लाड़ली बेगम

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से

लाडली बेगम नूरजहाँ (मेहरुन्निसा) और शेर अफगान खान की पुत्री थी। इसका विवाह जहांगीर के पुत्र शाहजहां के भाई शहरयार से हुआ था नूरजहां ने पुत्री का विवाह जहांगीर के चौथे पुत्र शहरयार (माता-जगतगोसाई) से इसलिए करवाया था क्योंकि वह चाहती थी की जहांगीर के बाद उसका दामाद शहरयार दिल्ली की गद्दी पर आसीन हो ।

नूरजहाँ (मेहरुन्निसा) जहांगीर की सबसे खास बेगम थी। जहांगीर इनसे उस वक्त मिले थे जब वह तत्कालीन बादशाह अकबर से विद्रोह करके आगरा से दूर थे तब मेहरूनिषा उनसे एक ढाबे मैं मिलने आई थी और वही से दोनो के बीच नजदीकियां बड़ी । इसके बाद जब यह बात जहांगीर (सलीम) के पिता अकबर को पता चली तो उन्होंने मेहरूनीषा का निकाह शेर अफगान से करा दिया । इसके कुछ समय बाद सलीम ने शेर अफगान को मरवा दिया और स्वयं ने मेहरूनीष से निकाह कर लिया।