रामेन्द्रसुन्दर त्रिवेदी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
आचार्य रामेन्द्रसुन्दर त्रिवेदी

आचार्य रामेन्द्रसुन्दर त्रिवेदी (२० अगस्त १८६४ - ५ जून १९१९) बांग्ला के एक स्वनामधन्य विज्ञान लेखक थे। उनके पूर्व बंगाल में बांग्ला भाषा में विज्ञान चर्चा के लिए उपयुक्त परिवेश नहीं था। बंगीय साहित्य परिषद के कार्य एवं विकास में उन्होने महान योगदान किया।

कृतियाँ[संपादित करें]

  • जिज्ञासा (१९०४)
  • बङ्गलक्ष्मीर ब्रतकथा (१९०६)
  • चरित कथा (१९१३)
  • शब्दकथा (१९१७)
  • बिज्ञान ज्योतिष समाज
  • धर्म्मेर जय
  • ऐतरेय ब्राह्मण
  • जगत् कथा
  • कर्म्म-कथा
  • बिचित्र जगत्
  • प्राकृतिक बिज्ञानेर स्थूल मर्म्म
  • माया-पुरी

इत्यादि।