Historical agency of India के योगदान

Jump to navigation Jump to search
योगदान के लिये खोजविस्तार करेंछोटा करें
⧼contribs-top⧽
⧼contribs-date⧽

(सबसे नया | सबसे पुराना) देखें (नये 50) () (20 | 50 | 100 | 250 | 500)

  • 16:21, 7 जुलाई 2021 अन्तर इतिहास +1 छो कुम्हारजीजेएसजे वर्तमान टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
  • 06:09, 18 जून 2021 अन्तर इतिहास +225 छो सातवाहनटैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
  • 06:05, 18 जून 2021 अन्तर इतिहास −1,067 छो सातवाहनटैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
  • 06:04, 18 जून 2021 अन्तर इतिहास −20,266 छो सातवाहनB टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
  • 06:03, 18 जून 2021 अन्तर इतिहास −6,473 छो सातवाहनVh टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
  • 06:02, 18 जून 2021 अन्तर इतिहास −8,848 छो सातवाहनJ टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
  • 06:01, 18 जून 2021 अन्तर इतिहास −4,697 छो सातवाहनM टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
  • 06:00, 18 जून 2021 अन्तर इतिहास −4,856 छो सातवाहनHj टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
  • 05:56, 18 जून 2021 अन्तर इतिहास −766 छो सातवाहनM टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
  • 05:52, 18 जून 2021 अन्तर इतिहास −14 छो सातवाहनM टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
  • 05:10, 18 जून 2021 अन्तर इतिहास +22 छो सातवाहनएचएसजेजेएस टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
  • 05:08, 18 जून 2021 अन्तर इतिहास +2,086 सातवाहन{{सातवाहन राजवंश }} सातवाहन वंश प्राचीन भारत का एक महान राजवंश है सातवाहन राजाओं ने 300 वर्षों तक शासन किया सातवाहन वंश की स्थापना 60 ईसा पूर्व राजा सिमुक ने की थी। सातवाहन वंश में राजा सिमुक ,शातकर्णी,गौतमीपुत्रशातकर्णी,वशिस्थिपुत्र,पुलुमावी शातकर्णी,यज्ञश्री शातकारणी प्रमुख राजा थे। प्रतिष्ठान सातवाहन वंश की राजधानी रही ,यह महाराष्ट्र के ओरंगाबाद जिले में है सातवाहन साम्राज्य की राजकीय भाषा प्राकृतिक वा लिपि ब्राम्ही थी। इस समय अमरावती कला का विकाश हुआ था। सातवाहन राजवंश में मातृसत्तात्म टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
  • 16:01, 6 जून 2021 अन्तर इतिहास −22 छो शालिवाहन शकजज वर्तमान टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
  • 18:22, 5 जून 2021 अन्तर इतिहास −1 छो वर्दिया राजवंशमें यह राजवंश अपनी चरम सीमा पर था ।    राजा शालीवाहन की मां गौतमी प्रजापति(ब्राम्हण)थी राजा शालीवाहन का जन्म आदिसोसन की कृपा से हुआ था(मत्स्य पुराण के अनुसार)। राजा शालीवाहन का बचपन समस्याओं से भरा हुआ था परंतु राजा शालीवाहन को ईश्वर की घोर तपस्या के फलस्वरूप अनेकों वरदान प्राप्त हुए,जिससे राजा सलीवाहन ने राजपाठ और युद्ध के क्षेत्र में महारथ हासिल की इसलिए इन्हे दक्षिणपथ का स्वामी एवं वर्दिया(वरदान प्राप्त करने वाला) कहा जाता है। वर्तमान में सातवाहन राजवंश की शाखाएं वराडिया (महार टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
  • 18:22, 5 जून 2021 अन्तर इतिहास −1,556 छो वर्दिया राजवंशGho टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
