वार्ता:ब्रह्मा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

यह पृष्ठ ब्रह्मा लेख के सुधार पर चर्चा करने के लिए वार्ता पन्ना है। यदि आप आप अपने संदेश पर जल्दी सबका ध्यान चाहते हैं, तो यहाँ संदेश लिखने के बाद चौपाल पर भी सूचना छोड़ दें।

लेखन संबंधी नीतियाँ

लहजा ज्ञानकोशीय नहीं[संपादित करें]

इस लेख को कहना चाहिए कि हिन्दू मिथक के अनुसार यह सब घटनाएँ घटी हैं। पर यह लेख संकेत दे रहा है की यह सब घटनाएँ निश्चित रूप से घटी हैं। --गौरव (वार्ता) 18:08, 25 अक्टूबर 2015 (UTC)

ब्रह्मा की व्युत्पत्ति[संपादित करें]

@YmKavishwar: नमस्कार। मैं सन्दर्भ न जोड़ने के लिए माफ़ी चाहता हूँ। कल बहुत रात हो चुकी थी इसलिए मैं "काम जारी" का टैग जोड़ कर चला गया।

व्युत्पत्ति अनुभाग ब्रह्मा शब्द की उत्पत्ति (Etymology) के बारे में बात कर रहा है। यह बता रहा है कि सबसे पहले ब्रह्मा का उल्लेख कौन से ग्रन्थ में होता है, और यह ग्रन्थ कब लिखा गया था। यह अनुभाग हिन्दू धर्म के अनुसार ब्रह्मा की उत्पत्ति की कथा की बात नहीं कर रहा है। उसके लिए अलग अनुभाग बनाऊंगा। --गौरव (वार्ता) 11:18, 26 अक्टूबर 2015 (UTC)

@YmKavishwar: मैं व्युत्पत्ति अभिलेख में परिवर्तन करने से पहले आपके उत्तर की प्रतीक्षा करूँगा। आपसे निवेदन है कि मेरे द्वारा जोड़े गए किसी वाकय को लेख से हटाने से पहले वार्ता पृष्ठ पर बात कर लें। --गौरव (वार्ता) 12:53, 26 अक्टूबर 2015 (UTC)
@Gauravsood0289: जी, धन्यवाद। आज नयी office की adjustment में व्यस्त था इनकी वजह से समयसर उत्तर नहीं दे पाया इनके लिए क्षमा प्रार्थी हूँ। आप लिखना आरंभ कर दिजीए। में भी कुछ लिखना चाहता हूँ, जब तक आपका काम चल रहा है तब तक में दूसरे लेख में काम करता हूँ। आपका कोइ भी वाक्य हटाने की जरूरत तो नहीं पडेगी फिरभी जरुरत पडने पर वार्ता पृष्ठ पे हम चर्चा करेंगे। ब्रह्म और ब्रह्मा दोनो अलग है। ये दोनो मिक्ष्स न हो जाये ये जरूर देखियेगा। -योगेश कवीश्वर (वार्ता) 15:04, 26 अक्टूबर 2015 (UTC)
@YmKavishwar: अंग्रेजी विकिपीडिया के अभिलेख Brahma#Etymology में यह लिखा है: "The origins of deity Brahma are uncertain, in part because several related words such as one for Ultimate Reality (Brahman), and priest (Brahmin) are found in the Vedic literature and these are difficult to differentiate."
चूँकि मुझे संस्कृत का ज्ञान ज्यादा नहीं है, इसलिए मैं नहीं कह सकता कि इनमें भेद कर पाना क्या सच में मुश्किल है। अंग्रेजी विकिपीडिया हालांकि इसके लिए सन्दर्भ देती है।
अगर यह बात सच है तो बहुत महत्वपूर्ण है। आपके इसके बारे में क्या विचार हैं? --गौरव (वार्ता) 19:01, 26 अक्टूबर 2015 (UTC)
@Gauravsood0289: जी, ये बात सही है की ब्राह्मण शब्द का प्रयोग अलग अलग अर्थो में भी होता है। ब्रह्म शब्द से सेंकडो शब्द बने है। एक ही शब्द भिन्न-भिन्न अर्थो के साथ प्रयोग में है। इनको समझपाना मुश्कील है एैसा नहीं केह सकते क्यूँकी ये व्यक्तिगत है, हम नहीं समझ सकते तो इनका मतलब ये होता है की हमारा संस्कृत का ज्ञान पर्याप्त नहीं है। बहोत लोग आसानी से समझ सकते है। ब्राह्मन शब्द:-
  • भारतीय वर्ण व्यवस्था के अनुसार चार पैकी एक वर्ण
  • वेदो का अध्ययन करने वाला ओर जो ब्रह्मज्ञान का अधिकारी है
  • जीसने ब्रह्म ज्ञान प्राप्त करके आत्मा का साक्षात्कार कर लिया है, जो राग, द्रेष, काम, क्रोध इत्यीदि से सर्वथा मुक्त है
  • यज्ञ कराने वाला
  • एक प्राचीन ग्रंथ का नाम ब्राह्मण है
  • विष्नु और शीव का नाम
  • ब्राह्मण सरनेम
  • ब्रह्मा के मुख से उत्पन्न हुआ वह

