राजीव गाँधी हत्या

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

21 मई 1991 को सुबह 10 बजे के करीब एक महिला राजीव गांधी के पांव छूने के लिए जैसे ही झुकी उसके शरीर में लगा आरडीएक्स फट गया और गांधी की मौत हो गई। उस समय राजीव तमिलनाडु के श्रीपैराम्बदूर में चुनाव प्रचार के लिए गए थे। यह आत्मघाती हमला लिट्‍टे ने किया था।[1]

सन्दर्भ[संपादित करें]