लोतेय त्शेरिंग

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
लोतेय त्शेरिंग

पद बहाल
7 अक्टूबर 2018
राजा जिग्मे खेसर नामग्याल वांग्चुक
उत्तरवर्ती शेरिंग तोबगे

पदस्थ
कार्यालय ग्रहण 
14 मई 2018
सहायक शेरब ज्ञालतसेन
पूर्वा धिकारी टंडन दोरजी

जन्म 1967/1968 (50–51 आयु)
राजनीतिक दल ड्रुक न्यामप्रप त्सोग्पा
शैक्षिक सम्बद्धता माईमेंसिंग मेडिकल कॉलेज

लोटे शेरिंग (जन्म 1967/1968) एक भूटानी राजनीतिज्ञ हैं, जो भूटानी नेशनल असेंबली चुनाव, 2018 के परिणामों के बाद देश के प्रधानमंत्री चुने गये हैं।[1] वह 14 मई 2018 से 23 अक्टूबर 2018 तक ड्रुक न्यामप्रप त्सोग्पा के नेता थे।[2][3]

पेशे से मूत्ररोग विशेषज्ञ त्शेरिंंग ने 2013 में राजनीति में पदार्पण किया मगर 2013 के राष्ट्रीय सभा चुनावों में वे पहले ही दौर से बाहर हो गये।[4]

2018 चुनावों में उनकी पार्टी ने सबसे ज्यादा सीटें जीती जिससे वे देश के प्रधानमंत्री बनें।[5]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Narendra Modi congratulates newly elected PM of Bhutan". हिंदुस्तान टाइम्स. 19 अक्टूबर 2018.
  2. "DNT elects Dr. Lotay Tshering as President and Dasho Sherub Gyeltshen as Vice President". बी बी एस (अंग्रेज़ी में). 2018-05-14. अभिगमन तिथि 2018-10-16.
  3. "Ready to lead DNT, says Dr Lotay Tshering – KuenselOnline". www.kuenselonline.com (अंग्रेज़ी में). अभिगमन तिथि 2018-10-16.
  4. चौधरी, दिपांजन रॉय (20 अक्टूबर 2018). "Centre-left DNT win may strengthen India-Bhutan relations". द इकनॉमिक टाइम्स.
  5. "Bhutan chooses new party to form government". टाइम्स ऑफ़ इण्डिया.
राजनीतिक कार्यालय
पूर्वाधिकारी
त्शेरिंग तोबगे
भूटान के प्रधानमंत्री
2018–वर्तमान
पदस्थ