  • 18:20, 5 जून 2021 अन्तर इतिहास +3,441 छो वर्दिया राजवंश[राजा शालीवाहन {गौतमीपुत्र शातकर्णी}] राजा शालीवाहन सातवाहन राजवंश के सबसे प्रतापी वा महान राजा थे,राजा शालीवाहन के शासन काल में यह राजवंश अपनी चरम सीमा पर था । राजा शालीवाहन की मां गौतमी प्रजापति(ब्राम्हण)थी राजा शालीवाहन का जन्म आदिसोसन की कृपा से हुआ था(मत्स्य पुराण के अनुसार)। राजा शालीवाहन का बचपन समस्याओं से भरा हुआ था परंतु राजा शालीवाहन को ईश्वर की घोर तपस्या के फलस्वरूप अनेकों वरदान प्राप्त हुए,जिससे राजा सलीवाहन ने राजपाठ और युद्ध के क्षेत्र में महारथ हासिल की इसलिए इन्हे दक्षिणप टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
  • 18:10, 5 जून 2021 अन्तर इतिहास +201 वर्दिया राजवंशस्था्था्था्थ टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
  • 18:07, 5 जून 2021 अन्तर इतिहास +8 वार्ता:शालिवाहन{{सातवाहन राजवंश }} सातवाहन वंश प्राचीन भारत का एक महान राजवंश है सातवाहन राजाओं ने 300 वर्षों तक शासन किया सातवाहन वंश की स्थापना 60 ईसा पूर्व राजा सिमुक ने की थी। सातवाहन वंश में राजा सिमुक ,शातकर्णी,गौतमीपुत्रशातकर्णी,वशिस्थिपुत्र,पुलुमावी शातकर्णी,यज्ञश्री शातकारणी प्रमुख राजा थे। प्रतिष्ठान सातवाहन वंश की राजधानी रही ,यह महाराष्ट्र के ओरंगाबाद जिले में है सातवाहन साम्राज्य की राजकीय भाषा प्राकृतिक वा लिपि ब्राम्ही थी। इस समय अमरावती कला का विकाश हुआ था। सातवाहन राजवंश में मातृसत्तात्मक... वर्तमान टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
  • 18:07, 5 जून 2021 अन्तर इतिहास +4,385 वार्ता:शालिवाहन{{सातवाहन राजवंश }} सातवाहन वंश प्राचीन भारत का एक महान राजवंश है सातवाहन राजाओं ने 300 वर्षों तक शासन किया सातवाहन वंश की स्थापना 60 ईसा पूर्व राजा सिमुक ने की थी। सातवाहन वंश में राजा सिमुक ,शातकर्णी,गौतमीपुत्रशातकर्णी,वशिस्थिपुत्र,पुलुमावी शातकर्णी,यज्ञश्री शातकारणी प्रमुख राजा थे। प्रतिष्ठान सातवाहन वंश की राजधानी रही ,यह महाराष्ट्र के ओरंगाबाद जिले में है सातवाहन साम्राज्य की राजकीय भाषा प्राकृतिक वा लिपि ब्राम्ही थी। इस समय अमरावती कला का विकाश हुआ था। सातवाहन राजवंश में मातृसत्तात्मक... टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
  • 18:01, 5 जून 2021 अन्तर इतिहास +16 छो शालिवाहनHh टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
  • 17:58, 5 जून 2021 अन्तर इतिहास −31 छो शालिवाहन टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
  • 17:58, 5 जून 2021 अन्तर इतिहास +475 छो शालिवाहनजग टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
  • 17:52, 5 जून 2021 अन्तर इतिहास −151 छो शालिवाहनFg टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
  • 17:51, 5 जून 2021 अन्तर इतिहास −5 छो शालिवाहनGgh टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
  • 17:50, 5 जून 2021 अन्तर इतिहास −1,878 छो शालिवाहनUu टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
  • 17:49, 5 जून 2021 अन्तर इतिहास −2,510 छो शालिवाहनGhc टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
  • 17:43, 5 जून 2021 अन्तर इतिहास −45 छो शालिवाहनMm टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
  • 17:43, 5 जून 2021 अन्तर इतिहास −22 छो शालिवाहनRaja टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
  • 17:42, 5 जून 2021 अन्तर इतिहास −690 छो शालिवाहनRaja shaliwahan टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
