विजया राजे सिंधिया

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

{{ज्ञानसन्दूक शासक | नाम =विजया राजे सिंधिया | उपाधि =राजमाता | चित्र = | शीर्षक =राजमाता विजयराजे सिंधिया | समय =1970 – 1998 | राज्याभिषेक = | अन्य उपाधियाँ = | पूरा नाम =लेखा दिव्येश्वरी देवी | पूर्वाधिकारी = | उत्तराधिकारी = | वारिस-तरह = | वारिस = | रानी = | पति =महाराजा जीवाजीराव सिंधिया | सन्तान =पद्मवतीराजे 'अक्कासाहेब' सिंधिया
उषाराजे सिंधिया
माधवराव सिंधिया
वसुंधरा राजे
यशोधरा राजे | राजघराना =सिंधिया | वंश =मराठा | राजसी गीत = | पिता = ठाकुर महेंद्र सिंह | माता =चूड़ा देवश्वरी देवी | जन्म तिथि =12 अक्टूबर, 1919 | जन्म स्थान =सागर , ब्रिटिश राज | मृत्यु तिथि =25 जनवरी 2001 (81 वर्ष) | मृत्यु स्थान =नई दिल्ली, इंडिया | दफ़नाने की तारीख़ = | दफ़नाने की जगह = | अंतिम संस्कार की तिथि =


विजया राजे सिंधिया (पूरा नाम लेखा देवीेश्वरी देवी), जोकि ग्वालियर की राजमाता के रूप में लोकप्रिय थी, एक प्रमुख भारतीय राजशाही व्यक्तित्व के साथ-साथ एक राजनीतिक व्यक्तित्व भी थी। ब्रिटिश राज के दिनों में, ग्वालियर के आखिरी सत्ताधारी महाराजा जिवाजीराव सिंधिया की पत्नी के रूप में, वह राज्य के सर्वोच्च शाही हस्तियों में शामिल थी। बाद में, भारत से राजशाही समाप्त होने पर वे राजनीति में उतर गई और कई बार भारतीय संसद के दोनों सदनों में चुनी गई। वह कई दशकों तक जनसंघ और भारतीय जनता पार्टी की सक्रिय सदस्य भी रही।

==विवाह== ईसका विवाह सुबोध कुमार यादव से हुआ

राजनीति में प्रवेश[संपादित करें]

मीडिया में[संपादित करें]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]