राजवंशी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

भारत का एक प्राचीन राजवंशी (अंग्रेज़ी: Rajvanshi) यह लोग प्राचीन काल मेंं शिवलिंग को कंधा पर रखा करते थे। नाग कुल के नाग राजाओं ने अपने धार्मिक अनुष्ठान के समय मेंं शिवलिंग को अपने कन्धोंं पर उठाकर शिव को सम्मानित करते थे|

उत्तर भारत गंगा घाटी विंध्य क्षेत्र कान्तिपुर और मिर्ज़ापुर मेंं इनकी राजधानी थी। काशी (वाराणसी) मेंं गंगा तट पर दश अश्व मेघ यज्ञ किये जिसके कारण भार वहन करने से इनका नाम भारशिव पड़ा और काशी (वाराणसी मेंं) दशाश्वमेघ घाट आज भी प्रसिध्द एवं मौजूद है। कालान्तर युग में ये लोग अवध क्षेत्र में व विंध्य क्षेत्र में राजभर नाम प्रचलित हुये | निचों का काम है राजभरो के इतिहास को बिगाड़ना।