  • 17:41, 5 जून 2021 अन्तर इतिहास −3,260 शालिवाहनSatwahanvansh टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
  • 17:38, 5 जून 2021 अन्तर इतिहास −1,121 शालिवाहन→‎परिचय: {{सातवाहन राजवंश }} सातवाहन वंश प्राचीन भारत का एक महान राजवंश है सातवाहन राजाओं ने 300 वर्षों तक शासन किया सातवाहन वंश की स्थापना 60 ईसा पूर्व राजा सिमुक ने की थी। सातवाहन वंश में राजा सिमुक ,शातकर्णी,गौतमीपुत्रशातकर्णी,वशिस्थिपुत्र,पुलुमावी शातकर्णी,यज्ञश्री शातकारणी प्रमुख राजा थे। प्रतिष्ठान सातवाहन वंश की राजधानी रही ,यह महाराष्ट्र के ओरंगाबाद जिले में है सातवाहन साम्राज्य की राजकीय भाषा प्राकृतिक वा लिपि ब्राम्ही थी। इस समय अमरावती कला का विकाश हुआ था। सातवाहन राजवंश में मात... टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
  • 17:35, 5 जून 2021 अन्तर इतिहास −2 शालिवाहन{{सातवाहन राजवंश }} सातवाहन वंश प्राचीन भारत का एक महान राजवंश है सातवाहन राजाओं ने 300 वर्षों तक शासन किया सातवाहन वंश की स्थापना 60 ईसा पूर्व राजा सिमुक ने की थी। सातवाहन वंश में राजा सिमुक ,शातकर्णी,गौतमीपुत्रशातकर्णी,वशिस्थिपुत्र,पुलुमावी शातकर्णी,यज्ञश्री शातकारणी प्रमुख राजा थे। प्रतिष्ठान सातवाहन वंश की राजधानी रही ,यह महाराष्ट्र के ओरंगाबाद जिले में है सातवाहन साम्राज्य की राजकीय भाषा प्राकृतिक वा लिपि ब्राम्ही थी। इस समय अमरावती कला का विकाश हुआ था। सातवाहन राजवंश में मातृसत्तात्मक... टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
  • 17:34, 5 जून 2021 अन्तर इतिहास −20 शालिवाहन{{सातवाहन राजवंश }} सातवाहन वंश प्राचीन भारत का एक महान राजवंश है सातवाहन राजाओं ने 300 वर्षों तक शासन किया सातवाहन वंश की स्थापना 60 ईसा पूर्व राजा सिमुक ने की थी। सातवाहन वंश में राजा सिमुक ,शातकर्णी,गौतमीपुत्रशातकर्णी,वशिस्थिपुत्र,पुलुमावी शातकर्णी,यज्ञश्री शातकारणी प्रमुख राजा थे। प्रतिष्ठान सातवाहन वंश की राजधानी रही ,यह महाराष्ट्र के ओरंगाबाद जिले में है सातवाहन साम्राज्य की राजकीय भाषा प्राकृतिक वा लिपि ब्राम्ही थी। इस समय अमरावती कला का विकाश हुआ था। सातवाहन राजवंश में मातृसत्तात्मक... टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
  • 17:33, 5 जून 2021 अन्तर इतिहास +1,858 शालिवाहन{{सातवाहन राजवंश }} सातवाहन वंश प्राचीन भारत का एक महान राजवंश है सातवाहन राजाओं ने 300 वर्षों तक शासन किया सातवाहन वंश की स्थापना 60 ईसा पूर्व राजा सिमुक ने की थी। सातवाहन वंश में राजा सिमुक ,शातकर्णी,गौतमीपुत्रशातकर्णी,वशिस्थिपुत्र,पुलुमावी शातकर्णी,यज्ञश्री शातकारणी प्रमुख राजा थे। प्रतिष्ठान सातवाहन वंश की राजधानी रही ,यह महाराष्ट्र के ओरंगाबाद जिले में है सातवाहन साम्राज्य की राजकीय भाषा प्राकृतिक वा लिपि ब्राम्ही थी। इस समय अमरावती कला का विकाश हुआ था। सातवाहन राजवंश में मातृसत्तात्मक... टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
  • 08:29, 27 मई 2021 अन्तर इतिहास −101 कुम्हार→‎उत्तर प्रदेश,बिहार तथा झारखंड: उच्च टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन Reverted
  • 08:27, 27 मई 2021 अन्तर इतिहास −21 कुम्हार→‎वर्गीकरण: उच्च वर्ग टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन Reverted
  • 09:30, 10 मई 2021 अन्तर इतिहास +4,626 सदस्य वार्ता:Royal vardia→‎(Vardia rajvansh ): नया अनुभाग टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन Reverted
