रितु ललित

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

रितु ललित (जन्म: 1964) भारत के फरीदाबाद में स्थित भारतीय उपन्यासकार, लघु कथाकार, और ब्लॉगर हैं। वह ज्यादातर फंतासी और रोमांचक शैली की कथा लेखन के लिये जानी जाती हैं। वह पाँच उपन्यासों की लेखिका हैं; ए बाउलफुल ऑफ़ बटरफ्लाइज़ ("A Bowlful of Butterflies"), हिलावी ("Hilawi"), चक्र, क्रॉनिकल्स ऑफ द विच वे ("Chakra, Chronicles of the Witch Way"), रोंग फॉर द राइट रीसन्स ("Wrong for the Right Reasons") और हिज़ फादर्स मिस्ट्रैस ("His Father’s Mistress")।[1]

प्रारंभिक जीवन और शिक्षा[संपादित करें]

रितु ललित का जन्म दिल्ली, भारत में हुआ था और उनका पालन-पोषण भारत के उत्तर पूर्वी हिस्से में हुआ था। उनके पिता भारत सरकार के साथ इलेक्ट्रिकल इंजीनियर थे और उनका तबादला अक्सर होता रहता था। इसलिए उन्होंने विभिन्न केन्द्रीय विद्यालयों में अपनी स्कूली शिक्षा प्राप्त की। उन्होंने गुवाहाटी विश्वविद्यालय से अंग्रेजी साहित्य में बैचलर और दिल्ली विश्वविद्यालय से अंग्रेजी साहित्य में अपनी मास्टर डिग्री पूरी की। वह बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन में पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा लिये हैं।

करियर[संपादित करें]

रितु ललित 2011 में अपना पहला उपन्यास ए बाउलफुल बटरफ्लाइज़ लेकर आईं। उसके बाद 2012 में हिलावी। उनके डेब्यू उपन्यास से पहले, प्रशांत शेहड़े द्वारा संकलित उनके दो लघु कथा संग्रह रिपल्स 2009 में प्रकाशित हुए। 2012 में पॉपुलर प्रकाशन द्वारा प्रकाशित रितु का दूसरा उपन्यास हिलावी प्रकाशित हुआ। पंचतन्त्र की दंतकथाओं और मानव शरीर में ऊर्जा भंवर की वैदिक अवधारणा से प्रेरित उनका तीसरा उपन्यास चक्र: क्रॉनिकल्स ऑफ द विच वे 2013 में सामने आया। 2014 में, उन्होंने अपना चौथा उपन्यास हिज फादर्स मिस्ट्रेस जारी किया। 2015 में वह एक और उपन्यास, रोंग फॉर द राइट रीसन्स लेकर आईं।

उसकी लघु कहानियों को सीबीएसई बोर्ड के पाठ्यक्रम के कक्षा 8 और कक्षा 12 में एक भाग के रूप में पढ़ाया जाता है। उनकी दो कहानियां राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद द्वारा प्रकाशित की गईं। वह फीनिक्स रितु के नाम से ब्लॉग लिखती हैं।[2] टाइम्स ऑफ इंडिया के अनुसार, रितु वर्तमान में दो ब्लॉग चला रही हैं, एक व्यक्तिगत ब्लॉग और दूसरा खाना पकाने पर।[3]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "An Interview with Ritu Lalit!". The Mag. 24 August 2013.
  2. "Wish to pen a book? Make a splash with blogging". Indian Express. 8 September 2015.
  3. "Wish to pen a book? Make a splash with blogging". Times of India. 7 October 2015.