"विलियम वर्द्स्वर्थ": अवतरणों में अंतर

नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
छो
बॉट: डॉट (.) के स्थान पर पूर्णविराम (।) और लाघव चिह्न प्रयुक्त किये।
छो (बॉट: अनावश्यक अल्पविराम (,) हटाया।)
छो (बॉट: डॉट (.) के स्थान पर पूर्णविराम (।) और लाघव चिह्न प्रयुक्त किये।)
 
=== पहला प्रकाशन और गीतात्मक गाथागीत ===
सन १७९३ में वर्ड्सवर्थ द्वारा लिखी गई कविता संग्रह 'एन इव्निन्गं वकॅ' और 'डिस्क्रिप्टिव स्केचस' पहली बार प्रकाशित हुई। १७९५ में रेस्ली कैलवटॆ से उन्हे ९०० विरासत में मिला ताकि वें लेखक बनने का लक्ष्य पूरा कर सकें। उस वर्ष, समरसेट में उनकी मुलाकात सैम्युल् टेलर कौलरिज से हुई।. वें दोनो जल्दी एक करीबी दोस्त बन गए। १७९७ में वर्ड्सवर्थ और उनकी बहन डोरोथी बस कुछ ही मील दूर नीचे का स्टोवी में कोलेरिज के घर से, अल्फोक्सटन हाउस, समरसेट में स्थानांतरण किया। साथ में, वर्ड्सवर्थ और (डोरोथी से अंतर्दृष्टि के साथ) कोलेरिज गीतात्मक गाथागीत (1798), अंग्रेजी प्रेमपूर्ण आंदोलन में एक महत्वपूर्ण काम का उत्पादन किया। वर्ड्सवर्थ के सबसे प्रसिद्ध कविताओं में से एक, "टिन्टॆन् एब्यय ",और कौलेरिज की "राइम आफॅ एन्शियंट मेरिनर प्रकाशित हुई। गीतात्मक गाथागीत के लिए इस प्रस्तावना प्रेमपूर्ण साहित्यिक सिद्धांत का एक केंद्रीय काम माना जाता है। इसे में, वर्ड्सवर्थ वह कविता के एक नए प्रकार के तत्वों, "असली मर्द की भाषा" और ज्यादा अठारवीं सदी की कविता का काव्य शैली का प्रयोग न करने की चर्चा करतें हैं। इस कविता में, वर्ड्सवर्थ ने 'कविता' की अपनी प्रसिद्ध परिभाषा दिया है "शक्तिशाली भावनाओं की सहज अतिप्रवाह: यह शांति में याद आया भावना से अपने मूल लेता है.है।" गीतात्मक गाथागीत की एक चौथी और अंतिम संस्करण 1805 में प्रकाशित हुई थी।
 
=== साहित्यिक सम्मान ===

नेविगेशन मेन्यू