विकृत प्रोत्साहन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

विकृत प्रोत्साहन एक ऐसा प्रोत्साहन होता है जिसका परिणाम अनायास और अवांछनीय होता है जो इसके कर्ताओं की मंशा के विपरीत होता है। विकृत प्रोत्साहन नकारात्मक अनपेक्षित परिणाम का एक प्रकार है।

ब्रिटिश सरकार दिल्ली में जहरीले कोबरा सांपों की बढ़ती संख्या को लेकर चिंतित थी। इसलिए सरकार ने हर मृत कोबरा के लिए एक इनाम की पेशकश की। प्रारंभ में यह रणनीति सफल रही क्योंकि इनाम के लिए लोगों ने बड़ी संख्या में सांप मार दिए। किंतु बाद में कुछ बुद्धिमान लोगों ने अधिक पैसा कमाने के लिए कोबरा पालना करना शुरू कर दिया। जब सरकार को इस बारे में पता चला, तो उसने इनाम कार्यक्रम समाप्त कर दिया गया। इस कारण अब कोबरा पालने वालों के सांप बेकार हो गए, तो उन्होंने उन्हें खुले में छोड़ दिया। परिणामस्वरूप, जंगली कोबरा की आबादी पहले से कहीं ज़्यादा बढ़ गई।  

इससे कोबरा प्रभाव शब्द की व्युत्पत्ति हुई, जो किसी ऐसी स्थिति का वर्णन करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है, जहां समस्या का समाधान करने का प्रयास वास्तव में समस्या को बदतर बना देता है।[1][2]

यह सभी देखें[संपादित करें]

* Conflict of interest

संदर्भ[संपादित करें]

  1. Siebert, Horst (2001). Der Kobra-Effekt. Wie man Irrwege der Wirtschaftspolitik vermeidet (जर्मन में). Munich: Deutsche Verlags-Anstalt. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 3-421-05562-9.
  2. Schwarz, Christian A. (1996). NCD Implementation Guide. Carol Stream Church Smart Resources. पृ॰ 126. Cited in Brickman, p. 326.

आगे की पढाई[संपादित करें]

  • Sloan, John III; Kovandzic, Tomislav V.; Vieraitis, Lynee M. (2002). "Unintended Consequences of Politically Popular Sentencing Policy: The Homicide-Promoting Effects of 'Three Strikes' in U.S. Cities (1980–1999)". Criminology & Public Policy. 1 (3): 399–424. डीओआइ:10.1111/j.1745-9133.2002.tb00100.x.