वार्ता:मुखपृष्ठ

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

चित्र नही दिख रहा[संपादित करें]

फरवरी २०१६ का साँचा बनाया ही नही है, अपितु मुखपृष्ठ पर चित्र नही दिख रहा है।--106.78.219.139 (वार्ता) 14:14, 1 फ़रवरी 2016 (UTC)

@सत्यम् मिश्र, Hindustanilanguage, और संजीव कुमार: जी, ये देखिए। --गौरव सूद (वार्ता) 14:24, 1 फ़रवरी 2016 (UTC)

आलेख और चित्र[संपादित करें]

@आशीष भटनागर, संजीव कुमार, अनिरुद्ध!, Mala chaubey, चक्रपाणी, Anamdas, हिंदुस्थान वासी, आर्यावर्त, और अजीत कुमार तिवारी: आज का आलेख और निर्वाचित चित्र दिख नही रहे। शायद साँचोंके नामोँमे फिर से कोई समस्या हुई है। Dharmadhyaksha (वार्ता) 04:00, 3 अक्टूबर 2017 (UTC)

@Dharmadhyaksha: जी! पहले तो आपका बहुत बहुत धन्यवाद इस त्रुटि पर ध्यानाकर्षण हेतु, फिर क्षमा चाहूंगा, अक्तूबर नाम से सांचा बना था जबकि यहां अक्टूबर प्रयोग किया गया है। उसे सुधार दिया गया तो दोनों ही, चित्र एवं आलेख मुख्पृष्ठ पर आ गये।आशीष भटनागरवार्ता 15:33, 4 अक्टूबर 2017 (UTC)
चलो अब मुझे पता चल गया हैं तो मैंने ही कर दिया। Dharmadhyaksha (वार्ता) 04:02, 8 नवम्बर 2017 (UTC)

स्वागत सन्देश और बंधू प्रकल्प[संपादित करें]

मैंने लगभग एक महीने पहले, चौपाल पर बंधू प्रकल्प में भारतीय भाषाओं में उर्दू को जोड़ने और स्वागत सन्देश में विकिपीडिया पर आपका स्वागत है! ऐसा लिखने का प्रस्ताव डाला था, उसपर लगभग सबका समर्थन मिल गया, मगर उसे अभी तक कार्यान्वित नहीं किया गया....अब उसे भी कार्यान्वित कर दिया जाय, हालाँकि अंजलि मुद्रा की बात अभी भी अटकी पड़ी है, मगर कमसेकम उक्त दोनों चीज़ों को तो कार्यान्वित किया ही जा सकता है।🙏Natural-moustache Simple Black.svg  निरपराधवत् मृदुरोमकः    वार्ता  20:58, 10 मार्च 2018 (UTC)

@Innocentbunny: उर्दू जोड़ी गई। कृपया जाँच कर बताए कि सब ठीक है (प्रदर्शन, वर्तनी, वगैरह)। बाकी आप किस बारे में बात कर रहे हैं समझ में नहीं आया।--हिंदुस्थान वासी वार्ता 17:44, 30 मार्च 2018 (UTC)

विनोद तिवारी

आलोचक, संपादक और अध्यापक विनोद तिवारी का जन्म 23 मार्च 1972 को देवरिया (उत्तर प्रदेश) के एक निम्न-मध्यवर्गीय परिवार में हुआ । प्रारंभिक शिक्षा देवरिया में । इलाहबाद विश्वविद्यालय, इलाहाबाद से बी.ए., एम.ए. और डी. फिल.। एम.ए. में सर्वोच्च अंक । इलाहाबाद विश्वविद्यालय, इलाहाबाद, महात्मा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय वर्धा, बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय, वाराणसी में अध्यापन कार्य । अभी दिल्ली विश्वविद्यालय, दिल्ली के हिंदी विभाग (उत्तरी परिसर) में अध्यापन । दो वर्षों के लगभग अंकारा विश्वविद्यालय, अंकारा (तुर्की) में विजिटिंग प्रोफ़ेसर । लेखन की शुरुआत आलोचना से ही । अब तक, ‘परम्परा, सर्जन और उपन्यास’ ‘नयी सदी की दहलीज पर’ ‘विजयदेव नारायण साही (साहित्य एकेडेमी के लिए मोनोग्राफ)’ ‘निबंध : विचार-रचना’ ‘आचार्य रामचन्द्र शुक्ल के श्रेष्ठ निबंध’ ‘आचार्य महावीर प्रसाद द्विवेदी के श्रेष्ठ निबंध’ ‘आचार्य हजारीप्रसाद द्विवेदी के श्रेष्ठ निबंध’ ‘कथालोचना : दृश्य-परिदृश्य’ ‘हिन्दी उपन्यास : कला और सिद्धांत- (खंड-1,2), ‘नाज़िम हिकमत के देश में’ जैसी पुस्तकों का लेखन और सम्पादन कर चुके हैं । साहित्य एकेडेमी, दिल्ली की परियोजना “स्वाधीनता के बाद हिंदी साहित्य का इतिहास” में ‘आत्मकथा खंड’ का लेखन । ‘बहुवचन’ (महात्मा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय वर्धा की आलोचना पत्रिका) के दो अंकों का सम्पादन | बहुचर्चित और हिन्दी के व्यापक जनक्षेत्र में स्वीकृत पक्षधर [1] का सम्पादन-प्रकाशन कर रहे हैं । आलोचना के लिए देश भर में प्रतिष्ठित ‘देवीशंकर आलोचना सम्मान (2013)'[2][3][4] से सम्मानित । कथा आलोचना के लिए 'वनमाली कथालोचना सम्मान (2016)'[5] से सम्मानित ।

  1. पक्षधर
  2. https://aajtak.intoday.in/story/18th-devishankar-awasthi-award-to-vinod-tiwari-1-756055.html
  3. https://hindi.news18.com/news/city-khabrain/223582.html
  4. https://www.shabdankan.com/2014/04/devi-shanker-awasthi-samman-vinod-tiwari.html
  5. http://vanmali.in/Visitor/KathaSamman.aspx