विकिपीडिया वार्ता:प्रयोगस्थल

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

यह पृष्ठ विकिपीडिया:प्रयोगस्थल पन्ने के सुधार पर चर्चा करने के लिए वार्ता पन्ना है। यदि आप आप अपने संदेश पर जल्दी सबका ध्यान चाहते हैं, तो यहाँ संदेश लिखने के बाद चौपाल पर भी सूचना छोड़ दें।

पादप ऊर्जा से विद्युत ऊर्जा में परिवर्तन[संपादित करें]

यदि ऊर्जा स्थानांतरण की ऐसी युक्ति का निर्माण करें जिससे पादपों के तने से सीधे ही विद्युत ऊर्जा में वदल सकें तो इससे न केवल पर्यावरण संरक्षण में मदद मिलेगी बल्कि ऊर्जा की बढ़ती हुई मांग को सहजता से पूरा किया जा सकता है । Shyam Sunder Sen (वार्ता) 07:15, 30 सितंबर 2018 (UTC)

ऊर्जा एक ऐसी वस्तु है जो सबसे बलवान है की बढ़ती हुई मांग और उसके समाधान[संपादित करें]

हम जानते हैं कि दुनिया में आज सबसे महत्वपूर्ण आवश्यकता ऊर्जा की पूर्ति करना है । समाधान - ऊर्जा नियम "उर्जा को न तो नष्ट किया जा सकता न ही उद्गम परन्तु एक रूप से दूसरे रूप मे रूपांतरण किया जा सकता है " 1 सभागारों मे ध्वनि ऊर्जा को विद्युत ऊर्जा में 2 खेल मैदान मे दाब ऊर्जा को 3 वाहनों की दाब ऊर्जा को यांत्रिक ऊर्जा में 4 छोटी जलाशयी धाराओं से विद्युत ऊर्जा में 5 कचरा दहन द्वारा विद्युत उत्पादन 6 पादपों की वातावरणीय ऊर्जा को संचित ऊर्जा मे 7 पवन सौर चुम्बकीय तथा अन्य रूपो को रूपांतरित कर ।

== श्री राम लला के लिए कुछ पंक्तियाँ neeraj Kumar

श्री राम मंदिर के विषय में एक सुझाव - " है राम नाम ही सत्य, सत्य अपराध नहीं हो सकता है, है राजनीति का धर्म यही सब को धारण कर सकता है, श्रीराम हमारे पूर्वज हैं मिलकर इनका सम्मान करें, राम नाम है महामंत्र दोहराएं इनका ध्यान करें, वो राजनीति है दुष्ट नीति जो बिना जुड़े श्रीराम रहे, आजादी कैसी आजादी निर्वासित जिसमें राम रहे? जाति वर्ग का भेद देश को फिर विघटित कर सकता है, विघटनवादी नीति से भारत खंडित हो सकता है, विघटन वादी यह अधर्म की राजनीति अब बंद करें, राम लला को अपना लें सब ना कोई अब द्वंद करें "

             जय श्री राम  ज्योति राय (वार्ता) 16:46, 27 नवम्बर 2018 (UTC)

Bs Kevalprasad chouhan (वार्ता) 14:43, 27 जून 2019 (UTC)

जीव हमारी जाति हैं' मानव धर्म हमारा हिन्दू, मुस्लिम, सिख, ईसाई धर्म नहीं कोई न्यारा

Sehwag meena (वार्ता) 04:33, 30 जून 2019 (UTC)

यहाँ ऊर्जा का आशय यह है कि हम चाहे किसी को कितना भी नष्ट करने को सोचे या उजागर करने को परन्तु वह खत्म या उत्पन्न नही होगी बल्कि दूसरी दिशा में परिवर्तित हो जाएगी Nikhilmaurya1998 (वार्ता) 18:32, 31 जुलाई 2019 (UTC)

Shi v[संपादित करें]

GOP fruit group Jeffry Shiva jatav sahab (वार्ता) 09:13, 18 मार्च 2019 (UTC)

जैमिनी सूत्रम

आयु विचार[संपादित करें]

जैमिनी ऋषि ने जैमिनीसूत्रम मे आयु विचार मे लग्नेश व अष्टमेश ,जन्म लग्न व होरा लग्न और शनि औउर चन्द्र इन छहो से विचार करना चाहिये|

  • दीर्घायु योग: अष्टमेश अथवा शनि चन्द्र अथवा जन्म होरेश यह दोनो चर राशि मे हो तो दीर्घायु होती है |
  • मध्यायु योग : लग्नेश व अष्टमेश दोनो चर बव स्थिर मे स्थित हो अथ्वा ये दओनो द्विस्वभाव राशि मे स्थित हो तो मनुष्य की मध्यायु होती है |
  • अल्पायु योग : लग्नेश व अष्टमेश ये दोनो स्थिर राशियो मे हो अथवा एक चर राशि व दूसरा द्विस्वभाव राशि मे हो तो अल्पायु समझनी चहिये |

Sushma0104 (वार्ता)सुषमाSushma0104 (वार्ता)