विद्युत शक्ति अनुकूलन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

विद्युत उपभोक्ताओं को दिये जाने वाली वुद्युत शक्ति की गुणवत्ता (quality) सुनिश्चित करने वाले उपकरणों को शक्ति अनुकूलक (power conditioner) कहते हैं तथा इस प्रक्रिया को शक्ति अनुकूलन (Power conditioning) कहते हैं।

विद्युत शक्ति में गुणवत्ता संबन्धी अनेक प्रकार की समस्याएँ हो सकती हैं; जैसे वोल्टेज निर्धारित सीमा से भी कम या अधिक हो; आवृत्ति ५० हर्ट्ज के बजाय ४७ हर्ट्ज हो; कुछ देर (जैसे आधा सेकेण्ड) के लिये विद्युत शक्ति शून्य हो आदि। ज्ञातव्य है कि विद्युत-शक्ति यदि निर्धारित मापडण्दों के अनुकूल नहीं होगी तो उससे विद्युत के उपकरण खराब हो सकते हैं; या वे ठीक से कार्य न करें आदि समस्याएँ पैदा हो सकती हैं।

वोल्टेज रेगुलेटर एक शक्ति-अनुकूलक उपकरण है। इसी तरह यूपीएस भी एक शक्ति अनुकूलक उपकरण है। सर्ज-सप्रेसर भी एक ऐसा ही उपकरण है। प्राय: एक ही उपकरण में शक्ति-गुणवत्ता की सभी समस्याओं को ठीक करने की क्षमता नहीं होती है। किन्तु अधिकांश उपकरण एक से अधिक समस्याओं के निवारण में सक्षम होते हैं।

वाह्य सूत्र[संपादित करें]