वल्लभसूरी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
आचार्य विजय वल्लभ सूरी
Acharya Vijayavallabhasuri.jpg
नाम (आधिकारिक) आचार्य विजय वल्लभ सूरी
व्यक्तिगत जानकारी
जन्म नाम छगन
जन्म 26 अक्टूबर 1870
बड़ोदरा, गुजरात
निर्वाण 22 सितम्बर 1954(1954-09-22) (उम्र 83)
मुम्बई
माता-पिता दीपचन्द, इच्छाबाई
शुरूआत
नव सम्बोधन वल्लभसूरी
सर्जक विजयानन्दसूरी (आत्माराम)
सर्जन तिथि 5 मई 18871887
दीक्षा के बाद
पद अचार्य
परवर्ती समुद्र सूरी

आचार्य विजय वल्लभ सूरी एक जैन संन्यासी थे। उन्होंने पंजाब केसरी के नाम से भी जाना जाता है। वो विजयानन्दसूरी के एक शिष्य थे। उन्होंने लोगों के लिए धार्मिक और सामाजिक कार्य किये। उन्होंने सक्रिय रूप से पंजाब में कार्य किया।[1]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Acharya Vijay Vallabh Suri". herenow4u.com. अभिगमन तिथि 14 नवम्बर 2013.