  • 09:29, 10 मई 2021 अन्तर इतिहास +3,669 सदस्य वार्ता:Royal vardia{{सातवाहन राजवंश }} सातवाहन वंश प्राचीन भारत का एक महान राजवंश है सातवाहन राजाओं ने 300 वर्षों तक शासन किया सातवाहन वंश की स्थापना 60 ईसा पूर्व राजा सिमुक ने की थी। सातवाहन वंश में राजा सिमुक ,शातकर्णी,गौतमीपुत्रशातकर्णी,वशिस्थिपुत्र,पुलुमावी शातकर्णी,यज्ञश्री शातकारणी प्रमुख राजा थे। प्रतिष्ठान सातवाहन वंश की राजधानी रही ,यह महाराष्ट्र के ओरंगाबाद जिले में है सातवाहन साम्राज्य की राजकीय भाषा प्राकृतिक वा लिपि ब्राम्ही थी। इस समय अमरावती कला का विकाश हुआ था। सातवाहन राजवंश में मातृसत्तात्मक... टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन Reverted
  • 16:17, 2 मई 2021 अन्तर इतिहास +271 सातवाहन→‎गौतमी पुत्र श्री शातकर्णी (70ई0-95ई0): प्रजापति जाति] कुम्भार हिन्दू एवं मुस्लिम दोनों ही समुदाय में अलग अलग होते हैं। हिन्दू कुम्हार को भारत में उच्च श्रेणि का माना जाता है दो वर्गों द्वारा प्रजापति शब्द का प्रयोग किया जाता है {जिझौतिया प्रजापति} "जिझौतिया प्रजापति ब्राम्हण होते हैं इनकी समाज में सर्वोच्चता होती है इनका कार्य ईश्वर की आराधना करना, शिक्षा का प्रसार करना एवं पूजा पाठ करना होता हैं वैदिक काल में इस ब्राम्हण वर्ग की समाज में सर्वोच्चता हो गई ,वर्तमान में इनकी संख्या भरता... टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
  • 20:40, 1 मई 2021 अन्तर इतिहास +3 शालिवाहन शकवर्तमान में सातवाहन राजवंश की शाखाएं वराडिया (महाराष्ट्र,आंध्र),वर्दीय या वरदिया(उत्तर प्रदेश,मध्य प्रदेश,राजिस्थान)सवांसोलकीया(मध्य प्रदेश)आदि प्रमुख हैं।। टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
  • 20:39, 1 मई 2021 अन्तर इतिहास +3 शालिवाहनवर्तमान में सातवाहन राजवंश की शाखाएं वराडिया (महाराष्ट्र,आंध्र),वर्दीय या वरदिया(उत्तर प्रदेश,मध्य प्रदेश,राजिस्थान)सवांसोलकीया(मध्य प्रदेश)आदि प्रमुख हैं।। टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
  • 20:35, 1 मई 2021 अन्तर इतिहास −25 शालिवाहनवर्तमान में सातवाहन राजवंश की शाखाएं वराडिया (महाराष्ट्र,आंध्र),वर्दीय या वरदिया(उत्तर प्रदेश,मध्य प्रदेश,राजिस्थान)सवांसोलकीया(मध्य प्रदेश)आदि प्रमुख हैं।। टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
  • 20:32, 1 मई 2021 अन्तर इतिहास −25 शालिवाहन शकवर्तमान में सातवाहन राजवंश की शाखाएं वराडिया (महाराष्ट्र,आंध्र),वर्दीय या वरदिया(उत्तर प्रदेश,मध्य प्रदेश,राजिस्थान)सवांसोलकीया(मध्य प्रदेश)आदि प्रमुख हैं।। टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
  • 20:23, 1 मई 2021 अन्तर इतिहास +170 गौतमी पुत्र शातकर्णीवर्तमान में सातवाहन राजवंश की शाखाएं वराडिया (महाराष्ट्र,आंध्र),वर्दीय या वरदिया(उत्तर प्रदेश,मध्य प्रदेश,राजिस्थान)सवांसोलकीया(मध्य प्रदेश)आदि प्रमुख हैं।। टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
  • 20:05, 1 मई 2021 अन्तर इतिहास +1,810 शालिवाहन शक{सातवाहन राजवंश } सातवाहन वंश प्राचीन भारत का एक महान राजवंश है सातवाहन राजाओं ने 300 वर्षों तक शासन किया सातवाहन वंश की स्थापना 60 ईसा पूर्व राजा सिमुक ने की थी। सातवाहन वंश में राजा सिमुक ,शातकर्णी,गौतमीपुत्रशातकर्णी,वशिस्थिपुत्र,पुलुमावी शातकर्णी,यज्ञश्री शातकारणी प्रमुख राजा थे। प्रतिष्ठान सातवाहन वंश की राजधानी रही ,यह महाराष्ट्र के ओरंगाबाद जिले में है सातवाहन साम्राज्य की राजकीय भाषा प्राकृतिक वा लिपि ब्राम्ही थी। इस समय अमरावती कला का विकाश हुआ था। सातवाहन राजवंश में मातृसत्तात्मक प्... टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
