रुबैदा सलाम

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

रुबैदा सलाम भारतीय प्रशासनिक सेवा की 2013 बैच की अधिकारी हैं। वे जम्मू और कश्मीर की पहली महिला बनी हैं जिन्होंने सिविल सर्विसेस के लिए क्वालीफाई किया है। 26 साल की रुबैदा के पास मेडिसिन की डिग्री है। उन्होंने अपना एकमात्र लक्ष्य सिविल सेवा चुना, इसलिए अपनी प्रैक्टिस छोड़ी और दबावों के बावजूद शादी के प्रस्तावों को ठुकराया। उनकी रैंक 804 है और उन्हें पुलिस सर्विस एलॉट किया गया है।[1]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. राष्ट्रीय सहारा (आधी दुनिया),25दिसंबर 2013, शीर्षक: घाटी की पहली साहब रुबैदा सलाम, पृष्ठ संख्या: 1