रामपाल (हरियाणा)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
संत रामपाल
जन्म रामपाल सिंह जतिन
8 सितम्बर 1951 (1951-09-08) (आयु 67)
धनाना , पंजाब (अभी हरियाणा), भारत में
राष्ट्रीयता भारतीय
अन्य नाम बाबा रामपाल ,रामपाल दास
व्यवसाय कबीर पंथ समुदाय के संस्थापक
वेबसाइट
jagatgururampalji.org

रामपाल (अंग्रेजी :Rampal) एक विवादित भारतीय आध्यात्मिक गुरु है जो हिसार केंद्रीय कारावास में आजीवन कारावास की सजा के लिए बंद है ।[1][2] ये स्वयं को कबीर पंथ के अनुयायी और कबीर का अवतार बताते हैं ।[3][4] ये सतलोक आश्रम के स्थापक भी है जो कि भारतीय राज्य हरियाणा के हिसार क्षेत्र में स्थित है।

विवाद[संपादित करें]

सन् २००६ में रामपाल के [5] करौथा के सतलोक आश्रम पर आर्य समाज के हजारो समर्थको ने १२ जुलाई२००६ को हमला कर दिया जिससे एक टकराव की स्थिति पैदा हुई जिससे इस विवाद में एक आक्रमणकारी की जान चली गई थी , जिसमें संतरामपाल के विरुद्ध एक झुठा केस चलाया गया। लेकिन इनके समर्थकों ने हिसार [6] कोर्ट में बवाल मचा दिया था जिसके कारण केस को हाईकोर्ट में चलाना [7] पड़ा था। उस वक़्त उच्च न्यायालय के बार - बार बुलाने [8] पर भी रामपाल हाजिर नहीं हुए थे हमेशा बहानेबाजी कर के बचते रहे। [9]

एक बार जुलाई २००६ में ग्रामीण लोगों के [10] साथ एक लड़ाई झगड़ा हुआ इस दौरान जब पुलिस रामपाल को गिरफ्तार करने को आई [11] तो इनके हजारों समर्थक आश्रम में जमा हो गए थे और रामपाल तक पुलिस का पहुंचना मुश्किल कर [12] दिया था। इसके बाद सन् २०१३ में करोनथा गांव में [13] उनके आश्रम में झड़प हुई थी जिसमें २ लोगों की जाने गई थी तथा कुछ अन्य लोग भी घायल हुए थे। [14]

कुछ समाचार पत्रों ने लिखा था कि रामपाल के एक समर्थक ने कहा था [15] कि -

इनके अलावा इनके समर्थकों ने [16] यह भी बतलाया था कि बाबा तो पशुओं से बातें करते हैं। [17]

इनके अलावा रामपाल कई चर्चाओं में भी घिरे रहे २००६ में स्वामी दयानंद पर एक बयान दिया था इस कारण आर्य समाज के समर्थकों और रामपाल के समर्थकों के बीच आश्रम के बाहर हिंसक वार्ता झड़प हुई थी जिसमें एक महिला की मौत होनी की ख़बरें आई थी। इस मामले में हरियाणा पुलिस ने रामपाल को हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया था जिसके कारण इन्हें तकरीबन २२ महीने तक कारागृह में रहना पड़ा था। २२ महीनों के पश्चात रामपाल को ३० अप्रैल २००८ को पुलिस ने इन्हें रिहा कर दिया था। रामपाल और उसके समर्थकों 11 अक्तुबर 2018 को हत्या के दो मामलों में हिसार कोर्ट द्वारा दोषी करार दिया एवं आजीवन कारावास की सजा सुनाई।[18]

जीवन[संपादित करें]

रामपाल का जन्म सोनीपत के धनाणा गांव में १९५१ में हुआ था। इन्होंने अपनी शिक्षा पूर्ण करने के तत्पश्चात हरियाणा सरकार के सिंचाई विभाग में अभियंता बन गए थे। उन्हीं दिनों में रामपाल सत्संग करने में रूचि लेने लगे और संत रामपाल दास बन गए थे।

सन् २००० में रामपाल ने अपने अभियंता पद से स्तीफा दे दिया और बाद में करोंथा गांव में सतलोक आश्रम की स्थापना की थी , हालांकि इनके गिरफ्तार होने के बाद आश्रम सरकार के क़ब्ज़े में है।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Self-styled 'godman' Rampal in deep trouble, faces fresh murder charges". DNA India. 21 November 2014.
  2. "Rampals army was armed to the teeth". Times of India. 21 November 2014.
  3. "Self-styled 'godman' Rampal in deep trouble, faces fresh murder charges". DNA India. 2014-11-21.
  4. "Rampals army was armed to the teeth". Times of India. 2014-11-21.
  5. दैनिक भास्कर (२०१४). "रामपाल के आश्रम में मिले कंडोम और अश्लील ..." अभिगमन तिथि 25 जून 2016.
  6. दैनिक भास्कर (2014). "रामपाल के चौंकाने वाले तहखाने और महिला ..." अभिगमन तिथि 25 जून 2016.
  7. नवभारत टाइम्स (2014). "रामपाल मसाज के साथ पूल में करते थे ..." अभिगमन तिथि 25 जून 2016.
  8. प्रदेश 18. "पढ़िए, 5500 पन्नों की चार्जशीट में पुलिस ने खोले ..." अभिगमन तिथि 25 जून 2016.
  9. आजतक (2014). "रामपाल के कमरे से मिली प्रेग्नेंसी टेस्ट किट". अभिगमन तिथि 25 जून 2016.
  10. आजतक (2014). "संत रामपाल के बाबा बनने तक की कहानी". अभिगमन तिथि 25 जून 2016.
  11. ऑलराइट. "खत्म हुआ ड्रामा बाबा रामपाल का पर्दाफाश". अभिगमन तिथि 25 जून 2016.
  12. दैनिक जागरण. "एक कमरे में रहते थे रामपाल और बबीता". अभिगमन तिथि 25 जून 2016.
  13. नवभारत टाइम्स. "रामपाल समर्थकों ने पेश किया 'बरवाला का सच'". अभिगमन तिथि 25 जून 2016.
  14. आजतक (2014). "रामपाल की तिलस्मी दुनिया का पर्दाफाश". अभिगमन तिथि 25 जून 2016.
  15. दैनिक भास्कर (2014). "रामपाल ने कैसे बनाया 'सतलोक', पुलिस निकाल रही तोड़". दैनिक भास्कर. हरियाणा. अभिगमन तिथि 25 जून 2016.
  16. सबगुरु. "संत रामपाल के मायालोक का चौंकाने वाला सच ..." अभिगमन तिथि 25 जून 2016.
  17. क्राइम एक्सप्रेस. "खुलासाः कर्इ महिलाओं से थे रामपाल के शारीरिक सम्बन्ध". अभिगमन तिथि 25 जून 2016.
  18. "Sant Rampal, 14 others sentenced to life for murder of four women". The Hindu. 16 October 2018. अभिगमन तिथि 16 October 2018.