  • 19:57, 1 मई 2021 अन्तर इतिहास −2 शालिवाहन{सातवाहन राजवंश } सातवाहन वंश प्राचीन भारत का एक महान राजवंश है सातवाहन राजाओं ने 300 वर्षों तक शासन किया सातवाहन वंश की स्थापना 60 ईसा पूर्व राजा सिमुक ने की थी। सातवाहन वंश में राजा सिमुक ,शातकर्णी,गौतमीपुत्रशातकर्णी,वशिस्थिपुत्र,पुलुमावी शातकर्णी,यज्ञश्री शातकारणी प्रमुख राजा थे। प्रतिष्ठान सातवाहन वंश की राजधानी रही ,यह महाराष्ट्र के ओरंगाबाद जिले में है सातवाहन साम्राज्य की राजकीय भाषा प्राकृतिक वा लिपि ब्राम्ही थी। इस समय अमरावती कला का विकाश हुआ था। सातवाहन राजवंश में मातृसत्तात्मक प्... टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
  • 19:51, 1 मई 2021 अन्तर इतिहास 0 शालिवाहन{{सातवाहन राजवंश }} सातवाहन वंश प्राचीन भारत का एक महान राजवंश है सातवाहन राजाओं ने 300 वर्षों तक शासन किया सातवाहन वंश की स्थापना 60 ईसा पूर्व राजा सिमुक ने की थी। सातवाहन वंश में राजा सिमुक ,शातकर्णी,गौतमीपुत्रशातकर्णी,वशिस्थिपुत्र,पुलुमावी शातकर्णी,यज्ञश्री शातकारणी प्रमुख राजा थे। प्रतिष्ठान सातवाहन वंश की राजधानी रही ,यह महाराष्ट्र के ओरंगाबाद जिले में है सातवाहन साम्राज्य की राजकीय भाषा प्राकृतिक वा लिपि ब्राम्ही थी। इस समय अमरावती कला का विकाश हुआ था। सातवाहन राजवंश में मातृसत्तात्मक... टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
  • 19:49, 1 मई 2021 अन्तर इतिहास 0 शालिवाहन{{सातवाहन राजवंश }} सातवाहन वंश प्राचीन भारत का एक महान राजवंश है सातवाहन राजाओं ने 300 वर्षों तक शासन किया सातवाहन वंश की स्थापना 60 ईसा पूर्व राजा सिमुक ने की थी। सातवाहन वंश में राजा सिमुक ,शातकर्णी,गौतमीपुत्रशातकर्णी,वशिस्थिपुत्र,पुलुमावी शातकर्णी,यज्ञश्री शातकारणी प्रमुख राजा थे। प्रतिष्ठान सातवाहन वंश की राजधानी रही ,यह महाराष्ट्र के ओरंगाबाद जिले में है सातवाहन साम्राज्य की राजकीय भाषा प्राकृतिक वा लिपि ब्राम्ही थी। इस समय अमरावती कला का विकाश हुआ था। सातवाहन राजवंश में मातृसत्तात्मक... टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
  • 19:44, 1 मई 2021 अन्तर इतिहास −632 शालिवाहन{{सातवाहन राजवंश }} सातवाहन वंश प्राचीन भारत का एक महान राजवंश है सातवाहन राजाओं ने 300 वर्षों तक शासन किया सातवाहन वंश की स्थापना 60 ईसा पूर्व राजा सिमुक ने की थी। सातवाहन वंश में राजा सिमुक ,शातकर्णी,गौतमीपुत्रशातकर्णी,वशिस्थिपुत्र,पुलुमावी शातकर्णी,यज्ञश्री शातकारणी प्रमुख राजा थे। प्रतिष्ठान सातवाहन वंश की राजधानी रही ,यह महाराष्ट्र के ओरंगाबाद जिले में है सातवाहन साम्राज्य की राजकीय भाषा प्राकृतिक वा लिपि ब्राम्ही थी। इस समय अमरावती कला का विकाश हुआ था। सातवाहन राजवंश में मातृसत्तात्मक... टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
  • 16:12, 31 मई 2020 अन्तर इतिहास +373 सातवाहनयह वंश राजा शालीवाहन को वरदान प्राप्त होने के कारण वर्दिया अथवा वार्डिया के नाम से जाना जाता है यह वंश महाराष्ट्र में प्रमुख रूप से विस्तृत है टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन

(सबसे नया | सबसे पुराना) देखें (नये 50) () (20 | 50 | 100 | 250 | 500)