वान डर वाल्स समीकरण

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

वान डर वाल्स समीकरण (van der Waals equation या van der Waals equation of state) गैसों के अवस्था का समीकरण है जिसे वान डर वाल्स ने 1877 में प्रस्तुत किया था। वास्तविक गैसें, आदर्श गैस समीकरण का ठीक से पालन नहीं करतीं , जबकि वान डर वाल्स का समीकरण काफी सीमा तक वास्तविक गैसों के व्यवहार का ठीक से वर्णन करता है।

,[1]

जहाँ R सार्वत्रिक गैस नियतांक है, T गैस का ताप है, P दाब है तथा V आयतन है।

वान डर वाल्स के दाब-आयतन समतापी वक्र
विभिन्न गैसों के लिये वान डर वाल्स नियतांकों के मान
गैस a
in (kPa·dm6)/mol2
= 10−3·(Pa·m6)/mol2
= 10−3·(J·m3)/mol2
b
in cm3/mol
= 10−6·m3/mol
हिलियम (He) 3,45 23,7
निआन (Ne) 21,3 17,1
ऑर्गन (Ar) 136,3 32,2
हाइड्रोजन (H2)[2] 24,7 15,5
नाइट्रोजन (N2) 140,8 39,1
आक्सीजन (O2) 137,8 31,8
वायु (80 % N2, 20 % O2) 135,8 36,4
कार्बन डाईऑक्साइड (CO2) 363,7 42,7
जल वाष्प (H2O) 557,29 31
क्लोरीन (Cl2) 657,4 56,2
अमोनिया (NH3) 422,4 37,1
मिथेन (CH4) 225 42,8
बेंजीन (C6H6) 52,74 304,3
डेकेन (C10H22) 37,88 237,4
ऑक्टेन (C8H18) 18,82 119,3

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Silbey, Robert J., Robert A. Alberty, and Moungi G. Bawendi. Physical Chemistry. 4th ed. N.p.: n.p., n.d. Print.
  2. C. San Marchi et al., WSRC-STI-2007-00579

इन्हें भी देखें[संपादित करें]