राकेश के॰ जैन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
राकेश के॰ जैन
आवास संयुक्त राज्य अमेरिका
क्षेत्र रासायनिक अभियांत्रिकी, जैव अभियांत्रिकी, ट्यूमर जीवविज्ञान
संस्थान हार्वर्ड मेडिकल स्कूल, मैसाचुसेट्स जनरल अस्पताल
शिक्षा डेलावेयर विश्वविद्यालय, भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान कानपुर
डॉक्टरी सलाहकार जेम्स वी
अन्य अकादमी सलाहकार पिएत्रो एम गुलिनों
प्रसिद्धि ट्यूमर पैथोफिजियोलॉजी, ट्यूमर सामान्यीकरण
उल्लेखनीय सम्मान

गुग्नेइनिम फैलोशिप(1983)
फौंडिंग फ़ेलो, अमेरिकी चिकित्सा और जैव इंजीनियरिंग संस्थान (1992)
आउटस्टेंडिंग इंवेस्टिगेटर ग्रांट, एनआईएच (1993; 2015)
व्हिटेकर गणमान्य व्याख्याता, बायोमेडिकल इंजीनियरिंग सोसायटी(1995)
यूजीन एम लैंडिस अवार्ड, माइक्रोसर्कुलेटरी सोसाइटी (1996)
राष्ट्रीय चिकित्सा अकादमी (2003)
नेशनल एकेडमी ऑफ इंजीनियरिंग(2004)
एकेडमिक साइंटिस्ट ऑफ दि ईयर, 2005 फार्मास्टूकल्स एचिवमेंट अवार्ड (2005)
बेंजामिन ज्वेफाइक विशिष्ट व्याख्यान, दि सिटी कॉलेज, न्यूयॉर्क(2006)
अमेरिकी कला एवं विज्ञान अकादमी द्वारा प्रशंसित(2008)
नेशनल एकेडमी ऑफ साइंसेज (2009)
एस्को साइंस ऑफ ओंकोलोजी अवार्ड एंड लेक्चर (2012)
प्रिंसेज तक्मांसु व्याख्यान / अवार्ड,

अमेरिकन कैंसर रिसर्च एसोसिएशन (2014)
नेशनल मेडल ऑफ साइंस (2016)

राकेश के॰ जैन भारतीय मूल के एक अमेरिकी वैज्ञानिक प्रोफेसर हैं। वे हार्वर्ड मेडिकल स्कूल के मैसाचुसेट्स जनरल हॉस्पिटल में ट्यूमर बायोलॉजी के प्रोफेसर हैं। 19 मई, 2016 को उन्हें अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने ‘नेशनल मेडल ऑफ साइंस’ से सम्मानित किया। यह पुरस्कार प्रतिवर्ष विज्ञान, प्रौद्योगिकी एवं गणित के क्षेत्र में अभूतपूर्व योगदान प्रदान करने वाले व्यक्तियों को दिया जाता है। आईआईटी कानपुर के छात्र रहे जैन को ट्यूमर बायोलोजी पर कार्य खासकर रसोली रक्त वाहिकाओं के बीच संबंध तथा कीमाथेरेपी एवं विकिरण उपचार के प्रभावों में सुधार पर अनुसंधान के लिए कई पुरस्कारों से नवाजा जा चुका है। उन्होंने 1972 में आईआईटी कानुपर में केमिकल इंजीनियरिंग में बी टेक की डिग्री ली थी।[1][2] [3][4]

सन्दर्भ[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

  • बायोडेटा हार्वर्ड मेडिकल स्कूल में (अँग्रेजी)