लघु तरंग

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
एक लघु तरंग एनालॉग सॉलिड स्टेट अभिग्राही (रिसीवर)

लघु तरंगरेडियो होतीं हैं 3 MHz (3,000 kHz) एवं 30 MHz (30,000 kHz)[1] की आवृत्तियों के मध्य। इन्हें पूर्व काल में ऐसा कहा जाने लगा, क्योंकि इन आवृत्तियों से जुड़ी तरंग दैर्घ्य, उस समय प्रयोग होने वाली दीर्घ तरंग से छोटी होती थीं। एक वैकल्पिक नाम है उच्चावृत्ति रेडियो। ऐसा इसलिए होता था क्योंकि, आवृत्ति एवं तरंग दैर्घ्य, विलोम अनुपात में होते हैं।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Tomislav Stimac, "Definition of frequency bands (VLF, ELF... etc.)". IK1QFK Home Page (vlf.it).
रेडियो वर्णक्रम
अत्यधिक निम्न आवृत्ति (ELF) परम निम्न आवृत्ति (SLF) अत्यन्त निम्न आवृत्ति (ULF) अति निम्न आवृत्ति (VLF) निम्न आवृत्ति (LF) मध्यम आवृत्ति (MF) उच्चावृत्ति (HF) अत्योच्चावृत्ति (VHF) अत्यन्त उच्चावृत्ति (UHF) परम उच्चावृत्ति (SHF) अत्यधिक उच्चावृत्ति (EHF)
3 Hz 30 Hz 300 Hz 3 किलो हर्ट्ज़ 30 किलो हर्ट्ज़ 300 किलो हर्ट्ज़ 3 मैगा हर्ट्ज़ 30 मैगा हर्ट्ज़ 300 मैगा हर्ट्ज़ 3 गीगा हर्ट्ज़ 30 गीगा हर्ट्ज़
30 Hz 300 Hz 3 किलो हर्ट्ज़ 30 किलो हर्ट्ज़ 300 किलो हर्ट्ज़ 3 मैगा हर्ट्ज़ 30 मैगा हर्ट्ज़ 300 मैगा हर्ट्ज़ 3 गीगा हर्ट्ज़ 30 गीगा हर्ट्ज़ 300 गीगा हर्ट्ज़