ब्रह्म और ब्रह्मा भी भिन्न शब्द है और जहा तक ब्रह्मा की बात है ब्रह्म शब्द ब्रह्मा के लिए प्रयोग नहीं होता। ब्रह्मा का नाम ब्रह्म शब्द से बना है इतना ही। ब्रह्म का एक अर्थ होता है की जो पूर्ण है। जीसमें किसी प्रकार की अपूर्णता नहीं है। खुद पूर्ण होने की वजह से दूसरो को भी अपनी तरह पूर्ण बनाता है इसे ब्रह्म कहते है। बृ+अहम जो हमें पूर्ण बनाता है। ब्रह्मा ने सृष्टि का सर्जन किया इसी लिए ब्रह्मा केहलाये। ब्रह्म शब्द निर्गुण, निराकार परब्रह्म परमेश्वर के लिए प्रयोग होता है। ब्रह्मा तो परब्रह्म कि तुलना में अपूर्ण है, इनका जन्म हुआ है, ब्रह्म अजन्मा अनादी है। ब्रह्मा ब्रह्मलोक में निवास करते हे ब्रह्म सर्वत्र है इत्यादी।-योगेश कवीश्वर (वार्ता) 02:35, 27 अक्टूबर 2015 (UTC)

वाक्य का पुनरावर्तन[संपादित करें]

@Gauravsood0289: जी, ये देखे:-
'हिन्दू मिथक के अनुसार हर वेद ब्रह्मा के एक मुँह से निकला था। हिन्दू मिथक के अनुसार ज्ञान, विद्या, कला और संगीत की देवी सरस्वती ब्रह्मा की पुत्री हैं।'
ये दोनो वाक्य में हिन्दू मिथक के अनुसार वाक्य पहले वाक्य के बाद दूसरें में भी पुनरावर्तित हुआ है। हर बार हिन्दू मिथक के अनुसार लिखने की जरूरत नहीं है। दूसरे वाक्य में हिन्दू मिथक के अनुसार शब्द प्रयोग निकाल दिजीये।-योगेश कवीश्वर (वार्ता) 16:08, 26 अक्टूबर 2015 (UTC)

@YmKavishwar: जी धन्यवाद। आप मेरी त्रुटियों को निःसंकोच ठीक करें। मैं बस कह रहा कि था कोई बड़ा परिवर्तन करने से पहले बात कर लें।
मैं आपकी सकारात्मक प्रतिक्रिया के लिए हार्दिक धन्यवाद करता हूँ। आशा है कि हम हिन्दी विकिपीडिया को बेहतर बना पाएँगे। --गौरव (वार्ता) 16:25, 26 अक्टूबर 2015 (UTC)
धन्यवाद जी, में भी आपके कार्य की कदर करता हूँ। आप काम जारी रखे।-योगेश कवीश्वर (वार्ता) 16:41, 26 अक्टूबर 2015 (UTC)