वार्ता:महाराणा प्रताप

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

Chutiyoo raana prataap ek rajput vans ke the naa ki bhil

महाराणा प्रताप[संपादित करें]

लेख के उपर बहोत कम जानकारी दी गयी है। क्या लेख का नाम लिखनेमें या प्राप्त करनेमें परेशानी होते होगी? Vkvora2001 १४:५६, १२ फरवरी २००८ (UTC)

Edit on top[संपादित करें]

<《guljarilal kushawah bharatpur>》 this not related about article।.

महाराणा प्रताप राजपूत वंश के थे नहीं के आदिवासी भजन यह गलती है तो इसे सुधार ई Narendrasinh p devda (वार्ता) 10:03, 18 मई 2019 (UTC)

महाराणा प्रताप राजपूत वंश के थे नहीं के आदिवासी तो इस गलती को  सुधारी ए Narendrasinh p devda (वार्ता) 10:04, 18 मई 2019 (UTC)

महाराणा प्रताप सिसोदिया राजपूत वंश के को नहीं की आदिवासी तो इसमें गलती है हिंदी वर्जन में लिखा हुआ लेख मैं गलती है तो गुजराती और इंग्लिश वर्जन देख के यह गलती जरूर सुधार लो Narendrasinh p devda (वार्ता) 10:09, 18 मई 2019 (UTC)

किसी ने 9 मई को राजपूत शब्द के जगह पर आदिवासी शब्द लिखा है जो आपकी आर्टिकल के ट्रैकिंग में दिख रहा है जो कि इतिहास के साथ छेडहानि कर ने का प्रयास है। इसे जल्द से जल्द निकाला जाए । Lion on hunt (वार्ता) 03:28, 19 मई 2019 (UTC)

Title me abhi bhi adhivasi bhil likha huaa hai. Wo sudhare Rudraksha Kakades (वार्ता) 05:12, 20 मई 2019 (UTC)

सिसोदिया के जगह पे भील शब्द बदला गया है[संपादित करें]

आपके पेज पे 9 मई के आसपास किसी ने जान बूझकर सिसोदिया सब्द एवं राजपूत शब्द को निकाल कर भील शब्द प्रयोग किया है तो उस पूरे एडिटिंग को निकाल दे। Lion on hunt (वार्ता) 03:31, 19 मई 2019 (UTC)

महाराणा प्रताप सिंह सिसोदिया सब्द को जोड़े एवं यह जो भील सब्द प्रयोग किया है उसे तुरंत बदल दिया जावे ।

Digvijay singh medi (वार्ता) 15:12, 19 मई 2019 (UTC)

आपका पेज सरेआम गलत लिख रहा है[संपादित करें]

आपके पेज पे 9 मई के आसपास किसी ने जान बूझकर सिसोदिया सब्द एवं राजपूत शब्द को निकाल कर भील शब्द प्रयोग किया है तो उस पूरे एडिटिंग को निकाल दे। Jayrajsinh B Raol (वार्ता) 15:40, 19 मई 2019 (UTC)

इस पेज पे महाराणा प्रताप सिंह भील ये गलत है इसको सही किया जाये। इसे लोगो हिंसा पर उतर आएंगे Rajveer singh gour madra (वार्ता) 17:16, 19 मई 2019 (UTC)

shivam singh tanwar द्वारा किये गए परिवर्तन गलत है[संपादित करें]

गलत संदर्भ लिए है। केवल नाम मे परिवर्तन किए गए है और पूरी सही संदर्भित लाइन को गलत कर दिया। जेम्स टॉड के नाम से पिंकसिटी पब्लिहर्ष की किताब नही है आई एस बी एन पुराना है विजय नाहर की पुस्तक का Tapanvnahar (वार्ता) 15:06, 22 मई 2019 (UTC)

हल्दी घाटी का युद्ध एक दिन नहीं 4 दिन चला था[संपादित करें]

महाराणा प्रताप जी के पुत्र कुंवर अमर सिंह जी भी युद्ध में शामिल थे... आकाश गुप्ता फ़ेन भगत सिंह दा (वार्ता) 23:42, 3 अगस्त 2019 (UTC)

महाराणा प्रताप की मृत्यु[संपादित करें]

महाराणा प्रताप की मृत्यु हो एक रहस्य बन कर रहा है, परंतु महाराणा प्रताप के जीवन पर हुए कुछ शोध पत्रों में महाराणा प्रताप की मृत्यु का कारण बताया गया है इसी प्रकार एक शोध पत्र जनार्दन राय नागर राजस्थान विद्यापीठ विश्वविद्यालय में उदयपुर के मीरा कन्या महाविद्यालय के प्रोफेसर और इतिहासकार डॉक्टर चन्द्रशेखर शर्मा ने जारी किया हैं।

यह शोध पत्र महाराणा प्रताप के समकालीन ताम्र पत्रों को आधार पर जारी हुआ हैं। इस शोध पत्र मे डॉ. शर्मा ने महाराणा प्रताप के बारे के जानकारियां दी है कि महाराणा प्रताप की मृत्यु शिकार के दौरान हुई थी जब वह शिकार पर गए थे उन्होंने अपना धनुष निकाल के धनुष की डोर को खींचा तो उनके आंत में एकाएक खिंचाव आ गया। जिस खिंचाव के चलते उनका स्वास्थ्य बहुत ज्यादा बिगड़ गया और उनका इलाज उनकी ही राजधानी चावंड में चला लेकिन इलाज के चलने के दौरान 29 जनवरी 1597 को 57 वर्ष की आयु में उनकी मृत्यु हो गई। By himanshu Himanshu Singh bisht (वार्ता) 11:42, 6 सितंबर 2019 (UTC)