रेणुका झील

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
रेणुका झील पर सायंकाल का दृश्य
रेणुका झील पर सायंकाल का दृश्य
स्थान सिरमौर जिला , हिमाचल प्रदेश
निर्देशांक 30°36′36″N 77°27′30″E / 30.61000°N 77.45833°E / 30.61000; 77.45833निर्देशांक: 30°36′36″N 77°27′30″E / 30.61000°N 77.45833°E / 30.61000; 77.45833
अपवहन द्रोणी देश भारत
तट रेखा1 3,214 मी. (10,540 फुट)
सतह की ऊँचाई 672 मी. (2,200 फुट)
सन्दर्भ hptdc.gov.in
1 तटीय रेखा (तट की लम्बाई) आँकने की कोई एक मानक विधि नहीं है


रेणुका झील, हिमाचल प्रदेश के सिरमौर जिले में, नाहन से 40 किमी की दूरी पर स्थित है। यह हिमाचल प्रदेश के सबसे लोकप्रिय पर्यटन स्थलों में से एक है। समुन्द्र तल से 672 मीटर की ऊँचाई पर स्थित 3214 मीटर की परिधि के साथ रेणुका झील हिमाचल प्रदेश की सबसे बड़ी झील के रूप में जानी जाती है।  झील का नाम देवी रेणुका के नाम पर रखा गया था। यह अच्छी तरह से सड़क मार्ग से जुडी हूई है। झील पर नौका विहार उपलब्ध है। एक शेर सफारी और एक चिड़ियाघर रेणुका के पास हैं। यह नवंबर में आयोजित एक वार्षिक मेले की साइट है।

स्थिति[संपादित करें]

परवाणू से दूरी: 123 किमी।
पांवटा साहिब से दूरी: 51 किमी सतौन के रास्ते से
नाहन से दूरी: 38 किमी।

रेणुका मेले का इतिहास[संपादित करें]

प्रबोधिनी एकादशी की पूर्व संध्या पर पांच दिन भर राज्य स्तरीय श्री रेणुका जी मेला श्री रेणुका जी झील हिमाचल में, अपने दिव्य मां श्री रेणुका जी के घर पर पुत्र भगवान परशुराम के आगमन के साथ शुरू होता है। पांच दिवसीय मेले के दौरान यहां देश भर से कई लाख भक्त भगवान परशुराम व उनकी मां रेणुका जी के दिव्य मिलन के पवित्र अवसर को देखने के लिए यहाँ आते हैं।

चित्रावली[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]