वाल्मीकि जाति

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

वाल्मीकि हिन्दू सनातन धर्म को मानने वाली एक जाति व समुदाय है। इनका पारम्परिक काम युद्ध कार्य करना रहा है। वाल्मीकि समाज के अन्य नाम नायक, बोया, मेहतर भारत के अलग अलग राज्यों में इन नामों से भी जाना जाता है।

पंजाब में बसे मजहबी को भी इनका भाग माना जाता है जो सिख धर्म के अनुयायी हैं।[1] वाल्मीकि नाम वाल्मीकि से लिया गया है जिन्हें ये समुदाय अपना गुरू मानता है। वाल्मीकि समुदाय के लोग भगवान वाल्मीकि जी को ईश्वर का अवतार मानते हैं तथा उनके द्वारा रचित श्रीमद रामायण तथा योगवासिष्ठ को पवित्र ग्रन्थ मानते हैं।

इन्हें भी देखें

सन्दर्भ

  1. The Oxford Handbook of Sikh Studies. ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी प्रेस. 2014. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9780191004117.

अग्रिम पठन