राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिकी एवं सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान, कोहिमा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिकी एवं सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान (नाइलिट / National Institute of Electronics & Information Technology), कोहिमा वर्ष 2004 में स्थापित भारत सरकार के संचार और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय, इलेक्ट्रॉनिकी और सूचना प्रौद्योगिकी विभाग अन्तर्गत एक राष्ट्रीय स्तर का तकनीकी संस्थान है। यह संस्थान सूचना, इलेक्ट्रॉनिकी एवं संचार प्रौद्योगिकी से संबंधित अध्यापन, प्रशिक्षण तथा अन्य प्रोफेशनल कार्यकलाप करने की सुविधा प्रदान करता है और साथ ही अनुसंधान एवं विकास संबंधी कार्य, परामर्श सेवाएँ तथा सॉफ्टवेयर विकास के कार्य भी करता है।

नाइलिट एक ऐसा संस्थान है जो रोजगार के अवसरों में सुधार करने तथा अच्छी क्वालिटी की सूचना प्रौद्योगिकी जनशक्ति की उपलब्धता की सुविधा प्रदान करने के प्रयोजन से प्रशिक्षण कार्यक्रम चलाता है, जिसके परिणामस्वरूप क्षेत्र में और विशेष रूप से नागालैण्ड सूचना प्रौद्योगिकी उद्योग के विकास में योगदान मिलेगा। नाइलिट की एक मुख्य विशेषता औपचारिक तथा अनौपचारिक क्षेत्र के पाठ्यक्रमों को संतुलित समामेलन है जिसका उद्देश्य आईईसीटी के क्षेत्र में शिक्षण तथा प्रशिक्षण के अवसर उपलब्ध कराना है।

अद्यतन तकनीकी जानकारी तथा मूलसंरचना से युक्त नाइलिट, कोहिमा को नागालैण्ड सरकार द्वारा सूचना प्रौद्योगिकी उत्तमता केन्द्र भी घोषित किया गया है।

उद्देश्य[संपादित करें]

  • औपचारिक तथा अनौपचारिक पाठ्यक्रमों के माध्यम से आईईसीटी के क्षेत्र में मानव संसाधन विकास के कार्य करना।
  • कुशलता विकास कार्यक्रमों के माध्यम से उद्योग में रोजगार योग्य कार्मिक तैयार करना तथा आईईसीटी के क्षेत्र में उद्यमशीलता को बढ़ावा देना।
  • राज्य सरकार को ई-शासन उपक्रमों के कार्यान्वयन के समर्थ बनाना।
  • अस्पतालों तथा नैदानिक प्रयोगशालाओं को मरम्मत एवं अनुरक्षण सेवाएँ प्रदान करना।

सन्दर्भ[संपादित करें]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]