लालकुआँ

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
लालकुआँ
Lalkuan
लालकुआँ जंक्शन रेलवे स्टेशन
लालकुआँ जंक्शन रेलवे स्टेशन
लालकुआँ is located in उत्तराखण्ड
लालकुआँ
लालकुआँ
उत्तराखण्ड में स्थिति
निर्देशांक: 29°04′08″N 79°31′01″E / 29.069°N 79.517°E / 29.069; 79.517निर्देशांक: 29°04′08″N 79°31′01″E / 29.069°N 79.517°E / 29.069; 79.517
देश भारत
प्रान्तउत्तराखण्ड
ज़िलानैनीताल ज़िला
जनसंख्या (2011)
 • कुल7,644
भाषा
 • प्रचलितहिन्दी, कुमाऊँनी
पिनकोड262402
वाहन पंजीकरणUK 04

लालकुआँ (Lalkuan) भारत के उत्तराखण्ड राज्य के नैनीताल ज़िले में स्थित एक नगर है। लालकुआँ हल्द्वानी महानगर से सटा दक्षिण में स्थित एक नगर है। यह कुमाऊँ मण्डल के अंतर्गत आता है। लालकुआँ बिड़ला समूह की एक बड़ी पेपर मिल (सेंचुरी पल्प एंड पेपर) के लिए प्रसिद्ध है।[1][2][3]

इतिहास[संपादित करें]

जहां अब लालकुआँ नगर है, वह क्षेत्र पहले घना जंगल था। वर्ष १९२७ में जंगल को काटकर लोगों ने बसना शुरू किया। स्वतन्त्रता के बाद से ही स्थानीय लोगों ने उत्तर प्रदेश सरकार से इसे राजस्व गांव का दर्जा देने की मांग करना शुरू कर दिया। २३ दिसंबर १९७५ को लालकुआँ को राजस्व ग्राम घोषित किया गया। १९७८ में नगर के सर्वेक्षण एवं अभिलेखन की कार्यवाही शुरू की गयी, जिसमें यहां रहने वाले लोगों को खतौनी पर्ची दी गई, लेकिन अचानक उसे निरस्त कर दिया गया। १९७८ में ही लालकुआँ को नगर पंचायत का दर्जा भी दे दिया गया। राज्य गठन के बाद ३० जुलाई २००५ को उत्तराखंड सरकार ने नगर का पुन: सर्वे कराया। जिसमें नगर की पूरी भूमि का नक्शा, क्षेत्रफल, खसरा तैयार किया गया।[4]

भूगोल[संपादित करें]

लालकुआँ २९.०६७६१८°N ७९.५१८१८८°E के निर्देशांकों पर स्थित है।[5] समुद्र तल से इसकी ऊंचाई २६० मीटर है।[6] यह राष्ट्रीय राजमार्ग १०९ पर हल्द्वानी से १६ किलोमीटर, रुद्रपुर से २४ किलोमीटर, पंतनगर विमानक्षेत्र से ६ किलोमीटर तथा बरेली से ८० किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

जनसांख्यिकी[संपादित करें]

२०११ की जनगणना के अनुसार लालकुआँ की जनसंख्या ७,६४४ है जिसमें से ४,१९० पुरुष हैं जबकि ३,४५४ महिलाएं हैं।[7] ०-६ वर्ष की उम्र वाले बच्चों की संख्या १०१७ है जो कुल आबादी का १३.३०% है।[7] नगर का लिंग अनुपात ८२४ महिलाएं प्रति १००० पुरुष है।[7] नगर की साक्षरता दर ८३.०८% है।[7] पुरुषों में साक्षरता लगभग ८८.७९% है जबकि महिलाओं में साक्षरता दर ७६.०५% है।[7]

चित्र दीर्घा[संपादित करें]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Start and end points of National Highways". मूल से 22 सितंबर 2008 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 23 April 2009.
  2. "Uttarakhand: Land and People," Sharad Singh Negi, MD Publications, 1995
  3. "Development of Uttarakhand: Issues and Perspectives," GS Mehta, APH Publishing, 1999, ISBN 9788176480994
  4. नेगी, राजेश (१८ फरवरी २०१६) पांच दशक से नहीं मिला मालिकाना हक Archived 2018-04-24 at the Wayback Machine. नैनीताल:अमर उजाला. अभिगमन तिथि: २४ अप्रैल २०१८
  5. "Lalkuan Latitude and Longitude". मूल से 25 जनवरी 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 24 जनवरी 2018.
  6. "Lalkuan". मूल से 25 जनवरी 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 24 जनवरी 2018.
  7. "Lalkuan Population Census 2011". मूल से 25 जनवरी 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 24 जनवरी 2018.