ल्यूक राइट

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

ल्यूक जेम्स राइट का जन्म ७ मार्च १९८५ में हुआ था। वे एक अंग्रेजी क्रिकेटर है और वे एक हल्का आँकेंगे बल्लेबाज और एक राइट-आर्म मध्यम गेंदबाज है। उनका जन्म ग्रँतम में हुआ था। वे २००४ में ससेक्स मे शाहिल हुए तथा उन्होंने अपना कैरियरलीसिनटरशाइर मे शुरु किया। उन्हे इंग्लैंड के दस्ते में २००४ में अंतर्गत-19 विश्व कप के लिये नामित किया गया था और सित्मबर २००७ में ट्वेंटी-२० चँपियन्षिप के लिए अंतराष्ट्रीय ट्वेंटी - २० टीम मे शामिल किया गया था। उन्होंने भारत के खिलाफ ५ सित्मबर २००७ मे अपने एक दिन इंटरनेशनल मे डेब्युट बना दिया।

काउंटी कैरियर[संपादित करें]

राइट ने पहली बार ससेक्स के लिए एक सदी मारा था और उसके घरेलू कैरियर के दौरान तीन अलग-अलग अवसरो पर डेनिस कॉम्पटन पदक जीता है।[1] २६ जून २००७ को उन्होंने उसकी युवती घरेलू ट्वेंटी-२० कप सदी, १०३ सहित ११ चौके और ६ छक्के यासिर अराफत ने ससेक्स के ७ विकेट जीत मे कैंटरबरी मे कैंट से अधिक गेंदबाजी जा र्सहा से पहले ही ४५ गेंदों से स्कोरिंग तोडी। यद्यपि सेमी फाएन्ल मे ससेक्स को हराया, राइट उच्चतम रन गणक के राइट भी ग्लूस्टरशायर के खिलाफ १२५ ७३ प्रसव से मार सफलता को लम्बे समय तक एक दिन स्वरुफो मे पाया गया प्रतियोगिता के रूप मे समाप्त हुआ।[2]

अप्रैल २००८ मई राएट २००८ काउटी के उद्घाटन मैच मे एमसीसी के लिए खेला। ससेक्स गेंदबाजी थे जबकि के लिए खेला। ससेक्स गेंदबाजी थे जबकी के लिए १७१ १५ पसली पारी मे बना, वह एक क्विफाइर १५५ मारा २१ चौके और ३ छ्क्के, एक वर्षा बाधित दूसरी पारी के दौरान साथ १८५ प्रसव से उस्का सर्वोच्च इस प्रकार अब तक कुल।[3] मई २००८ मे वह इंग्लैंड लायंस टीम दौरा इंग्लैंड के उत्तरार्द्ध के दौरे की शुरुआत में न्यूजीलैंड की ओर का सामना करने के लिए चुना गया था। शेरो के साथ संघर्ष कर, राइट १२०, १३१ प्रसव उन्हे २८० के लिए सभी बाहर, लाने के लिए रवाना राष्ट्रीय टीम मे उनके स्थान के बारे मे अटकलों को जन्म देने मारा।[4]

इंग्लैंड कैरियर[संपादित करें]

राइट के तहत-१७ के स्तर पर इंग्लैंड का प्रतिनिधित्व किया। २००३ में उन्होंने अंतर्गत-१९ टीम के साथ ऑस्ट्रेलिया के लिए यात्रा की और ५/४६ के आंकड़े एक दक्षिण अफ्रीका, मैच के साथ परिष्करण के खिलाफ हैट्रिक ली। फरवरी २००६ में उन्होंने इंग्लैंड ए टीम सिलेंडर के लिए वेस्ट इंडीज का दौरा किया था।

