विद्यार्जन विषय

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

विद्यार्जन विषय (academic discipline) ज्ञान की किसी भी विशेष शाखा को कहते हैं। इसमें वह सभी निपुणताएँ, व्यक्ति, परियोजनाएँ, संस्थाएँ, सभाएँ और अनुसंधान क्षेत्र शामिल होते हैं जो उस विषय के साथ उल्लेखनीय रूप से सम्बन्धित हों। भौतिकी, वास्तु शास्त्र, इतिहास, इत्यादि इसके उदाहरण हैं। किसी विद्यार्जन विषय से सम्बन्ध रखने वाले व्यक्तियों को अक्सर विशेषज्ञ (expert, specialist) कहा जाता है।[1][2][3]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Gibbons, Michael; Camille Limoges, Helga Nowotny, Simon Schwartzman, Peter Scott, & Martin Trow (1994). The New Production of Knowledge: The Dynamics of Science and Research in Contemporary Societies. London: Sage.
  2. Ziman, John (2000). Real Science: What It Is, and What It Means. Cambridge: Cambridge University Press.
  3. History of Education, Encyclopædia Britannica (1977, 15th edition), Macropaedia Volume 6, p. 337