लिथुआनिया

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
Lietuvos Respublika
लिथुआनिया गणराज्य
लिथुआनिया का ध्वज लिथुआनिया का कुल चिन्ह
ध्वज कुल चिन्ह
राष्ट्रवाक्य: "Tautos jėga vienybėje"
"देश की शक्ति एकता में है"
राष्ट्रगान: Tautiška giesmė
लिथुआनिया की स्थिति
 लिथुआनिया  की स्थिति (red)

– Europe  (light yellow & orange)
– the European Union  (light yellow)  —  [Legend]

राजधानी विल्ञुस
54°41′ N 25°19′ E
सबसे बडा़ नगर capital
राजभाषा(एँ) लिथुआनियाई भाषा
सरकार Semi-presidential republic
 - President Dalia Grybauskaitė
 - Prime Minister Andrius Kubilius
 - Seimas Speaker Irena Degutienė
Independence from Russia (1918) 
 - First mention of Lithuania 14 February 1009 
 - Coronation of Mindaugas 6 July 1253 
 - Personal union with Poland 2 February 1386 
 - Creation of the Polish–Lithuanian Commonwealth 1569 
 - Partitions of the Commonwealth 1795 
 - Independence declared 16 February 1918 
 - 1st Soviet occupation 15 June 1940 
 - 2nd Soviet occupation 1944 
 - Independence restored 11 March 1990 
यूरोपीय संघ में अधिमिलन 1 May 2004
क्षेत्रफल
 - कुल {{{area}}} किमी² (123rd)
{{{areami²}}} मील²
 - जल(%) 1.35%
जनसंख्या
 - 2009 अनुमान 3,555,179 (130th)
 - जन घनत्व {{{population_density}}}/किमी² (120th)
{{{population_densitymi²}}}/मील²
सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) (पीपीपी) 2008 अनुमान
 - कुल $63.729 billion[1] ()
 - प्रति व्यक्ति $18,977[1] ()
मानव विकास सूचकांक  (2008) Green Arrow Up Darker.svg 0.870 (high) (46th)
मुद्रा Lithuanian litas (Lt) (LTL)
समय मंडल EET (यूटीसी +2)
 - ग्रीष्म (DST) EEST (यूटीसी +3)
इंटरनेट टीएलडी .lt1
दूरभाष कोड +370

लिथुआनिया यूरोप महाद्वीप के उत्तरी भाग में बाल्टिक सागर के किनारे स्थित एक देश है। यह तीन बाल्टिक देशों (लिथुआनिया, लातविया और ऍस्तोनिया) में से सबसे बड़ा है। इसकी राजधानी विल्नुस है। २०१२ में इसकी आबादी लगभग ३० लाख थी। लिथुआनियाई लोग एक बाल्टिक समुदाय हैं और लिथुआनियाई भाषा हिन्द-यूरोपीय भाषा परिवार की बाल्टिक शाखा की केवल दो जीवित भाषाओं में से एक है (दूसरी लातवियाई है)। कहा जाता है कि लिथुआनियाई भाषा ने हमेशा शुद्धता व आदिम हिन्द-यूरोपी भाषा से निकटता बनाई रखी है और संस्कृत भाषा के बहुत समीप है।[2]

इतिहास[संपादित करें]

१४वीं शताब्दी में लिथुआनिया यूरोप का सबसे बड़ा देश हुआ करता था। आधुनिक बेलारूसयुक्रेन के साथ-साथ पोलैन्ड और रूस के कई हिस्से लिथुआनिया महाड्यूक राज्य के भाग थे। १५६९ में लुबलिन संधि के तहत पोलैन्ड और लिथुआनिया एक द्विराष्ट्रीय 'पोलिश-लिथुआनियाई महाकुल' नामक परिसंघ में जुड़ गए। यह लगभग १५०-२०० वर्षों तक सलामत रहा लेकिन १७२२ से १७९५ काल में पड़ोसी देशों ने इसे धीरे-धीरे तोड़ दिया। लिथुआनिया के अधिकतर भूभाग पर रूसी साम्राज्य का अधिकार हो गया।

प्रथम विश्वयुद्ध के दौरान १९१७ में रूस में अक्तूबर समाजवादी क्रांति हुई जिस से रूसी साम्राज्य टूटा और सोवियत संघ ने जन्म लिया। इस उथल-पुथल का लाभ उठाते हुए १६ फ़रवरी १९१८ को लिथुआनियाई राजनैतिक नुमाइन्दो ने 'लिथुआनिया के स्वतंत्रता विधेयक' पर हस्ताक्षर किये और लिथुआनिया को एक आज़ाद राष्ट्र घोषित कर दिया। १९४० में, द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान, सोवियत संघ ने लिथुआनिया पर क़ब्ज़ा कर लिया और उसे लिथुआनियाई सोवियत समाजवादी गणतंत्र के नाम से गठित करके अपना भाग बना लिया। जल्द ही नात्ज़ी जर्मनी की फ़ौजों ने उन्हें निकालकर स्वयं लिथुआनिया पर नियंत्रण कर लिया। १९४४ में जब जर्मनी हारने लगा तो उसने अपनी सेनाएँ लिथुआनिया से हटा लीं और सोवियत संघ ने वापस लिथुआनिया पर अधिकार जमा लिया।[3]

१९९० में जब सोवियत संघ कमज़ोर पड़ा तो ११ मार्च १९९० को लिथुआनिया अपनी अलग स्वतंत्रता घोषित करने वाला पहला सोवियत गणतंत्र बना। आधुनिक लिथुआनिया यूरोपीय संघ, यूरोपीय परिषद और नाटो का सदस्य है और इसकी आर्थिक बढ़ौतरी का दर यूरोप के सबसे तेज़ देशों में से एक है। २००७-२०१० काल के विश्व आर्थिक मंदी का असर इस देश पर भी हुआ था लेकिन उसके बाद से अर्थव्यवस्था फिर से तेज़ी से विकसित हो रही है।[4]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Lithuania, International Monetary Fund, Accessed 2009-10-01
  2. Reconstruction of Nations: Poland, Ukraine, Lithuania, Belarus, 1569-1999, Timothy Snyder, pp. 96, Yale University Press, 2003, ISBN 9780300128413, ... The idea that the Lithuanian language is very closely related to Sanskrit, a view which is justified in qualified form in philology, remains in the popular mind as a powerful national idea to this day ...
  3. DK Eyewitness Travel Guide: Estonia, Latvia, and Lithuania, Howard Jarvis, John Oates, pp. 214, Penguin, 2011, ISBN 9780756684662, ... As the chaos of World War I and the 1917 Revolution weakened Russia, an elected council in Vilnius declared Lithuanian independence on 16 February 1918 ...
  4. Doing Business with Lithuania, pp. 16, GMB Publishing Ltd, 2005, ISBN 9781905050628, ... Lithuania has one of the fastest growing economies in Central and Eastern Europe with the private sector now producing approximately 80 per cent of the country's GDP ...