"विलियम वर्द्स्वर्थ": अवतरणों में अंतर

नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
इन्फोबोक्स डाला
छो (वर्तनी सुधार व अन्य AWB के साथ)
(इन्फोबोक्स डाला)
{{Infobox writer <!-- for more information see [[:Template:Infobox writer/doc]] -->
'''विलियम वर्द्स्व्र्थ''' (७ अप्रैल,१७७०-२३ अप्रैल १८५०) एक प्रमुख रोमचक कवि थे और उन्होने सेम्युल तेलर कोलरिज कि सहायता से अङ्रेज़ि सहित्य मे सयुक्त प्रकाशन गीतात्मक गथागीत के साथ रोमन्चक युग क आरम्भ किया। वर्द्स्वर्थ कि प्रसिध रचना 'द प्रेल्युद' हे जो कि एक अर्ध-आत्म चरितात्मक कवित माना जाता है। वर्द्स्वर्थ १८४३ से १८५० मे अप्नि म्रित्यु तक ब्रिटेन के महाकवि थे।<ref>http://venn.lib.cam.ac.uk/cgi-bin/search.pl?sur=&suro=c&fir=&firo=c&cit=&cito=c&c=all&tex=%22WRDT787W%22&sye=&eye=&col=all&maxcount=50</ref>
| name = विलियम वर्द्स्वर्थ
| image = Benjamin Robert Haydon 002.jpg
| caption = <small> [[Benjamin Robert Haydon]] की कृति ''विलियम वर्द्स्वर्थ का चित्र'' ([[National Portrait Gallery (London)|National Portrait Gallery]]).</small>
| birth_date = {{birth date|df=yes|1770|04|07}}
| birth_place = [[Cockermouth]], [[Cumberland]], [[इंग्लैण्ड]]
| death_date = {{death date and age|df=yes|1850|04|23|1770|04|07}}
| death_place = [[Cumberland]], [[इंग्लैण्ड]]
| occupation = कवी
| movement = [[स्वच्छन्दतावाद]]
|alma_mater = [[St John's College, Cambridge]]
| genre =
| notableworks = ''[[Lyrical Ballads]]'', ''Poems in Two Volumes'', ''[[The Excursion]]'', ''[[द प्रेल्यूड]]'', ''[[I Wandered Lonely as a Cloud]]''
| influences =
| influenced =
}}'''विलियम वर्द्स्व्र्थ''' (७ अप्रैल,१७७०-२३ अप्रैल १८५०) एक प्रमुख रोमचक कवि थे और उन्होने सेम्युल तेलर कोलरिज कि सहायता से अङ्रेज़ि सहित्य मे सयुक्त प्रकाशन गीतात्मक गथागीत के साथ रोमन्चक युग क आरम्भ किया। वर्द्स्वर्थ कि प्रसिध रचना 'द प्रेल्युद' हे जो कि एक अर्ध-आत्म चरितात्मक कवित माना जाता है। वर्द्स्वर्थ १८४३ से १८५० मे अप्नि म्रित्यु तक ब्रिटेन के महाकवि थे।<ref>http://venn.lib.cam.ac.uk/cgi-bin/search.pl?sur=&suro=c&fir=&firo=c&cit=&cito=c&c=all&tex=%22WRDT787W%22&sye=&eye=&col=all&maxcount=50</ref>
 
=== प्रारम्भिक जीवन ===
517

सम्पादन

नेविगेशन मेन्यू