लाल्सांजुउली सैलो

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
लाल्सांजुउली सैलो
जन्म 15 मई 1949
थिंग्सई, मिजोरम, भारत
मृत्यु 14 अक्टूबर 2006(2006-10-14) (उम्र 57)
ऐजावल, मिजोरम, भारत
व्यवसाय
लेखक
गॉस्पेल गाने संगीतकार
प्रसिद्धि कारण
गॉस्पेल गाने
जीवनसाथी लाल्डिनलियाना
बच्चे दो बेटे और एक बेटी
माता-पिता
एस. वंचुमा
सप्तंगी चॉन्थथु

लल्सांजुउली सैलियो (15 मई 1 949 -14 अक्टूबर 2006) मिजोरम के एक भारतीय लेखक, सुसमाशा गायक और संगीतकार थे।[1]  वह 15 मई 1 949 को मिजोरम के भारतीय राज्य में थिंगसाई में जन्मे एस. वंचुमा और सपंथंगी चॉन्थथु को जन्मे, उन्होंने चेरपूनजी में सेंट जॉन्स बोस्को कॉन्वेंट में विद्यालय किया और सेंट मैरीज कॉलेज, शिलांग से स्नातक और मास्टर डिग्री हासिल की। उन्होंने शिक्षा (बीएडी) में स्नातक किया और मिजो साहित्य पर डॉक्टरेट की डिग्री (पीएचडी) और डीएलआईटी हासिल की।[2]

सैलोज़ 17 पुस्तकों और तीन पुस्तिकाओं के लेखक और मिजो इतिहास पर उनकी पुस्तक, त्लाम वे लो लालू रोपुल्लिलिनी ने 1999 में मिजो अकादमी ऑफ लेटर में मिजो बुक ऑफ द ईयर अवॉर्ड जीता।[3] उसने 300 से अधिक गीत लिखे हैं, मिजो, कोकबोरोक भाषा[4] और अंग्रेजी भाषा में। भारत सरकार ने उन्हें 1998 में पद्म श्री के चौथे उच्चतम नागरिक पुरस्कार से सम्मानित किया।[5]

14 अक्टूबर 2006 को सैलो का निधन हुआ। सैलो का विवाह लार्डिनलियान से हुआ था और उनके दो बेटे और बेटी हैं।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Lalsangzuali Sailo (1949- present)". India Online. 2015. अभिगमन तिथि October 27, 2015.
  2. Ramaṇikā Guptā (2006). Indigenous Writers of India: North-East India. Concept Publishing Company. पपृ॰ 167 of 227. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9788180693007.
  3. "Tlawm ve lo Lalnu Ropuiliani". Mizo Academy of Letters. 2015. अभिगमन तिथि October 27, 2015.
  4. "O Subrai Bophuru -Lalsangzuali Sailo Kokborok Video Song". Pak Files. 2015. अभिगमन तिथि October 27, 2015.
  5. "Padma Awards" (PDF). Ministry of Home Affairs, Government of India. 2015. अभिगमन तिथि July 21, 2015.