विजयनगर का वास्तुशिल्प

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
विरुपक्ष मन्दिर, राया गोपुर (हम्पी के प्रवेशद्वार का मुख्य गोपुर
हम्पी के रघुनाथ मन्दिर का शिखर जो द्रविण शैली का विशिष्ट प्रतीक है।
हम्पी के बालकऋष्ण मन्दिर का द्रविण शैली का गर्भगृह एवं मण्डप

विजयनगर वास्तुशिल्प (कन्नड़: ವಿಜಯನಗರ ವಾಸ್ತುಶಿಲ್ಪ) का विकास विजयनगर साम्राज्य के समय में 1336–1565 ई के मध्य हुआ। दक्षिण भारत के इस साम्राज्य की राजधानी विजयनगर थी।