed nahi chal raha hai kyon nahi chala jio Jab Tak Hai Jaan Jab Tak Hospital artist of the prices recharge karna padta hai jio help means you have my jio Prince kumar)
टैग: यथादृश्य संपादिका मोबाइल संपादन मोबाइल वेब संपादन
छो (2405:204:C083:556F:0:0:198C:A8A0 (Talk) के संपादनों को हटाकर Hunnjazal के आखिरी...)
टैग: वापस लिया
[[भारतीय दर्शन]] में [[ईश्वर]], ईश्वराज्ञा, परलोक, आत्मा आदि अदृष्ट पदार्थों के अस्तित्व में, विशेषत: ईश्वर के अस्तित्व में विश्वास का नाम '''आस्तिकता''' है। पाश्चात्य दर्शन में ईश्वर के अस्तित्व में विश्वास का ही नाम। प्रिंस कुमार कटरा नाम '''थीज्म''' है। मोबाईल नम्बर 8825225651
 
== ईश्वर की विविध प्रकार की कल्पनाएँ ==
(5) योगी और भक्त लोग अपने ध्यान और भजन में निमग्न होकर भगवान का किसी न किसी रूप में दर्शन करके कृतार्थ और तृप्त होते दिखाई पड़ते है (यह युक्ति रहस्यवादी, अर्थात् मिस्टिक युक्ति कहलाती है)।
 
(6) संसार के सभी धर्मग्रंथों में ईश्वर के अस्तित्व का उपदेश मिलता है, अतएव सर्व-जन-साधारण का और धार्मिक लोगों का ईश्वर के अस्तित्व में विश्वास है। इस युक्ति को शब्दप्रमाण कहते हैं। NAME PRINCE KUMAR BIHAR KATRA. INDIA ....WHATSAPP.NUMBER.8825225651
 
[[अनीश्वरवाद|नास्तिकों]] ने इन सब युक्तियों को काटने का प्रयत्न किया है।
68

सम्पादन

नेविगेशन मेन्यू