जुलाई २००७-सितम्बर में, वह प्रारंभिक ३०-आदमी इंग्लैंड टीम में ट्वेंटी-२० विश्व चैम्पियनशिप के लिए चुना गया था। तथा वे ३४६ रंस के साथ उस साल के उच्चतम ट्वेंटी-२० गणक थे।[5] ६ अगस्त को उन्हें अंतिम १५ सदस्यीय टीम की घोषणा में नामित किया गया था। ३ सितम्बर को यह घोषणा की गई थी कि भारत के खिलाफ अंतिम दो मैच के लिए ल्यूक राइट को घायलों के लिए एक प्रतिस्थापन के रूप में इंग्लैंड एकदिवसीय दस्ते में शामिल किया गया था। ५ सितम्बर २००७-द ओवल लंडन में ल्यूक राइट ने भारत के खिलाफ एकदिवसीय मैच में १०६ रन 6 विकेट स्टैंड में मिडिलसेक्स बैटस्मेन ओवेस शाह के साथ आधी सदी बनाई थी। ३९ बॉल्स का सामना करने के बाद राइट, ५० पर रन आउट हो गया था।[6] तथा उन्होंने खड़ा जयध्वनि प्राप्त किया। लॉर्ड्स में, अपने दूसरे मैच में वे दूसरे गेंद में ही आउट हुए। गौतम गंभीर द्वारा मारे गए गेंद को ल्यूक राइट ने पकडा और उसे आउट किया। ल्यूक राइट २००७ में, ट्वेंटी-२० विश्व कप के लिए चुना गया था जो दक्षिण अफ्रीका में होने वाला था और १३ सितम्बर को, उन्होंने अपनी पहली मैच ज़िम्बब्वे के साथ खेला जँहा वे पहले गेंद में ही आउट हुए।[7] वह २००८ में न्यूजीलैंड टूर के लिए चुना गया था। दो अभ्यास मैचों में अपने केप्टण को प्रभावित करने के बाद, उन्हें ५ मैचों में से ३ मैचों में खेलने के लिए चयनित हुए। ओ.डी.आई.सीरीज़ में, जँहा इंग्लैंड हारने वाला था, राइट ने ३५.५ में ७१ रन मारा था और पांच ओवरों में २८ रन को बचाया था।[8] इन ओवर्स में, अंतिम टाई-ओ.डी.आई. के ओवर शामिल थे, जँहा न्यूजीलैंड को जीतने के लिए ७ रन चाहिए था लेकिन राइट की गेंदबाजी से उन्हें केवल ६ रन प्राप्त हुए।[9] इसके बाद, वह इंग्लैंड के ट्वेंटी-२० और ओ.डी.आई.दस्तों में एक नियमित सदस्य के रूप में जारित किया। उन्होंने न्यूजीलैंड और दक्षिण अफ्रीका के साथ २००८ में होम सीरीस खेला था जबकी बल्लेबाज़ी के क्रम में उसकी जगह अनिश्चित थी और उन्हें कभी एक जगह का आश्वासन दिया गया था। २००९ की शरद ऋतु में, उन्होंने ६-१ हार में ऑस्ट्रेलिया के साथ खेला था। इस समेय पर, खेल के अंत में त्वरित रन हिट करने के लिए उनकी भूमिका थी। चैंपियंस ट्रॉफी के बाद, अक्टूबर २००९ में, राइट को पहली बार इंग्लैंड के टेस्ट दस्ते में दक्षिण अफ्रीका के सर्दियों के दौरे पर बुलाया गया था। अखिल राउंडर की जगह जो २००९ में एंड्रयू फ्लिंटॉफ के सेवानिवृत्ति के कारण खाली हुआ, उसे भरने की समावेश राइट को थी। ज्योफ मिलर, इंग्लैंड के चयनकर्ताओं के अध्यक्ष ने कहा कि, एंड्रयू फ्लिंटॉफ की सेवानिवृत्ति ने सभी दस्ते के हरफनमौला के लिए एक रिक्ति पैदा किया है और उसकी चौतरफा खेल को विकसित होते देखकर हम उत्साहित होते है। तथा यह विशवास करते है कि वे टेस्ट स्तर पर एक प्रभाव बना सकते है।[10] उन्हें यह उमीद थी कि ल्यूक राइट पहले टेस्ट में खेलेगा। तथापि, इंग्लैंड ६ बल्लेबाजों के साथ जाने का फैसला किया था और लान बैल को उस मैच में चुना जो एक ड्रॉ मैच के रूप में समाप्त हुआ। २००९ और २०१० के टूर्नामेंट में ल्यूक राइट इंग्लैंड के ट्वेंटी-२० दस्त के सदस्य थे जहां वह जीतने वाली इंग्लैंड टीम के एक सदस्य थे।

व्यक्तिगत जीवन[संपादित करें]

राइट रेटक्लिफ कॉलेज में अपनी पडाई पूरी की थी।[11] वह १८ साल की उम्र में लाइसेसटरशाईर् के लिए अपने प्रथम श्रेणी में पहली फिल्म बनाई थी।[12] २००९ को न्यूजीलैंड में राइट की मुलाकात रेबेका से हुई जो उसकी पत्नी है। क्रिसमस ईव 2010 में जब वे दक्षिण अफ्रीकी दौरे पर थे तब उनकी सगाई हुई। और उनका विवाह ३० सितम्बर २०११ में हुआ था।[13] २७ नवम्बर २०११ दोपहर ३.३० बजै को ल्यूक के पहले बच्चे का जन्म हुआ और उसका नाम जोशूआ जेम्स था। ल्यूक ने जल्द ही अपने बेटे का तस्वीर ट्वीटर पेज पर पोस्ट किया। जनवरी २०१२ में उसने ट्वीटर पेज पर लिखा छोटे जोशूआ को अपने साथ सुलाने में से बेहतर कुछ नहीं है।

बिग बैश लीग[संपादित करें]

२०११ और २०१२ के बीच, ऑस्ट्रेलिया में राइट ने बिग बैश लीग के उद्घाटन में मेलबोर्न स्टार्स में शाहिल हुए। ९ जनवरी को राईट ने ६० गेंदो में ११७ रन किए थे। यह ऑस्ट्रेलिया के घरेलू ट्वेंटी-२० मैच में अब तक का उच्चतम स्कोर है। उसी मैच में, राइट और उसका टीम-मेट-रोब क़्विनी ने १७२ रन किए थे जो घरेलू ट्वेंटी-२० मैच में किसी भी विकेट के लिए सबसे अधिक है।

इंडियन प्रीमियर लीग[संपादित करें]

आई पी एल की ५ वीं सत्र में, उन्होंनें पुणे वारियर्स, इंडिया के लिए खेला था। उनके पहले आई पी एल मैच में किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ, ल्यूक राइट ने आउट होने से पहले १० गेंदों में ३४ रन और ६ चौके मारा था।

सन्दर्भ[संपादित करें]