रोगोस्की कुण्डली

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
रोगोस्की कुण्डली और उससे उत्पन्न वोल्टता के संसाधन का इलेक्ट्रॉनिक परिपथ

रोगोस्की कुण्डली (Rogowski coil) टोरॉयड के आकार में बनायी गयी तार की एक कुण्डली है जिसका उपयोग किसी तार या केबल में से प्रवाहित प्रत्यावर्ती धारा (ए सी) I(t) को मापने के काम आती है। सामने के चित्र को देखें। इसमें एक रोगोस्की कुण्डली है जो एक केबल को घेरे हुए है जिसमें प्रवाहित ए सी को मापना है। इस कुण्डली में उत्पन्न वोल्टता v(t) को एक इन्टीग्रेटर परिपथ से जोड़ा जाता है जो इन्टिग्रेट करके Vout(t) देता है जो केबल की धारा I(t) के समानुपाती होती है।