"पूर्वाभाद्रपद" के अवतरणों में अंतर

Jump to navigation Jump to search
छो
Bot: अंगराग परिवर्तन
छो (Bot: अंगराग परिवर्तन)
 
 
[[चित्र:Pegasus constellation map.png|300px|right|thumb|{{PAGENAME}}]]
गुरु का नक्षत्र पूर्वा भाद्रपद का अंतिम चरण मीन राशि में आता है। इसे ही नाम से पहचाना जाता है।
 
वृषभ लग्न में गुरु की स्थिति एकादश, तृतीय पंचम सप्तम में हो तो लाभ के मामलों में जातक ईमानदारी अधिक रखता है। पत्नी गुणी मिलती है।
== देखिये ==
* [[नक्षत्र|नक्षत्र सूची]]
 
== स्रोत ==
74,334

सम्पादन

दिक्चालन सूची