राजेंद्र नारायण सिंह देव

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
महाराजा
राजेन्द्र नारायण सिंह देव
KCIE
ରାଜେନ୍ଦ୍ର ନାରାୟଣ ସିଂହଦେଓ
RNS-Deo.jpg

पद बहाल
8 मार्च 1967 – 9 जनवरी 1971
पूर्वा धिकारी सदाशिव त्रिपाठी
उत्तरा धिकारी बिश्वनाथ दास

जन्म 31 मार्च 1912
बालंगीर, सेन्ट्रल प्रोविन्स
मृत्यु 23 फ़रवरी 1975(1975-02-23) (उम्र 62)
राजनीतिक दल स्वतंत्र पार्टी
अन्य राजनीतिक
संबद्धताऐं
गणतंत्र परिषद
जीवन संगी कैलाश कुमारी देवी
बच्चे 2 पुत्र (राज राज सिंह देव,
अनंग उदय सिंह देव)
तथा 4 पुत्रियाँ
शैक्षिक सम्बद्धता मेयो कॉलेज,
सेन्ट कोलम्बा कॉलेज, हजारीबाग
पेशा राजनेता

राजेन्द्र नारायण सिंह देव (३१ मार्च १९१२ – २३ फ़रवरी १९७५) के राजनीतिज्ञ थे।  वो १९५० से १९६२ तक गणतंत्र परिषद् राजनैतिक दल के अध्यक्ष थे। १९६२ में गणतंत्र परिषद् का विलय समाजवादी पार्टी में हो गया और वो समाजवादी पार्टी की ओडिशा शाखा के अध्यक्ष बने। १९६७ से १९७१ तक वो ओडिशा के मुख्यमंत्री रहे।[1][2]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "नवीन पटनायक लगातार चौथी बार ओडिशा का मुख्यमंत्री बनने वाले पहले नेता". एनडीटीवी इंडिया. २१ मई २०१४. मूल से 29 जुलाई 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि २९ जून २०१४.
  2. "Bio-Data of Chief Ministers of Orissa" (PDF). मूल से 25 मई 2010 को पुरालेखित (PDF). अभिगमन तिथि 29 जून 2014.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

पूर्वाधिकारी
सदाशिव त्रिपाठी
ओडिशा के मुख्यमंत्री
८ मार्च १९६७ – ९ जनवरी १९७१
उत्तराधिकारी
विश्वनाथ दास