राज-पुरोहित

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

राजपुरोजित या राजगुरु या राजपंडित या राजपुजारी किसी राजा के दरबार में धार्मिक कार्य करने वाले आदमी को कहते हैं। राजपुरोहित मारवाड़ की प्रमुख जाती हैं यह भगवान श्री खेतेश्वर महाराज के उपदेशों पर चलते है यह रघुनाथ जी को श्रेष्ठ मानते है