"सुत्तपिटक": अवतरणों में अंतर

नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
30 बाइट्स जोड़े गए ,  9 वर्ष पहले
छो
Bot: अंगराग परिवर्तन
No edit summary
छो (Bot: अंगराग परिवर्तन)
<ref>[http://madanpuraskar.org/mpp/view_book_info.php?id=23435 पुस्तक:त्रिपिटक प्रवेश, पृष्ठ २२, परिच्छेद ३, अनुवाद एवं संग्रहःवासुदेव देसार "कोविद", प्रकाशक: दुर्गादास रंजित, ISBN 99946-973-9-0]</ref> ।
 
== परिचय ==
इस पिटक के पाँच भाग हैं जो निकाय कहलाते हैं। निकाय का अर्थ है समूह। इन पाँच भागों में छोटे बड़े सुत संगृहीत हैं। इसीलिए वे निकाय कहलाते हैं। निकाय के लिए "संगीति" शब्द का भी प्रयोग हुआ है। आरंभ में, जब कि त्रिपिटक लिपिबद्ध नहीं था, भिक्षु एक साथ सुत्तों का पारायण करते थे। तदनुसार उनके पाँच संग्रह संगीति सहलाने लगे। बाद में निकाय शब्द का अधिक प्रचलन हुआ और संगीति शब्द का बहुत कम।
 
सुत्तपिटक के पाँच निकाय इस प्रकार हैं: दीप निकाय, मज्झिम निकाय, संयुत्त निकाय, अंगुत्तर निकाय और खुद्दक निकाय। सर्वास्तिवादियों के सूत्रपिटक में भी पाँच निकाय रहे हैं, जो आगम कहलाते थे। उनके मूल ग्रंथ उपलब्ध नहीं हैं। सभी ग्रंथों का चीनी अनुवाद और कुछ का तिब्बती अनुवाद उपलब्ध है। उनके नाम इस प्रकार हैं: दीर्घागम, मध्यमागम, संयुक्तागम, एकोत्तरागम और क्षुद्रकागम। मुख्य बातों पर निकायों और आगामों में समानता है। इस विषय पर विद्वानों ने प्रकाश डाला है।
 
== विभाजन ==
इसका विस्तार इस प्रकार है<ref>[http://pustak.org/bs/home.php?bookid=1239 प्राचीन भारत की श्रेष्ठ कहानियाँ, लेखकः जगदीश चन्द्र जैन, प्रकाशक:भारतीय ज्ञानपीठ, प्रकाशित : मई ०९, २००३]</ref><ref>पृष्ठ ९, पुस्तकःबुद्धवचन त्रिपिटकया न्हापांगु निकाय ग्रन्थ दीघनिकाय,वीरपूर्ण स्मृति ग्रन्थमाला भाग-३, अनुवादक:दुण्डबहादुर बज्राचार्य, भाषा:नेपालभाषा, मुद्रकःनेपाल प्रेस</ref>-
* '''सुत्तपिटक'''
** [[दीघनिकाय]] (दीघ=लम्बा; भगवान बुद्धद्वारा प्रवर्चित लम्बे सुत्रौं का संकलन)
** [[मज्झिमनिकाय]] (मज्झिम=मध्यम; भगवान बुद्धद्वारा प्रवर्चित मध्यम सुत्रौं का संकलन)
** [[संयुत्तनिकाय]] (संयुत्त=संयुक्त; भगवान बुद्धद्वारा प्रवर्चित लम्बे, छोटे सुत्रौं का संयुक्त संकलन)
** [[अंगुत्तरनिकाय]] (अंगुत्तर=अंक अनुसार; धर्म को अंक अनुसार संग्रहित ग्रंथ)
** [[खुद्दकनिकाय]] (खुद्दक=छोटा; भगवान बुद्धद्वारा प्रवर्चित छोटे सुत्रौं का संकलन)
*** खुद्दक पाठ
*** धम्मपद
*** उदान
*** इतिवुत्तक
*** सुत्तनिपात
*** विमानवत्थु
*** पेतवत्थु
*** थेरगाथा
*** थेरीगाथा
*** जातक
*** निद्देस
*** पटिसंभिदामग्ग
*** अपदान
*** बुद्धवंस
*** चरियापिटक
 
== टीका ==
{{reflist|}}
 
== बाहरी कड़ियाँ ==
* [http://www.accesstoinsight.org/index.html] Access to Insight translations of Pali Suttas in English
* [http://www.budsas.org/ebud/ebsut055.htm How old is the Sutta Pitaka?] - Alexander Wynne, St John's College, Oxford University, 2003.
* [http://search.nibbanam.com Search in English translations of the Sutta Pitaka]
* Most of the Pali canon in Pali, Sinhala and English http://www.metta.lk
* [http://suttapitaka.org] Download edited collection of suttas from the Sutta Pitaka.
 
[[श्रेणी:बौद्ध ग्रंथ]]
[[es:Sutta-pitaka]]
[[fr:Sutta Pitaka]]
[[km:សុត្តន្តបិដក]]
[[ko:경장]]
[[id:Sutta Piṭaka]]
[[it:Sutta Piṭaka]]
[[km:សុត្តន្តបិដក]]
[[ko:경장]]
[[nl:Suttapitaka]]
[[no:Sutta pitaka]]
74,334

सम्पादन

नेविगेशन मेन्यू