वार्ता:मुखपृष्ठ

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

कीर समाज के गोत्र की कुल देवीयो के नाम स्थानो के नाम


1 नमचूल्या-चांदना धडेला तलयारा - नेणा पर्वती स्थान- ओलवाडा सवाई माधोपुर 2 वाण्या- अग्रवाल कुकडया कामल्या बिजाबत मुंडाबत पिपलया बिलाबत सलाबत दाबक्या कुवाण्या जीणावत बिस्सीपोता - चामुंडा माता स्थान- खरणी सवाई माधोपुर एवं बदनोर भीलबाडा 3 दायमा- कालाबत धामाबत बिजाबत लाडाबत फडदूपोता विस्सीपोता बानाबत धीराबत काकुपोता रतनाबत मोरया बर्ता- चौथ माता स्थान- बरवाडा सवाई माधोपुर 4 राठौर - मोची -बोपाबत जगावत- नागणेची माता स्थान- नागाणा जोधपुर एवं खटकड बुंदी 5 आकड़ा- सिसोदिया- बाण माता स्थान चितौडगढ राजमहल टोक एवं अम्बिका माता स्थान- जगत गांव उदयपुर 6 वामण - खीमज माता स्थान मंडोर एवं सिरोही 7 गाडरी- कालका माता स्थान चितौडगढ एवं कोदूकोटा भीलवाड़ा 8 उवाड - हाडा- आशापुरा एवं जोगनिया माता स्थान नाडोल भेसरोडगढ चितौडगढ भीलबाडा 9 नायर - नोलाई माता ( चंमूडा) स्थान खण्डार सवाई माधोपुर 10 लोहरया - कालका माता चितौडगढ 11 हिकडया - मान्या-कालका मामा नंदराय गांव चितौडगढ 12 जाट -हिंगलाज माता स्थान- बलूचिस्तान 13 सोलंकी - सडकावन -आसण ध्वज माता - स्थान - माऊट आबु एवं गोलबडी 14 ब्यल्छा - आशापुरा माता- स्थान- नाडोलाई पाली 15 माली - मालण माता- स्थान- जानरा जैसलमेर 16 रात्या -नागणेची माता स्थान नागाणा जोधपुर 17 भलंग -नेणा पार्वती ओलवाडा सवाई माधोपुर नोट- राव कैलाश जी के बातानुसार कीर समाज परिवार के गोत्र भूल बस छुट गये हो या गलत लिख गये हो तो आप बताकर सही करवाने की कृपा करे ताकी कीर समाज की वंशावली मे सभी परिवारों को समाहित किया जा सके धन्यवाद

    जानकारी 
  मिस्टर कीर 

पूर्व युवा प्रदेश अध्यक्ष कीर समाज मध्यप्रदेश


हारुल

हारूल हिमाचल-उत्तराखंड के महासू क्षेत्र की बोली का प्रचलित ऐतिहासिक शब्द है। जिसका सांस्कृतिक आधार पर विशेष महत्व है। देवी-देवताओं के प्रसंग सहित वीर गाथाओं के गायकी संकलन को हारूल कहते है। गायन के साथ-साथ हारूल की नृत्य शैली भी पृथक है। जिसका गायन-नृत्य देवी-देवताओं के पारंपरिक पर्व के अलावा सामाजिक सांस्कृतिक समारोह में भी किया जाता है। महासू क्षेत्र में हिमाचल के जिला शिमला, सिरमौर और उत्तराखंड में जिला देहरादून के जौनसार-बावर (पहले सिरमौर रियासत का भाग था) सहित उत्तरकाशी जिला का बंगाण व रवांई क्षेत्र भी आता है। यहां के मुख्य आराध्य देवता महासू है, जिनका मूल स्थान हनोल है। सत्य प्रकाश रैपाल्टू (वार्ता) 14:35, 6 सितंबर 2020 (UTC)

हुकुम सिंह निमोदा Hukum Singh Nimoda

हुकुम सिंह निमोदा ज्योतिर्मय प्रदेश समाचार पत्र के प्रधान संपादक हैं Hukum Singh Nimoda Editor in chief jyotirmay Pradesh Newspaper हुकुम सिंह निमोदा प्रधान संपादक ज्योतिर्मय प्रदेश समाचार पत्र भोपाल में निवास करते हैं आपकी जाति कीर गोत्र निमचुडिया है कीर जन्म स्थान ग्राम खोकसर जिला होशंगाबाद नर्मदा पुरम संभाग है हुकुम सिंह निमोदा (वार्ता) 10:54, 24 सितंबर 2020 (UTC)