"तैमूरलंग": अवतरणों में अंतर

नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
206 बैट्स् नीकाले गए ,  7 वर्ष पहले
छो
Anurag sitar (Talk) के संपादनों को हटाकर Sanjeev bot के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया
No edit summary
छो (Anurag sitar (Talk) के संपादनों को हटाकर Sanjeev bot के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया)
 
== भारत पर आक्रमण ==
तैमूर लांग एक आकर्णता और एक लुटेरा था वह एक दरिंदा था जिसने भारत मै लूटपाट मचाई १३९९ ई. में तैमूर का भारत पर भयानक आक्रमण हुआ। अपनी जीवनी 'तुजुके तैमुरी' में वह [[कुरान]] की इस आयत से ही प्रारंभ करता है 'ऐ पैगम्बर काफिरों और विश्वास न लाने वालों से युद्ध करो और उन पर सखती बरतो।' वह आगे भारत पर अपने आक्रमण का कारण बताते हुए लिखता है-
 
'हिन्दुस्तान पर आक्रमण करने का मेरा ध्येय काफिर हिन्दुओं के विरुद्ध धार्मिक युद्ध करना है (जिससे) [[इस्लाम]] की सेना को भी हिन्दुओं की दौलत और मूल्यवान वस्तुएँ मिल जायें।

नेविगेशन मेन्यू