राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान is located in भारत
पटना
रायपुर
वारांगल
भोपाल
दुर्गापुर
जमशेदपुर
नागपुर
श्रीनगर
सूरतकल
इलाहाबाद
कालीकट
राउरकेला
सूरत
जयपुर
कुरुक्षेत्र
तिरुचिरापल्ली
अगरतला
सिलचर
हमीरपुर
जालंधर
फर्मागुदी
कराईकल
दिल्ली
पौढ़ी
रवंगला
आइजोल
शिलांग
इम्फाल
दीमापुर
युपिआ
ताड़ेपल्लीगुड़म
३० एन. आई. टी.यों की मानचित्र पर स्थिति (हरे मौजूदा एवं लाल आगामी कैम्पसों को प्रदर्शित कर रहे हैं)

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (NITs) को पहले क्षेत्रीय इंजिनीयरिंग कालेज (आर ई सी) के नाम से जाना जाता था। सन् २००२ में भारत सरकार के मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने इन १७ इंजिनीयरंग महाविद्यालयों का स्तर बढ़ाकर इनका नाम "राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान" कर दिया। भारत में तकनीकी शिक्षा के क्षेत्र में शिक्षण के स्तर, विद्यार्थियों की गुणवत्ता तथा स्थापन (प्लेसमेन्ट) की दृष्टि से भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थानों (आई आई टी) के बाद इनका ही स्थान आता है। इस समय (सन् २००७) एन आई टी की संख्या ३० है। प्रारम्भ में सन् १९५९ और् सन् १९६५ के बीच चौदह आर ई सी की स्थापना हुई। वर्तमान समय में ३१ एन आई टी निम्नलिखित स्थानों पर स्थित हैं:

सभी कालेजों में विभिन्न तकनीकी शाखाओं में स्नातक, परा-स्नातक और डाक्टरेट स्तर की शिक्षा दी जाती है। आजकल एन आई टी होने के बाद इन संस्थानों का सारा खर्च केन्द्र सरकार वहन करती है। इन संस्थानों के स्नातक स्तर के पाठ्यक्रमों में प्रवेश अखिल भारतीय इंजिनीयरिंग प्रवेश परीक्षा (AIEEE) के माध्यम् से होती है जिसमें बहु-विकल्पीय वस्तुनिष्ठ प्रश्न पूछे जाते हैं।

बाहरी सम्पर्क[संपादित करें]

Connect NIT