सामग्री पर जाएँ

राजस्थान का भूगोल

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से

राजस्थान भारत का क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे बड़ा राज्य है। इसकी राजधानी जयपुर है, जिसे गुलाबी नगरी के नाम से भी जाना जाता है। राज्य का क्षेत्रफल 3 42 239 वर्ग किमी है। राजस्थान का क्षेत्रफल वर्गमील में 1,32,139. हैं। जो भारत का 1/10वां भाग हैं। राजस्थान भारत में उत्तर-पश्चिम भाग में स्थित हैं। राजस्थान का क्षेत्रफल विश्व के क्षेत्रफल के 0.25 प्रतिशत है भारत के क्षेत्रफल का 10.41 प्रतिशत है

जनसंख्या[संपादित करें]

कुल जनसंख्या 79,502,477 है। पुरुष 41,235,725 व महिला 38,266,753

[1]

भौगोलिक प्रदेश[संपादित करें]

राजस्थान के भोगोंलिक प्रदेशों का निर्धारण सर्वप्रथम प्रो वी.सी मिश्रा ने" राजस्थान का भूगोल"नामक पुस्तक में किया, जिसका प्रकाशन नेशनल बुक ट्रस्ट द्वारा १९६८ में किया गया सको भौगोलिक रूप से चार बड़े भागों में बाँटा गया है। 1.पश्चिम का थार मरुस्थल 2.अरावली पर्वतमाला 3.पूर्व का मैदान 4.दक्षिण पूर्व हाड़ौती का पठार[2]

राजस्थान के भौतिक प्रदेश

1. उत्तरी-पश्चिमी मरुस्थलीय क्षेत्र (क)महान मरुभूमि/ शुष्क मरुस्थल क्षेत्र (a) बालुका स्तूप युक्त प्रदेश (b) बालुका स्तूप मुक्त प्रदेश (ख) अर्द्ध शुष्क मरुस्थल क्षेत्र (a) घग्घर का मैदान (b) शेखावाटी प्रदेश (c) नागौरी उच्च भूमि (d) लूनी बेसिन

2. मध्यवर्ती अरावली पर्वतीय प्रदेश (a) उत्तरी अरावली (b) मध्य अरावली (c) दक्षिणी अरावली

3. पूर्वी मैदानी प्रदेश (a) बाणगंगा बेसिन (b) चम्बल बेसिन (c) बनास बेसिन (d) माही बेसिन

4. दक्षिणी -पूर्वी पठारी क्षेत्र (a) लावा का पठार (b) विध्यन कगार भूमि

भौगोलिक स्थिति[संपादित करें]

भारत के उत्तरी पश्चिम भाग में स्थित है। राजस्थान की भौगोलिक स्थिति जटिल है।राजस्थान की अंतरराष्ट्रीय सीमा पाकिस्तान के साथ लगती है जिसकी लंबाई 1070 किमी है जिसे रेडक्लिफ रेखा कहते है रेडक्लिफ रेखा का निर्धारण सर माइकल रेडक्लिफ ने 7 अगस्त 1947 को किया तथा अंतरराज्यीय सीमा सबसे कम पंजाब 89km, हरियाणा 1262km,उत्तर प्रदेश 877km , सबसे ज्यादा मध्य प्रदेश 1600km तथा गुजरात 1022km के साथ लगती है। कर्क रेखा इसके दक्षिणी भाग में बांसवाडा के मध्य और डुंगरपुर जिले के चिखली गांव को स्पर्श करती हुई गुजर रही है। इस की कुल लम्बाई बांसवाङा में 26 किमी तथा डुंगरपुर में 8 किमी है इसका विस्तार 23°03' उत्तरी अक्षांश से 30°12' उत्तरी अक्षांश अक्षांशिय विस्तार 7°9 है) तक कुल लंबाई 826 कि॰मी॰ व राजस्थान 69°30' पूर्वी देशांतर से 78°17' पूर्वी देशांतर के मध्य स्थित है ( देशांतरिय विस्तार 8°47) कुल चौड़ाई 869 कि॰मी॰ का है। तथा राजस्थान के उत्तर पश्चिम से दक्षिण पूर्वी की लंबाई 850km और उत्तर पूर्वी से दक्षिण पश्चिम की 784km है

जलवायु[संपादित करें]

राजस्थान की जलवायु उष्ण है। गर्मियों में तापमान 25 से 46 डिग्री सेंटीग्रेड रहता है। सर्दियों में यह 4 से 28 के मध्य रहता है।[3][4]

राजस्थान वन नीति 2023 का प्रादुर्भाव हुआ । रूप से शुष्क और अर्ध-शुष्क है और भारतीय थार मरूस्थल का एक हिस्सा है, जिसका 61 प्रतिशत भू–भाग राजस्थान में स्थित है। अरावली के पूर्व का क्षेत्र और दक्षिण-पश्चिमी भाग कृषि जलवायु परिस्थितियों की दृष्टि से बेहतर है और राजस्थान के विकसित जंगलों का आश्रय है।

सम्भाग व जिले:राजस्थान में 10 सम्भाग व 50 जिले हैं। राजस्थान के संभाग व जिलों के नाम:-[संपादित करें]

1.जयपुर संभाग- जयपुर(राजस्थान की राजधानी), जयपुर(ग्रामीण), दूदू, कोटपुतली -बहरोड़, दौसा,  खैरथल -तिजारा, अलवर

2.जोधपुर संभाग- जोधपुर, जोधपुर(ग्रामीण), फलौदी, जैसलमेर, बाड़मेर, बालोतरा

3.भरतपुर संभाग- भरतपुर, धौलपुर,  करौली,  डीग,  गंगापुरसिटी, सवाईमाधोपुर

4.अजमेर संभाग- अजमेर, ब्यावर, केकड़ी, टोंक, नागौर, डीडवाना – कुचामन, शाहपुरा(गंधेरी)

5.कोटा संभाग- कोटा, बूंदी,  बारां,  झालावाड़

6.बीकानेर संभाग- बीकानेर, हनुमानगढ़,गंगानगर,अनूपगढ़

7.पाली संभाग - पाली, जलोर , साँचोर , सिरोही

8.बासवाडा संभाग - बसवाडा, डूंगरपूर, प्रतापगढ़

9. सीकर संभाग - सीकर, झुंझुनू, नीम का थाना, चुरू

10. उदयपुर संभाग - उदयपुर, चित्तौड़गड, राजसमंद, भीलवाडा, सलूमबर ।


धनराज बैरवा(लोदिया)

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "संग्रहीत प्रति". मूल से 6 फ़रवरी 2020 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 26 अप्रैल 2020.
  2. "संग्रहीत प्रति". मूल से 4 जुलाई 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 26 अप्रैल 2020.
  3. "संग्रहीत प्रति". मूल से 6 फ़रवरी 2020 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 26 अप्रैल 2020.
  4. Pardesh, Aapno. "राजस्थान की जलवायु" (अंग्रेज़ी में). अभिगमन तिथि 2020-05-23.

धनराज बैरवा (लोदिया)